लोकसभा निर्वाचन-2019 : भोपाल समेत प्रदेश के 8 संसदीय क्षेत्र में रविवार 12 मई को होगी वोटिंग

0
646
भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह एवं भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर।

* दिग्विजय सिंह, प्रज्ञा ठाकुर और नरेन्द्र तोमर की प्रतिष्ठा दाँव पर लगी

* सुरक्षा व्‍यवस्‍था के लिये 45 हजार से अधिक सुरक्षाकर्मी तैनात

भोपाल। (www.radarnews.in) लोकसभा निर्वाचन-2019 में प्रदेश में तीसरे चरण में रविवार 12 मई को 8 संसदीय क्षेत्र मुरैना, भिण्ड (अजा), ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल एवं राजगढ़ में मतदान प्रात: 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा। तीसरे चरण के चुनाव में हाईप्रोफाइल भोपाल लोकसभा सीट के मुकाबले पर पूरे देश की नजरें टिकीं हैं। यहाँ पर कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह और भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के बीच सीधा मुकाबला है। मीडिया में इसे सॉफ्ट हिंदुत्व बनाम कट्टर हिंदुत्व की चुनावी जंग बताया जा रहा है। क्योंकि, भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर कट्टर हिंदुत्व का चेहरा हैं, जबकि मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सॉफ्ट हिंदुत्व के लिए जाने जाते हैं। भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर पर पर आतंकी घटनाओं में शामिल होने के बेहद गम्भीर आरोप हैं। वे फिलहाल जमानत पर हैं। मध्यप्रदेश में तीसरे चरण में मुरैना सीट पर भी मतदान होना है। इस सीट पर केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर भाजपा के उम्मीदवार हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के उम्मीदवार रामनिवास रावत से है।

सशस्‍त्र पुलिस बल तैनात

लोकसभा चुनाव में निर्बाध मतदान के लिये केन्‍द्रीय सशस्‍त्र पुलिस बल की 85 कंपनी, राज्‍य सशस्‍त्र पुलिस बल की 30 कंपनी और राज्‍य पुलिस के अधिका‍री-कर्मचारी सहित कुल 45 हजार 53 सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है। किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए 446 Quick Response Teams बनाई गई हैं। इस चरण में आने वाले जिलों के 101 अन्तर्राज्‍यीय तथा 128 अन्तर्जिला नाके सील कर दिये गये हैं। मतदान दलों, सेक्‍टर अधिकारियों एवं पुलिस बल परिवहन के लिये 11 हजार से अधिक वाहन उपयोग में लाये जाएंगे। मतदानकर्मियों को बस द्वारा 11 मई को मतदान केन्‍द्रों के लिये रवाना किया जा चुका है।

चार हजार से अधिक क्रिटिकल मतदान केन्द्र

सांकेतिक फोटो
तीसरे चरण में होने वाले लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में चिन्हित किये गये क्रिटिकल मतदान केन्‍द्रों की संख्‍या 4024 है और 3600 से अधिक मतदान केन्‍द्रों पर वेबकास्टिंग/सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जायेगी। इस चरण में कुल 1720 वल्‍नरेबल क्षेत्रों का चिन्‍हांकन है तथा 3096 बाधा पहुँचाने वाले संभावित व्यक्तियों की पहचान की गई है। मतदान के दिन वल्‍नरेबल क्षेत्रों पर सेक्‍टर अधिकारियों द्वारा विशेष निगरानी रखी जायेगी।

प्रतिबंधात्मक कार्यवाही

कानून-व्‍यवस्‍था बनाये रखने के लिये प्रदेश के तीसरे चरण के लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में 2 हजार 273 व्‍यक्तियों पर प्रतिबंधात्‍मक कार्यवाही की गई है। एक लाख 48 हजार 616 लाइसेंसी हथियार जमा कराये गये हैं। साथ ही 9409 अवैध हथियार जप्‍त किये गये हैं।