किसानों की पीड़ा दूर कर उन्हें समृद्ध बनाने लागू की ऋण माफ़ी योजना, क्योंकि जब किसान मजबूत होगा तभी प्रदेश और देश मजबूत होगा : मंत्री प्रभुराम

0
1008
जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला को संबोधित करते पन्ना जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी।

* प्रभारी मंत्री ने जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला पहुंचकर की कृषकों से चर्चा

* विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गयी किसान उपयोगी प्रदर्शनी को सराहा

पन्ना रडार न्यूज   प्रदेश के शिक्षा मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी बुधवार को कृषि उपज मण्डी प्रांगण पन्ना में आयोजित जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला सह प्रदर्शनी कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि किसान देश के विकास की नींव का पत्थर हैं, जब किसान मजबूत होगा तभी प्रदेश और देश मजबूत हो सकता है। इस बात के महत्व को समझते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने शपथ लेने के तत्काल बाद जय किसान फसल ऋण माफी योजना के रूप में किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। प्रदेश के कृषकों को समृद्धशाली बनाने तथा पीड़ित कृषकों की पीड़ा को दूर करने के उद्देश्य से यह निर्णय लिया गया है। योजना के क्रियान्वयन में बैंक एवं जिला प्रशासन के सभी अधिकारी, कर्मचारी पूरी लगन एवं निष्ठा से कार्य कर रहे हैं। जिले के हर पात्र कृषक को योजना का लाभ अनिवार्य रूप से मिले। इसके अतिरिक्त जिले में चल रही अन्य सभी जनहित की योजनाओं का भी लाभ समाज के हर वर्ग, हर तबके एवं दूरस्थ अचंलों में निवास कर रहे लोगों को भी मिले। यह अपेक्षा उन्होंने जिले के समस्त अधिकारियों, कर्मचारियों एवं जनप्रतिनिधियों से की। मंत्री डॉ. चौधरी दो दिवसीय जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला सह प्रदर्शनी कार्यक्रम के समापन दिवस पर जिलेभर से पहुंचेकृषकों को सम्बोधित कर रहे थे।

विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी का किया अवलोकन

जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला सह प्रदर्शनी कार्यक्रम में पहुंचते ही शिक्षा मंत्री मध्यप्रदेश शासन एवं जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी द्वारा सबसे पहले कृषि संबंधी विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गयी किसान उपयोगी प्रदर्शनियों का अवलोकन किया गया। उन्होंने प्रवेश द्वार पर ही किसानों के पंजीयन के लिए बनाए गए काउंटर एवं मॉडल रूप में बनाई गयी विभागीय प्रदर्शनी की सराहना की। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी के माध्यम से किसान भाईयों को दी जा रही व्यवहारिक जानकारियों से निश्चित ही उन्हें लाभ पहुंचेगा। उल्लेखनीय है कि कृषि विज्ञान मेले में कृषि विभाग, मत्स्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, मध्यप्रदेश राज्य आजीविका मिशन अन्तर्गत विभिन्न उत्पादों की प्रदर्शनी, उद्यानिकी विभाग अन्तर्गत मशरूम कल्चर, एजोला कल्चर पर आधारित एवं पशुपालन विभाग द्वारा उन्नत नस्ल एवं दुग्ध उत्पादन पर आधारित प्रदर्शनी लगाई गयी थी।

राजू को सौंपी मोबाइल मार्केट वेन की चाबी

जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला सह प्रदर्शनी कार्यक्रम में मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी द्वारा मत्स्य विभाग की नील क्रांति योजना के अन्तर्गत राजू रैकवार अध्यक्ष मत्स्य उद्योग सहकारी समिति पन्ना को मोबाइल मार्केट वेन की चाबी प्रदाय की गयी। रूपये 10 लाख की लागत की इस वेन के लिए योजना अन्तर्गत 4 लाख रूपये का अनुदान दिया गया है। कार्यक्रम में कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों डॉ. बी.एस. किरार एवं डॉ. धर्मेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा टिकाउ खेती, बीज चयन, उन्नत खेती, कीटों की फसलों की सुरक्षा आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी एवं वैज्ञानिक सलाह दी गयी।
बुन्देलखण्डी गायिका श्रीमती शांति देवी द्वारा बुन्देली गीतों के माध्यम से कृषकों को उन्नत खेती की जानकारी मनोरंजक ढंग से दी गयी। इस अवसर पर विधायक गुनौर शिवदयाल बागरी, पूर्व मंत्री केप्टन जयपाल सिंह, कलेक्टर मनोज खत्री, पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा, उप संचालक कृषि ए.पी. सुमन, पूर्व विधायक पन्ना श्रीकांत दुबे, श्रीमती दिव्यारानी सिंह, केशव प्रताप सिंह, शशिकांत दीक्षित, मनीष मिश्रा, शिवजीत सिंह, अनुराधा शेंडगे, मीना यादव सहित विभिन्न जनप्रतिनिधिगण, अधिकारी, कर्मचारी, पत्रकारबन्धु तथा बड़ी संख्या में जिलेभर से आए हुए कृषक भाई -बहनें उपस्थित रहे।