मेला देखने मायके आई नव विवाहिता हुई लापता, पत्नी की तलाश में दर-दर भटक रहा युवक, पुलिस से लगाई गुहार “प्लीज, मेरी मदद करो”

0
1674
पुलिस चौकी पहाड़ीखेरा के परिसर में उदास-हताश बैठा रामदीन कोल (जर्सी में) और उसका रिश्तेदार।

* पन्ना जिले के पहाड़ीखेरा पुलिस चौकी क्षेत्र की घटना

पन्ना। रडार न्यूज   मकर संक्रांति के पर्व पर मेला देखने के लिए ससुराल से अपने मायके आई 20 वर्षीय नव विवाहिता रहस्मय तरीके से लापता हो गई। विवाहिता के अचानक लापता होने उसका पति, माता-पिता सहित अन्य परिजन अत्यंत चिंतित और परेशान हैं। गुमशुदगी की यह घटना मध्यप्रदेश के पन्ना जिले के पुलिस थाना बृजपुर अंतर्गत आने वाले पहाड़ीखेरा चौकी क्षेत्र की है। पत्नी की तलाश में पिछले कई दिनों से दर-दर भटक रहे रामदीन कोल की हालत विक्षिप्त जैसी हो गई है। नजदीकी रिश्तेदारी से लेकर सभी संभावित स्थानों पर खोजबीन कर थकहार चुके रामदीन ने पत्नी की तलाश के लिए पहाड़ीखेरा चौकी पुलिस से गुहार लगाई है।
रामदीन ने पुलिस को बताया कि- उसकी पत्नी आरती बहुत अच्छी थी और उसे बहुत प्रेम करती थी। वह इस तरह अचानक उसे छोड़कर क्यों चली गई उसे खुद भी कुछ समझ नहीं आ रहा है।इस घटनाक्रम पर चौकी पुलिस ने फ़िलहाल गुमइंसान का प्रकरण कायम किया है। मामला नवविवाहिता से जुड़ा होने के कारण पुलिस ने इसे संवेदनशीलता लिया है। पड़ोसी जिलों के पुलिस थानों को लापता आरती कोल 20 वर्ष की अपने-अपने क्षेत्र में खोजबीन हेतु उसके हुलिया, कद-काठी की जानकारी के साथ उसका पासपोर्ट साईज का फोटो भी भेजा है। इधर, पहाड़ीखेरा और बृजपुर पुलिस ने भी अपने स्तर पर तलाश शुरू कर दी है।

डेढ़ वर्ष पूर्व हुआ था विवाह

लापता आरती कोल का स्कूल के दिनों का फोटो।
पड़ोसी जिला सतना के ग्राम इटवां बमरहा निवासी रामदीन कोल पुत्र नत्थू कोल 27 वर्ष ने पुलिस को बताया कि डेढ़ वर्ष पूर्व ग्राम भसूड़ा निवासी निवासी आरती के साथ उसका विवाह हुआ था। पेशे से राजमिस्त्री रामदीन काम के सिलसिले में कुछ समय से चित्रकूट में रह रहा था जबकि पत्नी आरती कोल उसके माता-पिता के साथ गाँव में रहती थी। कुछ दिन पूर्व मकर संक्रांति पर्व पर पटपरनाथ का मेला देखने के लिए आरती ससुराल से अपने मायके ग्राम भसूड़ा आई थी। मेला देखने के बाद आरती अपने घर गई और फिर अगले दिन 15 जनवरी की सुबह वह अचानक रहस्मय तरीके से लापता हो गई। जब इस अप्रत्याशित घटना की सूचना रामदीन को दी गई तो वह इसे मजाक समझा। लेकिन, जब सास-ससुर से बात हुई तो उसके पैरों तले से जमीन खिसक गई। बिना किसी देरी के चित्रकूट से भागा-दौड़ा वह भसूड़ा पहुँचा और फिर पूरी जानकारी प्राप्त कर गाँव में अपने माता-पिता को इसकी सूचना दी।
फाइल फोटो।
अपने स्तर पर पत्नी की तलाश करके थकहार चुके रामदीन ने पहाड़ीखेरा चौकी पुलिस से मदद माँगी है। शनिवार 19 जनवरी को आरती की फोटो लेकर पहाड़ीखेरा पहुँचे रामदीन ने पुलिस को बताया कि मेरी पत्नी बहुत अच्छी है, मुझे प्रेम बहुत प्रेम करती थी, साथ ही मेरी और मेरे वृद्ध माता-पिता की सेवा भी करती थी। पत्नी के वियोग में व्यथित रामदीन का दर्द यह है कि दोनों के बीच जब सबकुछ अच्छा चल रहा था तो अचानक ऐसा क्या हुआ, जो उसकी पत्नी उसे बगैर कुछ बताए अचानक गायब हो गई। नव विवाहिता पत्नी के लापता होने के बाद से रामदीन को हर पल बस यही बात बेचैन और व्यथित कर रही है। उल्लेखनीय है कि डेढ़ वर्ष के वैवाहिक जीवन के बाद भी इनकी कोई संतान नहीं है। बहरहाल, नवविवाहिता के लापता होने के मामले की प्रारंभिक पुलिस जाँच में यह साफ़ नहीं हो पाया है कि आरती कोल अपनी मर्जी से कहीं गई है या फिर कोई उसे अगवा कर ले गया है।