“मोदी है मुमकिन है” : बीजेपी की ऐतिहासिक विजय, 303 सीटें जीतकर रचा इतिहास

0
639
बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के नायक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुष्पहार से स्वागत करते पार्टी अध्यक्ष अमित शाह एवं वरिष्ठ नेता।

* चुनावी नतीजों पर मोदी ने कहा- देश ने फ़कीर की झोली भर दी

* पहली बार किसी गैर-कांग्रेसी दल की बहुमत के साथ सत्ता में वापसी

* मोदी की सुनामी में डूबे विपक्षी दलों को मिली करारी शिकस्त

* राहुल गाँधी अपनी परम्परागत सीट अमेठी सीट से चुनाव हारे

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने अपने चुनावी इतिहास में पहली बार तीन सौ लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज कराई है। 17वीं लोकसभा के चुनाव के सामने आए नतीजों में भाजपा को 303 और उसके नेतृत्व वाले एनडीए को 352 सीटें मिलीं। जबकि वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा को 282 सीटें मिलीं थीं। देश में ऐसा पहली बार हुआ है, जब किसी गैर-कांग्रेसी पार्टी की बहुमत के साथ सत्ता में दोबारा शानदार वापसी हुई है। इस चुनाव में सबसे अधिक चौंकाने वाली हार कांग्रेस के राष्ट्रिय अध्यक्ष राहुल गांधी की रही। वे केरल की वायनाड सीट तो तो जीत गए, लेकिन गाँधी परिवार का गढ़ कहलाने वाली अमेठी सीट में स्मृति ईरानी ने उन्हें हरा दिया। अमेठी लोकसभा सीट पर 35 साल बाद गांधी परिवार के किसी सदस्य की हार हुई। वर्ष 1984 में राजीव गांधी ने अमेठी में गांधी परिवार की सदस्य और संजय गांधी की पत्नी मेनका को हराया था।
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी।
प्रचण्ड बहुमत से मिली जीत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा- देश ने फकीर की झोली भर दी। राहुल गांधी ने कहा कि जनता मालिक है और मैं जनादेश का सम्मान करता हूं। श्री गाँधी ने मोदी और भाजपा को जीत पर बधाई दी। अमेठी में भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने राहुल को 55 हजार 120 वोटों से हराया। अपनी जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए स्मृति बोलीं- कौन कहता है कि आसमान में सुराख नहीं हो सकता।

मोदी ने कहा- नम्रता विवेक, आदर्श नहीं छोड़ेंगे

चुनावी जीत के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ पार्टी कार्यालय पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा- देश ने फकीर की झोली भर दी। भाजपा की विशेषता है कि हम कभी दो भी हो गए, लेकिन हम कभी अपने मार्ग से विचलित नहीं हुए। आदर्शों को ओझल नहीं होने दिया। ना रुके, ना थके और ना झुके। हम दो हो गए तो भी और आज दोबारा आ गए तो भी। दो से दोबारा आने की यात्रा में अनेक उतार-चढ़ाव आए। दो थे, तब भी निराश नहीं हुए। दोबारा आए तो भी नम्रता विवेक, आदर्श और संस्कार नहीं छोड़ेंगे।

542 निर्वाचन क्षेत्रों में राजनैतिक दलों के प्रदर्शन की स्थिति

दल का नाम
विजयी सीट
आम आदमी पार्टी 1
आजसु पार्टी 1
ऑल इंडिया अन्‍ना द्रविड़ मुन्‍नेत्र कड़गम 1
ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन 2
आल इण्डिया तृणमूल कांग्रेस 22
ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट 1
बहुजन समाज पार्टी 10
भारतीय जनता पार्टी 303
बीजू जनता दल 12
कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया 2
कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्‍ससिस्‍ट) 3
द्रविड़ मुनेत्र कड़गम 23
इंडियन नेशनल कांग्रेस 52
इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग 3
जम्मू एण्ड कश्मीर नेशनल काँफ्रेंस 3
जनता दल (सेक्युलर) 1
जनता दल (यूनाइटेड) 16
झारखण्ड मुक्ति मोर्चा 1
केरल कांग्रेस (एम) 1
लोक जन शक्ति पार्टी 6
मिजो नेशनल फ्रंट 1
नागालैंड पीपुल्स फ्रंट 1
नेशनल पीपुल्‍स पार्टी 1
नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी 5
नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी 1
रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी 1
समाजवादी पार्टी 5
शिरोमणि अकाली दल 2
शिवसेना 18
सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा 1
तेलंगाना राष्ट्रीय समिति 9
तेलुगु देशम 3
युवजन श्रमिक रयाथु कॉंग्रेस पार्टी 22
अन्य 8
कुल 542