अजित पवार के फैसले से एनसीपी का कोई संबंध नहीं, विधायक हमारे साथ, बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे फडणवीस : शरद पवार

0
492
The Hindu

* प्रेसवार्ता में उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर किया तीखा हमला

* बोले- महाराष्ट्र में बीजेपी ने की है फर्जिकल स्ट्राइक 

मुंबई। महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन हटने और देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री पद पर शपथ लेने के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार ने पूरी प्रक्रिया पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने देवेंद्र फडणवीस के साथ शनिवार सुबह उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले अपने भतीजे अजित पवार की भी आलोचना की। शरद पवार ने कहा कि उन्हें अचानक अजित के उप-मुख्यमंत्री बनने का पता चला और उनके फ़ैसले का एनसीपी से कोई संबंध नहीं है। शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में शरद पवार ने कहा कि शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस ने मिलकर सरकार बनाने का फ़ैसला लिया था और उनके पास लगभग 170 विधायकों का समर्थन था। उन्होंने अजित पवार के फ़ैसले को एनसीपी की विचारधारा के ख़िलाफ़ बताया और कहा कि इस संबंध में पार्टी कार्रवाई करेगी। शरद पवार ने यह भी कहा कि फडणवीस विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे।

चिट्ठी का खेल

शरद पवार ने यह दावा भी किया जो भी विधायक अजित के साथ गए थे, वे वापस आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि विधायकों को पता नहीं था कि उन्हें कहां ले जाया जा रहा है और उन्हें शपथ लेने का भी पता नहीं था। प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कुछ विधायक भी शरद पवार साथ थे। पार्टी एमएलए राजेंद्र शिंगने ने इस दौरान कहा कि उन्हें अंदाज़ा नहीं था कि देवेंद्र फडणवीस शपथ लेंगे। शरद पवार ने कहा कि एनसीपी विधायकों के समर्थन की जिस चिट्ठी के आधार पर भारतीय जनता पार्टी ने सरकार बनाने का दावा किया है, उसे ग़लत ढंग से पेश किया गया है।
शरद पवार के मुताबिक़, उस पत्र में 54 विधायकों के हस्ताक्षर थे मगर अजित ने उसका कवर बदल दिया. उन्होंने कहा कि वे लोग सदन में बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे। उन्होंने कहा, “हम सरकार बना सकते हैं, इसमें कोई दो राय नहीं है. सरकार बनाएंगे, नंबर हमारे पास हैं.” एनसीपी प्रमुख ने इन अटकलों को भी ग़लत बताया कि भतीजे अजित इस बात से नाराज़ थे कि शिव सेना के साथ समझौते के तहत ढाई साल सुप्रिया सुले को सीएम बनाने का प्रस्ताव रखा गया था।

उद्धव ठाकरे क्या बोले

Livemint
शिव सेना प्रमुख ने भारतीय जनता पार्टी पर प्रहार करते हुए कहा कि ‘जो खेल चल रहा है, उसे पूरा देश देख रहा है। उन्होंने कहा, “हम जो करते हैं, दिन के उजाले में करते हैं। वो लोगों को तोड़ते हैं, हम जोड़ते हैं। इन्होंने महाराष्ट्र में ‘फ़र्जिकल स्ट्राइक’ की है।”

 साभार : बीबीसी हिन्दी