तालाब में डूबने से एक ही परिवार के दो मासूम बच्चों की दर्दनाक मौत, आधा घण्टे तक सर्च ऑपरेशन चलाने के बाद मिले शव

0
1570
सांकेतिक फोटो।

* पन्ना जिले के महेवा ग्राम हुआ हृदय विदारक हादसा

* पीड़ित परिवार में मचा कोहराम, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

पन्ना। (www.radarnews.in) मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में दो मासूम बच्चों की तालाब में डूबने से दर्दनाक मौत हो गई। यह हृदय विदारक हादसा शनिवार 11 जनवरी को महेवा ग्राम में दोपहर करीब एक बजे हुआ। मृत बच्चे महेवा के प्रतिष्ठित पटेल परिवार से हैं। दोनों बच्चे अपने घर से खेलने के लिए निकले थे लेकिन वे अपने एक अन्य हम उम्र दोस्त के साथ तालाब पहुँच गए। जहाँ पानी में अठखेलियाँ करते समय अमर चौधरी पुत्र अर्जुन चौधरी 4 वर्ष एवं आदित्य चौधरी पुत्र संतोष चौधरी उम्र साढ़े तीन वर्ष तालाब में डूब गए। दोनों बच्चों के तालाब में डूबने की जानकारी उनके साथी के द्वारा अपने घर पहुंचकर परिजनों को दी गई लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। इस हादसे के बाद से पीड़ित परिवार में कोहराम मचा है। मृत बच्चों के माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। हादसे के बाद से महेवा ग्राम समेत आसपास के इलाके में शोक की लहर व्याप्त है। अमानगंज थाना पुलिस ने इस दुखद घटना पर मर्ग कायम कर मामले को विवेचना में लिया है।
जिले के अमानगंज थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम महेवा में शनिवार को दोपहर करीब डेढ़ बजे उस समय हड़कंप मच गया जब सोनू खरे का चार वर्षीय पुत्र डग्गू दौड़ते-भागते हुए अपने घर पहुंचा और उसने हाँफते हुए अपनी दादी को बताया कि उसके दोस्त अमर चौधरी पुत्र अर्जुन चौधरी 4 वर्ष एवं आदित्य चौधरी पुत्र संतोष चौधरी उम्र साढ़े तीन वर्ष गांव के तालाब में डूब गए हैं। एक ही परिवार के दो मासूम बच्चों के तालाब में डूबने का पता चलते ही बड़ी तादाद में लोगों की भीड़ वहाँ जमा हो गई। बच्चों के पानी की ऊपरी सतह पर कहीं नजर न आने पर आनन-फानन में तकरीबन 20 ग्रामीणों ने कड़ाके की सर्दी में तालाब के बर्फ से ठण्डे पानी में उतरकर तलाश शुरू की। इस दौरान तालाब के आसपास जमा लोग मासूम बच्चों की सलामती के लिए दुआएं मांगते रहे। करीब आधा घण्टे तक चले सघन सर्च ऑपरेशन के बाद दोनों बच्चों, अमर चौधरी 4 वर्ष एवं आदित्य चौधरी उम्र साढ़े तीन वर्ष को अचेत अवस्था में तालाब के पानी से बाहर निकाला गया। दोनों की जान बचाने के लिए उन्हें बिना किसी देरी के समुचित इलाज हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अमानगंज ले जाया गया। ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने दोनों बच्चों का सघन परीक्षण करने के उपरान्त उन्हें मृत घोषित कर दिया।
महेवा चौकी प्रभारी प्रियंका पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को दोपहर करीब 12 बजे गांव के तीन बच्चे, अमर चौधरी पुत्र अर्जुन चौधरी 4 वर्ष, आदित्य चौधरी पुत्र संतोष चौधरी उम्र साढ़े तीन वर्ष एवं डग्गू खरे पुत्र सोनू खरे 4 वर्ष अपने घरों से खेलने के लिए निकले थे। खेलते-खेलते तीनों गांव के तालाब पहुँच गए जहाँ पानी में डूबने से अमर चौधरी एवं आदित्य चौधरी उम्र साढ़े तीन वर्ष की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि अपने दोनों दोस्तों को तालाब के पानी में डूबता हुआ देख डग्गू खरे 4 वर्ष काफी घबरा गया। उसने आसपास के लोगों को इस घटना की जानकारी नहीं दी। जिससे मासूम बच्चों को समय रहते नहीं बचाया जा सका। डग्गू भागते हुए करीब आधा किलोमीटर दूर अपने घर पहुंचा जहाँ उसने अपनी दादी को हादसे के बारे में बताया। कुछ ही पलों में यह सनसनीखेज खबर पूरे गाँव में फ़ैल गई। हालांकि, सर्च ऑपरेशन चलाकर दोनों बच्चों को जब तक पानी से बाहर निकाला गया तब तक काफी देर हो चुकी थी। अमानगंज थाना पुलिस ने इस घटना पर मर्ग कायम कर मामले को जाँच में लिया है।