वारदात | पत्नी से अवैध सम्बंध के संदेह में साढ़ू भाई की गोली मारकर हत्या ? पन्ना जिले में 3 दिन में हत्या की 2 वारदातों से फैली सनसनी

0
1537
हत्या की सूचना मिलने के बाद घटनास्थल पर पहुँचे पुलिस अधिकारी शव का मुआयना करते हुए।

* पन्ना जिले के अजयगढ़ थाना क्षेत्र की घटना

* थाना पुलिस की हिरासत में आरोपी ने कबूल की वारदात

पन्ना(अजयगढ़)। रडार न्यूज  मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना को लेकर व्याप्त चर्चाओं के अनुसार रतन साहू की हत्या उसके ही सगे रिश्तेदार ने की है। कथित तौर पर आरोपी करण साहू को ऐसा संदेह था कि उसकी पत्नी और साढ़ू के बीच नाजायज सम्बंध हैं। जिले के अजयगढ़ कस्बा में सोमवार-मंगलवार की दरम्यानी रात हुई हत्या की इस वारदात का आज 7 मई की सुबह पता चलने पर सनसनी फैल गई। स्थानीय थाना पुलिस ने संदेह के आधार पर मृतक रतन साहू पुत्र कलकाई साहू 40 वर्ष की साली के पति करण साहू को हिरासत में लेकर जब पूँछताँछ की गई तो उसने कथित तौर पर अपना जुर्म कबूल कर लिया। हालाँकि समाचार लिखे जाने तक रतन की हत्या के मामले में उसके सगे रिश्तेदार को हिरासत में लिए जाने और घटना की वजह की आधिकारिक तौर पुलिस द्वारा पुष्टि नहीं की गई थी।

पार्टी करने गया था फिर वापिस घर नहीं लौटा

घटनास्थल पर जाते अजयगढ़ एसडीओपी।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रतन साहू अजयगढ़ में रहता था। उसका एक मकान कस्बा से दूर सोसायटी के पीछे स्थित है। जिसमें उसकी साली अपने परिवार के साथ रहती है। रतन का अपनी साली के घर अक्सर आना-जाना रहता था। सोमवार की रात करीब 8 बजे वह अपने घर से मोटरसाइकिल लेकर यह कहकर निकला था कि खाना नहीं खाऊँगा, आज हमारी पार्टी है। रतन रात्रि में वापिस घर नहीं लौटा। मंगलवार 7 मई की सुबह परिजनों को सूचना मिली कि रतन मृत अवस्था में रामस्वरूप कोंदर के खेत में पड़ा है। परिजन आनन-फानन जब वहाँ पहुँचे खून से लथपथ हालत में रतन साहू की लाश पड़ी थी। उसके सिर में गोली मारने जैसा गहरा घाव पाया गया। इस वारदात की प्रारम्भिक विवेचना में सामने आए तथ्यों के आधार पर अजयगढ़ थाना पुलिस ने मृतक रतन की साली के पति करण साहू को हिरासत में लिया है। अपुष्ट सूत्रों से पता चला है कि करण ने अपना जुर्म सहजता से स्वीकार करते हुए पुलिस को बताया कि रतन आए दिन उसके घर पर शराब पीकर आता था और गालीं-गलौंज करता था। इससे परेशान होकर उसने हत्या करने की बात कही है। ऐसी चर्चा है कि मृतक रतन ने ही करीब 2 वर्ष पूर्व अपनी साली का विवाह पड़ोसी जिला छतरपुर के चंदला निवासी करण साहू के साथ कराया था। कुछ माह पूर्व रतन ने अपनी साली और उसके पति को चंदला से अजयगढ़ बुलाकर अपने दूसरे मकान रहने की जगह दी थी। बताते चलें की इस घटना के सम्बंध में प्राप्त जानकारी की पुष्टि करने हेतु पन्ना पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी एवं अजयगढ़ एसडीओपी इसरार मंसूरी से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन उनके मोबाइल फोन रिसीव नहीं हुए।

अपराधियों के हौसले बुलंद

उल्लेखनीय है कि पन्ना जिले में तीन दिन के अंदर हत्या की दूसरी वारदात के सामने आने से चुनावी समय में पुलिस की सजगता पर प्रश्न चिन्ह लग रहा है। अजयगढ़ की वारदात के पूर्व पन्ना जिला मुख्यालय में लोकसभा चुनाव के मतदान के एक दिन पूर्व शनिवार-रविवार की दरम्यानी रात पहाड़कोठी में इरफान पिता स्वर्गीय मुन्ना खान निवासी आगरा मोहल्ला पन्ना की पत्थर पटककर नृशंस हत्या किए जाने की सनसनीखेज घटना प्रकाश में आई थी। वहीं कुछ दिन पूर्व जिले के मड़ला थाना अंतर्गत अज्ञात हमलावर एक युवक के ऊपर फायरिंग कर भाग निकले थे। इन घटनाओं को लेकर पुलिस की लचर कार्यप्रणाली और ढुलमुल रवैये की तीखी आलोचना हो रही है। आमजन का मानना है कि पुलिस के हाई अलर्ट पर रहने के दौरान जब अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं तो फिर सामान्य दिनों में क्या होगा, इसका सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। दरअसल, पुलिस का फोकस अपने मूल कार्य पर न होने के कारण इस तरह के हालात बन रहे हैं।