‘मेगा म्यूज़िकल नाइट’ | जावेद की दिलकश आवाज ने बिखेरा जादू, मंत्रमुग्ध होकर मस्ती में झूम उठे श्रोता

0
2496
एनएमडीसी लिमिटेड के 'मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट' प्रोग्राम में प्रस्तुति देते जाने-माने प्लेबैक सिंगर जावेद अली और धारणा पावा।

एनएमडीसी लिमिटेड हीरक जयंती वर्ष में आयोजित हुआ गीत-संगीत का कार्यक्रम

प्लेबैक सिंगर जावेद अली ने अपनी प्रस्तुति से महफ़िल को यादगार बनाया 

स्वरलहरियों से सर्द रात हुई रोशन, मस्ती भरे गीतों से जमकर मचाया धमाल

शादिक खान, पन्ना। रडार न्यूज  सोमवार की रात एनएमडीसी लिमिटेड हीरा खनन परियोजना द्वारा आयोजित ‘मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ शो के नाम रही। मझगवां स्थित खेल मैदान पर गुलाबी ठंडक के बीच देर रात तक बॉलीवुड के ख्यात प्लेबैक सिंगर जावेद अली की महफिल जमी रही। रात 8:30 बजे से शुरू हुआ यह कार्यक्रम देर रात 11 बजे तक चला, जिसमें सूफी नगमों, सदाबहार गीतों और खुद जावेद अली द्वारा हिंदी फिल्मों के लिए जो सुपरहिट गाने गाये उन पर श्रोता मस्ती में झूमते हुए गीतों को गुनगुनाते रहे। इस भव्य और गरिमामयी कार्यक्रम को लेकर लोगों में अपार उत्साह देखा गया। फलस्वरूप पन्ना सहित आसपास के जिलों से भी बड़ी संख्या में लोग परिवार और इष्ट मित्रों सहित ‘मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ कार्यक्रम में शामिल होकर आनंद उठाते रहे। इस अवसर पर प्लेबैक सिंगर धारणा पावा ने भी कर्णप्रिय गीतों से स्वर माधुर्य बिखेरकर महफ़िल में शमां बांध दिया। मुंबई से आये मिमिक्री आर्टिस्ट शमीम बादशाह ने अपनी हैरान करने वाली मिमिक्री और कॉमेडी से लोगों को खूब हंसाया। शमीम ने बॉलीवुड के कई मशहूर सितारों की नकल करके हूवहु आवाज में उनके चर्चित डायलॉग सुनाकर जमकर तालियां बटोरीं।

सूफी नगमों के एहसास ने दिल को छुआ

‘मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ कार्यक्रम में आकर्षण का केंद्र रहे सिंगर जावेद अली ने अपने नर्म ओ नाजुक मिजाज, दिलकश अंदाज और जादुई आवाज में सूफी कलाम की ऐसी सौगात पेश की जो सीधे दिल में उतर गई। उन्होंने रॉक स्टार फिल्म के लिए गाया चर्चित सूफी नगमा- “कुन फायाकुन कुन” और “मेरे रश्के कमर तू ने पहली नज़र जब मिलाई मज़ा आ गया।” तथा फिल्म दिल्ली 6 के गीत “मौला मौला मौला मेरे मौला, मरम्मत मुकद्दर की कर दो मौला मेरे मौला।” की दिलकश अदायगी से महफ़िल और माहौल को अपना कायल बना दिया। इन सूफी गीतों में ईश्वर के प्रति भक्त के अटूट प्रेम, विश्वास और मनोकामना पूर्ति को लेकर कृपा की प्रार्थना-याचना के खूबसूरत वर्णन ने श्रोताओं को आत्मिक और भक्ति के रस सराबोर कर दिया। जावेद अली ने पूरी तन्मयता से सूफी गाने गाते हुए श्रोताओं को रूहानी दुनिया की सैर करा दी। इसके अलावा उन्होंने सुपरहिट फिल्म बजरंगी भाईजान का टाइटल सोंग- “तूँ जो मिला तो हो गया मैं काबिल।” फिल्म गजनी का गाना- “तूँ मेरी अधूरी प्यास-प्यास, तूँ आ गई मन को रास-रास।” फिल्म जोधा अकबर का दर्द भरा गीत- “कहने को जश्न-ए-बहारा है….।” सदाबहार पुराने नगमों में- “तुम जो मिल गए हो, तो ये लगता है कि जहां मिल गया।” राजस्थानी फोक सोंग- “केशरिया बालम पधारो म्हारे देश।” सहित कई गीतों की शानदार प्रस्तुति देकर जमकर तालियां बटोरीं। यह जावेद अली की आवाज और अंदाज का ही जादू था कि श्रोता भी झूमते हुए उनके साथ गीतों को गुनगुनाते रहे।

