विडम्बना | वन विभाग में अधिकारियों के बीच जारी खींचतान में पिस रहे छोटे कर्मचारी

0
1931

* मध्य प्रदेश वन कर्मचारी संघ ने सीएफ छतरपुर को बताईं समस्याएँ

* समयमान वेतन का हो भुगतान और वरिष्ठता सूची प्रतिवर्ष की जाए जारी

* 9 सूत्रीय ज्ञापन सौंपकर समस्याओं का शीघ्रता से निरकरण करने की माँग

पन्ना। रडार न्यूज   वन विभाग में छतरपुर वृत्त के अंतर्गत पदस्थ उप वनमंडलाधिकारियों और परिक्षेत्राधिकारियों के बीच आपसी सामंजस्य न होने के कारण निचले स्तर के कर्मचारियों की मुश्किलें बढ़ गईं हैं। विभागीय कार्यों को लेकर कर्मचारियों को अनावश्यक परेशान होना पड़ रहा है, वन हानि निकालकर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। किसी भी मामले में सिर्फ निचले स्तर के कर्मचारियों को दोषी ठहराया जाता है जोकि सही नहीं है। मध्य प्रदेश वन कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने मुख्य वन संरक्षक वृत्त छतरपुर राघवेन्द्र श्रीवास्तव के समक्ष इस विषय को प्रमुखता से उठाते हुए उन्हें अपनी चिंताओं व कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत कराया है। गत दिनों वन कर्मचारी संघ के एक प्रतिनिधि मंडल ने मुख्य वन संरक्षक वृत्त छतरपुर से भेंटकर उन्हें कर्मचारियों की समस्याओं के संबंध में 9 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें वन कर्मचारियों के समयमान वेतन के भुगतान, वरिष्ठता सूची जारी करने, लंबित स्वत्वों का निराकरण करने की मांग की गई है।
ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से मध्य प्रदेश वन कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष सतीश पटैरिया, प्रांतीय महामंत्री ओमप्रकाश शर्मा, पन्ना जिलाध्यक्ष महीप कुमार रावत, छतरपुर जिलाध्यक्ष रमेश मिश्रा, टीकमगढ़ जिलाध्यक्ष दयाराम झा शामिल रहे। इस दौरान कर्मचारियों की समस्याओं का समय पर निराकरण न होने के संबंध में असंतोष व्यक्त किया गया। कर्मचारी नेताओं ने इस स्थिति को अनुचित और आपत्तिजनक बताते हुए कहा कि प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से इसका खामियाजा विभाग को ही अधिक उठाना पड़ रहा है। क्योंकि समस्याओं घिरे कर्मचारी पूरी क्षमता और कुशलता के साथ अपने विभागीय दायित्वों का निर्वहन नहीं कर पा रहे हैं।

ये रहीं मुख्य माँगें

राज्य शासन द्वारा जारी अधिसूचना अनुसार 10, 20, 30, वर्ष की सेवा पूर्ण कर चुके वनरक्षकों को नियुक्ति दिनाँक से समयमान वेतन का लाभ दिया जाये। कर्मचारियों द्वारा 24 अप्रैल 2018 वृत्त स्तरीय शिविर में दिए गए आवेदन पत्रों का आज दिनाँक तक निराकरण नहीं किया गया। कर्मचारी हित में इन आवेदन पत्रों का शीघ्र निराकरण किया जाए। वृत्त स्तर पर वन कर्मचारियों की अपीलों का समय पर निराकरण नहीं किया जाता है। अपीलों में समयावधि का ध्यान रखते हुए निराकरण सुनिश्चित किया जाए। वनरक्षक और वनपाल की वरिष्ठता सूची कई वर्षों से लंबित है, वर्षवार वरिष्ठता सूची का प्रकाशन कराकर इसे कर्मचारियों को उपलब्ध कराया जाए। वृत्त स्तरीय परामर्शदात्री समिति की बैठकें नियमित रूप से आयोजित की जायें ताकि कर्मचारियों से संबंधित समस्याओं पर ध्यान आकृष्ट कराते हुए उनका निराकरण कराया जा सके। मुख्य वन संरक्षक वृत्त छतरपुर को सौंपे गए ज्ञापन में अन्य माँगे भी शामिल हैं।