हादसा : दो मासूम बच्चों की तलैया में नहाते समय पानी में डूबने से दर्दनाक मौत

0
1712

* परिजन सोच रहे थे दोस्तों संग पड़ोस में खेलने गए है बच्चे

* नगर सेना के गोताखोरों ने तलैया में उतरकर निकाले शव

पन्ना। (www.radarnews.in) शहर की इंद्रपुरी कॉलोनी में स्थित सुंदर जू की तलैया में नहाते समय पानी में डूबने से 2 बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई। बच्चों के पानी में डूबने की खबर मिलते ही नगर सेना के गोताखोर तुरंत मौके पर पहुंचे लेकिन मासूम बच्चों को बचाया नहीं जा सका। पानी से बच्चों के शव निकालकर उन्हें पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय पन्ना के शव विच्छेदन गृह भेजा गया है। मृत बच्चों की पहचान कृष्ण गोपाल खरे पुत्र विनोद खरे 11 वर्ष एवं सोनू कुशवाहा पुत्र द्वारका उर्फ़ छोटे कुशवाहा 12 वर्ष निवासी रानीगंज के रूप में हुई है। दोनों ही मृतक आपस में दोस्त बताए जा रहे हैं। देर शाम बच्चों की मौत का पता चलने के बाद से पीड़ित परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

कपड़ों से चला पता

शुक्रवार 9 अगस्त की शाम सुंदर जू की तलैया की मेढ़ पर कई घण्टे से दो बच्चों के कपड़े उतरे हुए देखकर अनहोनी की आशंका के चलते आसपास मौजूद लोगों ने सिविल लाइन चौकी प्रभारी सुशील शुक्ला को इसकी सूचना दी। पुलिस बल तुरंत मौके पर पहुँचा लेकिन पानी की सतह पर कुछ भी नजर नहीं आया। तलैया की पार में रखे कपड़ों के मद्देनजर बच्चों के डूबने की आशंका को देखते हुए सिविल लाइन चौकी प्रभारी ने होमगार्ड कार्यालय को जानकारी देकर गोताखोरों को बुलाया गया। शाम तकरीबन 6 बजे तलैया में उतरे नगर सेना के आधा दर्जन गोताखोरों ने 40 मिनिट के सर्च ऑपरेशन के बाद पानी के अंदर से दोनों बच्चों के शव निकालकर उन्हें पुलिस के सुपुर्द किया। इस दौरान मौके पर भारी भीड़ जमा हो चुकी थी। दोनों बच्चों के शव देखकर वहाँ मौजूद लोगों की आँखें छलक उठीं।

गहरे पानी की मिट्टी में धंस गए थे पैर

बच्चों की मौत का जब उनके परिजनों को पता चला तो कोहराम मच गया। पीड़ित परिजनों ने पुलिस को बताया कि वे सोच रहे थे कि उनके बच्चे दोस्तों के साथ आस-पड़ोस में खेलने के लिए गए है, कुछ देर बाद वापस घर लौट आएंगे। लेकिन उन्होंने कभी सपने में भी यह नहीं सोचा था कि वे नहाने के लिए सुंदर जू की तलैया जाएँगे और फिर कभी वापिस नहीं आएँगे। उल्लेखनीय है कि सोनू कुशवाहा की माँ श्री जुगुल किशोर जी मंदिर के पास सब्जी की दुकान लगाती है। सोनू अक्सर अपनी माँ की दुकान पर आता रहता था। बस यहीं से सोनू कुशवाहा और कृष्ण गोपाल खरे की दोस्ती हो गई। सिविल लाइन चौकी प्रभारी सुशील शुक्ला ने बताया कि सम्भवतः दोनों बच्चे नहाने के लिए दोपहर के समय तलैया आए थे। कपड़े उतारकर पानी में उतरने के बाद नहाते समय उनके पैर गहरे पानी की मिट्टी में धंस गए और शायद इसी वजह से उनकी मौत हो गई। आपने बताया कि इस हादसे पर मर्ग कायम कर मामले को विवेचना में लिया है।