Homeबुंदेलखण्डकांग्रेस देश का भावनात्मक विभाजन करने के लिए फैला रही भय और...

कांग्रेस देश का भावनात्मक विभाजन करने के लिए फैला रही भय और भ्रम : उमा भारती

* पन्ना में नागरिका संशोधन कानून के समर्थन में बीजेपी की संगोष्ठी संपन्न

* पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री भारती ने कांग्रेस और गाँधी परिवार पर जमकर बोला हमला

पन्ना। कांग्रेस पार्टी के नेता नागरिकता संसोधन कानून के संबंध में षड़यंत्रपूर्वक भय और भ्रम फैलाकर देश के भावनात्मक विभाजन का माहौल बनाने का प्रयास कर रहे हैं। राहुल और प्रियंका जिन्ना की भूमिका निभा रहे हैं। देश में अफवाह फैलाकर इन लोगों ने ऐसा माहौल बना दिया है कि हमें सच्चाई बताने के लिये जनता के बीच जाना पड़ रहा है। यह आरोप भाजपा की वरिष्ठ नेत्री व पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री उमा भारती ने गुरूवार 9 जनवरी को म.प्र. के पन्ना जिला मुख्यालय में नागरिकता संशोधन विधेयक के समर्थन में आयोजित संगोष्ठी को संबोधित करते हुये लगाए हैं। उन्होंने कांग्रेस पर जोरदार हमला करते हुये कहा कि वोट के लिये ये लोग अल्पसंख्यकों में भय का वातावरण निर्मित कर रहे हैं। सुश्री भारती ने कहा कि कांग्रेसी भय पैदा कर वोट लेना चाहते हैं, इसलिये इन डराने वाले लोगों की जमानत जब्त करायें।

सर्व-धर्म समभाव पर विश्वास

पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री भारती ने नागरिकता संशोधन विधेयक की सराहना करते हुये कहा कि इससे देश के किसी भी नागरिक को डरने की जरूरत नहीं है। इस विधेयक से देश की एकता को कोई नुकसान नहीं होगा। आपने कहा कि अल्पसंख्यकों को हम वोट की नजर से नहीं देखते, हमारे मन में लालच नहीं है। देश को यदि स्वस्थ रखना है तो एक जन, एक मन रखना होगा। सुश्री भारती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जिक्र करते हुये कहा कि दुनिया के मुस्लिम देशों में सबसे ज्यादा पापुलर नेता यदि कोई है तो वे हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं। सुश्री भारती ने कहा कि भारत अखण्ड रहेगा क्योंकि जो खण्ड-खण्ड हुआ है उसे भी लाने की हमारी तैयारी है। आपने यह भी कहा कि भारत को हम हिन्दू राष्ट्र नहीं बनाना चाहते, क्योंकि भारत हिन्दू राष्ट्र है। यहां की सांस्कृतिक विरासत को खत्म नहीं किया जा सकता। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सर्व धर्म समभाव पर विश्वास करने वाले लोग हैं।

राष्ट्र विरोधी और घुसपैठिये बर्दाश्त नहीं

संगोष्ठी को संबोधित करते हुये उमा भारती ने कहा कि भाजपा मिस्डकाल और एसएमएस से बनी पार्टी नहीं अपितु संघर्ष, मेहनत और समॢपत कार्यकर्ताओं के पसीने से बनी है। इसलिये देश विरोधी कार्य करने वाले उपद्रवियों के खिलाफ जहां कड़ी कार्यवाही होगी, वहीं देश की संपत्ति को नुकसान पहुँचाने वाले लोगों से नुकसानी की वसूली की जायेगी। उ.प्र. में इसकी शुरूआत की जा चुकी है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि 1947 में जब देश का धर्म के आधार पर विभाजन हुआ उस समय मुसलमान भारत छोड़कर पाकिस्तान क्यों नहीं गये, क्योंकि वे जानते थे कि हिन्दुओं से अच्छा पड़ोसी और हिन्दुस्तान से अच्छा देश उन्हें कहीं नहीं मिलेगा। हम धर्म के मामले में उदार रहेंगे लेकिन राष्ट्र की एकता और अखण्डता के मामले में आक्रामक होंगे और राष्ट्र विरोधी लोगों को उखाड़कर फेकेंगे। सुश्री भारती ने कहा कि हम घुसपैठियों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

लोगों को बता रहे वास्तविकता

संगोष्ठी में अपने उदगार व्यक्त करते हुए खजुराहो सांसद विष्णु दत्त शर्मा।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक से किसी को भी डरने की जरूरत नहीं है, कांग्रेसियों और वामपंथियों द्वारा अफवाहें फैलाई जा रही हैं। इसीलिये जनता के बीच जाकर हम यह बताने का प्रयास कर रहे हैं कि यह साँप नहीं रस्सी है। इस तरह के कार्यक्रम टॉर्च डालकर सच्चाई दिखाने का प्रयास है ताकि लोग वास्तविकता जान सकें। संगोष्ठी को क्षेत्रीय सांसद वी.डी. शर्मा ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर पन्ना विधायक बृजेन्द्र प्रताप सिंह, पवई विधायक प्रहलाद लोधी, भाजपा जिलाध्यक्ष रामबिहारी चौरसिया भी मंचासीन रहे। संगोष्ठी का संचालन भाजपा नेता जयप्रकाश चतुर्वेदी ने किया।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments