विधानसभा निर्वाचन-2018 | पहले दिन एक भी नाम-निर्देशन पत्र दाखिल नहीं हुआ, बी-फार्म न मिलने से नहीं आये नायक

0
629

शुभ मुहूर्त में नामांकन दाखिल करने आयेंगे उम्मीदवार

पन्ना। रडार न्यूज  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार नामनिर्देशन पत्र भरने के प्रथम दिन शुक्रवार 2 नवंबर को पन्ना जिले की तीनों विधानसभा क्षेत्रों से किसी भी अभ्यर्थी द्वारा नामनिर्देशन पत्र दाखिल नहीं किया गया है। अर्थात पहले दिन नामांकन दाखिल करने का खाता नहीं खुला। पन्ना जिले की चर्चित पवई विधानसभा सीट से मौजूदा विधायक और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुकेश नायक ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल करने पूरी तैयारी कर रखी थी किंतु कांग्रेस की सूची जारी होने में विलंब के चलते उन्हें बी-फार्म नहीं मिल सका। जिससे श्री नायक पन्ना आकर अपना पर्चा दाखिल नहीं कर सके। मालूम होकि विधायक मुकेश नायक को पवई सीट से पुनः चुनावी समर में उतारने की सहमति काफी पहले बन चुकी थी, बस आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा शेष है। शुक्रवार 2 नवंबर को शुभ महूर्त में पन्ना आकर पर्चा दाखिल करने के लिए विधायक मुकेश नायक और उनके समर्थकों ने वृहद स्तर तैयारियां कर रखीं थी। दरअसल, कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची जारी न होने के कारण पार्टी की और से उन्हें बी-फार्म नहीं मिल सका। फलस्वरूप मुकेश नायक ने पूरी तैयारी के बाबजूद आज अपना नाम-निर्देशन पत्र नहीं भरा। चर्चा है कि श्री नायक उम्मीदवार घोषित होने के बाद किसी भी दिन शुभ महूर्त में भारी काफिले और सैंकड़ों समर्थकों के साथ पन्ना आकर अंतिम तिथि 9 नवंबर तक नामांकन दाखिल कर सकते हैं।

जमा कर सकते हैं अधिकतम 4 नामांकन

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मनोज खत्री ने पत्रकार साथियों को अवगत कराते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा निर्वाचन 2018 के लिए जारी कार्यक्रम के अनुसार 2 नवंबर 2018 शुक्रवार को निर्वाचन की अधिसूचना जारी हो चुकी है । इसी दिन से अभ्यर्थियों द्वारा नाम-निर्देशन पत्र भरे जाएंगे। नामनिर्देशन पत्र भरने की अंतिम तिथि 9 नवंबर 2018 शुक्रवार है। नामांकन पत्रों की संवीक्षा 12 नवंबर 2018 सोमवार को की जाएगी। नामांकन वापसी की अंतिम तिथि 14 नवंबर 2018 बुधवार को निर्धारित की गयी है। दिनांक 4 नवंबर एवं 7 नवंबर 2018 को अवकाश के कारण इन तिथियों में नामनिर्देशन पत्र नही लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि आयोग के निर्देशानुसार नामांकन पत्र अभ्यर्थी स्वयं अथवा उसके प्रस्तावकों में से कोई एक अधिसूचित दिनों पर प्रातः 11 बजे से दोपहर बाद 3 बजे के बीच प्रस्तुत कर सकेगा। एक अभ्यर्थी अधिकतम 4 नामांकन प्रस्तुत कर सकता है।

यहां जमा होंगे नाम-निर्देशन पत्र

श्री खत्री ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र पवई के लिए नामनिर्देशन पत्र अपर कलेक्टर कोर्ट रूम में, विधानसभा क्षेत्र गुनौर के लिए पुराना एडीजे कोर्ट पन्ना में एवं विधानसभा क्षेत्र पन्ना के लिए अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) पन्ना के कार्यालय में लिए जाएंगे। नियमों के अनुसार रिटर्निंग आफिसर के कार्यालय की 100 मीटर की परिधि के अन्दर 3 वाहनों के प्रवेश की अनुमति रहेगी। रिटर्निंग आफिसर के कार्यालय में अभ्यर्थी सहित अधिकतम 5 व्यक्ति ही प्रवेश के लिए पात्र रहेंगे। अभ्यर्थी द्वारा नामांकन पत्र भरने के साथ शपथ पत्र भी भरा जाएगा। अभ्यर्थी को निर्धारित प्रारूप में अपना फोटो भी देना होगा। कलेक्टर ने बताया कि नामांकन प्रक्रिया के दौरान मीडिया द्वारा कव्हरेज में सहयोग के लिए कलेक्ट्रेट परिसर में एक मीडिया प्वाइंट बनाया गया है।

निगरानी के लिए 4 तरह के दल गठित

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मनोज खत्री ने बताया कि अभ्यर्थियों के व्यय लेखा एवं कार्यकलापों पर निगरानी के लिए 4 तरह के दल गठित किए गए हैं। इन दलों में स्थैतिक निगरानी दल, वीडियो निगरानी दल, वीडियो अवलोकन दल एवं उडनदस्ता दल शामिल है। जिले के लिए 2 व्यय प्रेक्षक नियुक्त किए गए हैं। बी.जी. कृष्णन पन्ना एवं गुनौर के लिए तथा कल्याण नाथ को पवई विधानसभा के लिए नियुक्त किया गया है। इनके अलावा भी अन्य प्रेक्षक नियुक्त किए गए हैं जिनका आगमन आगामी समय में जिले में होगा। निर्वाचन संबंधी सामान्य जानकारी देते हुए उन्हेंने बताया कि जिले की महिला मतदाताओं के प्रेरित करने के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में तीन-तीन पिंक पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं जिन्हें पिंक थीम पर तैयार किया जा रहा है जो महिलाओं के रंग का प्रतीक है। इन पोलिंग बूथों पर महिला मतदान कर्मी की ही ड्यूटी लगाई जाएगी। इसी तरह दिव्यांग मतदाताओं के प्रोत्साहन के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक-एक सुगम मतदान केन्द्र तैयार किया जा रहा है। इनमें दिव्यांग अधिकारी-कर्मचारियों की सहमति के बाद मतदान कार्य में उनकी नियुक्ति की जाएगी।