“मैं तेनू समझावां की”

अपनी सुकून देने वाली मखमली आवाज का जादू बिखेरतीं प्लेबैक सिंगर धारणा पावा।

प्लेबैक सिंगर धारणा पावा ने भी कई गानों की खूबसूरत प्रस्तुति से श्रोताओं को बांधे रखा। खासकर हम्प्टी शर्मा की दुल्हनियाँ फिल्म का गीत- “मैं तेनू समझावां की ना तेरे बिना लागदा जी तू की जाने प्यार मेरा मैं करूँ इंतजार तेरा तू दिल तूयों जान मेरी।” फिल्म दम लगा के हईशा का गीत- “मोह-मोह के धागे तेरी उंगलियों से जा उलझे।” फिल्म सुल्तान का प्यार भरा गीत- “जग घूमेया थारे जैसा ना कोई…।” आदि सुमधुर गीतों को पूरे मनोयोग से गाया। कुछ गीतों को जावेद अली और धारणा की युगल जोड़ी ने मस्ती भरे अंदाज में जब पेश किया तो कार्यक्रम में मौजूद लोग मंत्रमुग्ध होकर थिरकने से खुद को रोक नहीं सके। खासकर “कजरारे- कजरारे तेरे कारे कारे नैना” और ‘नगाड़ा-नगाड़ा नगाड़ा बजा’ गीत पर श्रोता मस्ती में सराबोर झूमते हुए नजर आये। इन गीतों पर स्कूली छात्र-छात्राओं ने नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी। स्टेज पर छोटी बच्ची सोनाक्षी पाठक ने ऐसा जबरदस्त डांस किया कि उसकी तारीफ खुद जावेद अली ने की। उपस्थित लोगों ने तालियां बजाकर बच्चों का उत्साह बढ़ाया साथ ही इनके प्रयास को सराहना भी मिली। गीतों की प्रस्तुति के दौरान पीछे बैकग्राउंड में बड़ी सी स्क्रीन पर संबंधित फिल्म के वीडियो चलते रहे। रंग-बिरंगी आकर्षक लाइट के बीच म्यूजिशियन ने वाद्ययंत्रों पर अपनी कला को साबित करते हुए संगीत का ऐसा जादू बिखेरा कि दर्शक-श्रोता मंत्रमुग्ध होकर तालियां बजाते रहे। ‘मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ कार्यक्रम का संचालन मॉडल अंकिता मोरे ने किया। हीरा खनन परियोजना के लिए इस भव्य और शानदार कार्यक्रम का प्रबंधन तमन्ना इवेंट्स एंडएंटरटेनमेंट कंपनी नागपुर ने किया। कार्यक्रम की व्यवस्थाओं की उपस्थित लोगों द्वारा मुक्त कंठ से प्रशंसा की गई।

पन्ना में बहुत प्यार मिला

धमाकेदार रॉकिंग परफॉर्मेंस देते सिंगर जावेद अली।

एनएमडीसी लिमिटेड-60 डायमंड जुबली में पहली बार मैं पन्ना आया हूँ, यहां मुझे बहुत प्यार मिला है। ‘म्यूज़िकल नाइट’ यादगार बने और आपका भरपूर मनोरंजन करूँ इसके लिए मैं अपनी तरफ से पूरी कोशिश करूँगा। यह बात बॉलीवुड के नामचीन प्लेबैक सिंगर जावेद अली ने सोमवार को मझगवां (पन्ना) में कही। उन्होंने कहा कि एनएमडीसी के जश्न के इस माहौल में आपके बीच आकर मुझे बहुत खुशी हुई। पन्ना के लोग बहुत ही सुरीले हैं, कुछ लोगों को सुनने के बाद मुझे यह महसूस हुआ है। उल्लेखनीय है कि ‘मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ के मंच पर सिंगर जावेद अली की जब धमाकेदार इंट्री हुई तो कार्यक्रम स्थल तालियों की गड़गड़ाहट से गूँज उठा। इस सुरीले सिंगर के सम्मान में लोगों ने खड़े होकर अभिवादन किया। ब्लैक जींस, सफेद टी शर्ट और ब्लेजर में वे काफी कूल नजर आ रहे थे। लेकिन सिंगर जावेद अली ने स्टेज पर जिस एनर्जी-अंदाज के साथ डूबकर गीतों पर थिरकते हुए परफॉर्म किया वह काबिले तारीफ रहा। इस कार्यक्रम में पन्ना जिले के प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह सपरिवार उपस्थित रहे। सिंगर जावेद अली की दिलकश आवाज को सुनने और उन्हें नजदीक से देखने के लिए महिलायें, युवा और बच्चे बड़ी तादाद में पहुंचे। गुलाबी ठंडक के बीच देर रात तक गीत-संगीत की इस महफ़िल का रसिक श्रोताओं ने जमकर लुत्फ उठाया।

मध्यप्रदेश गान से हुआ शुभारंभ

मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ प्रोग्राम में उपस्थित अतिथि एवं हीरा खनन परियोजना प्रबंधक राजीव शर्मा।

एनएमडीसी लिमिटेड के 60 वर्ष होने पर हीरक जयंती वर्ष 2018 के उपलक्ष्य में हीरा खनन परियोजना मझगवां में सोमवार 1 अक्टूबर को ‘मेगा स्टार म्यूज़िकल नाइट’ प्रोग्राम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर डीजीएमएस जबलपुर जोन, परियोजना प्रबंधक राजीव शर्मा, उत्तर वन मंडल पन्ना के डीएफओ नरेश सिंह यादव ने किया। इस अवसर पर हीरा खनन परियोजना के उप महाप्रबंधक एमएंडएस के. चंद्रशेखर, उप महाप्रबंधक कार्मिक बी.के. माधव, उप महाप्रबंधक खनन डी. मैति, परियोजना के श्रमिक संघों के प्रमुख समर बहादुर सिंह एवं शहजाद खान, उप प्रबन्धक राजभाषा देबाशीष घोष एवं डीएव्ही स्कूल के प्राचार्य पी.सी. सिंह उपस्थित रहे। सर्वप्रथम मुंबई से आये सिंगर ने बुलंद आवाज में मध्यप्रदेश गान- “सुख का दाता सब का साथी शुभ का यह संदेश है, माँ की गोद पिता का आश्रय मेरा मध्यप्रदेश है।” की भावपूर्ण प्रस्तुति से म्यूज़िकल नाइट का आगाज किया। कार्यक्रम के अंत में हीरा खनन परियोजना मझगवां के परियोजना प्रबंधक राजीव शर्मा द्वारा बॉलीवुड के मशहूर सिंगर जावेद अली को समूचे पन्ना जिले की और से प्यार भरे तोहफे के रूप में स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। संगीत के इस ऐतिहासिक कार्यक्रम की सुनहरी यादों को लंबे समय तक संजोय रखने के लिए कई श्रोता-दर्शक मोबाइल फोन से वीडियो बनाते रहे। वहीं कुछ लोग फेसबुक पर कार्यक्रम का लाइव प्रसारण कर दूर बैठे अपने परचितों-रिश्तदारों तक म्यूज़िकल नाइट का आनंद पहुंचाते रहे।