Homeबुंदेलखण्डदुखद घटना | पत्नी फाँसी के फंदे पर लटकी, पति ने 200...

दुखद घटना | पत्नी फाँसी के फंदे पर लटकी, पति ने 200 फिट गहरे कुंड में छलाँग लगाकर की आत्महत्या

* आपसी विवाद के बाद आदिवासी दंपत्ति ने उठाया आत्मघाती कदम

* पन्ना जिले के बृजपुर थाना क्षेत्र के बरहोकुदकपुर ग्राम की घटना

रुपेश जैन, बृजपुर (पन्ना)। रडार न्यूज   मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में एक महिला ने पति से मामूली कहासुनी के बाद आत्मघाती कदम उठाते हुए बुधवार की शाम फाँसी लगाकर खुदकुशी कर ली। इसके बाद तनाव और अपराध बोध के चलते पति ने कुंड (वॉटरफॉल) में छलाँग लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। यह दुखद घटना जिले के बृजपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बरहोकुदकपुर की है। महज कुछ घंटे के अंतराल में आदिवासी दंपत्ति द्वारा आत्महत्या करने की दुखद खबर आने के बाद से इलाके में शोक की लहर व्याप्त है। बृजपुर थाना पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई के पश्चात शवों को पोस्टमार्टम के लिए पन्ना भेजा है। पुलिस ने फ़िलहाल दोनों ही घटनाओं पर मर्ग कायम किया है। जिस कुण्ड में युवक ने आत्महत्या की है वह पड़ोसी जिला सतना के बरौंधा थाना क्षेत्र अंतर्गत आता है। इसलिए बृजपुर थाना पुलिस द्वारा इस मामले अग्रिम कार्रवाई के लिए केश डायरी बरौंधा थाना पुलिस को भेजी जाएगी।

दोपहर में हुआ था विवाद

दंपत्ति की मौत के बाद के शोकमग्न ग्रामीण।
प्राप्त जानकारी के अनुसार पन्ना जिले के बरहोकुदकपुर गाँव में रहने वाले पेशे से मजदूर अर्जुन गौंड़ पुत्र हुकुम सिंह गौंड़ (26) का बुधवार 20 मार्च को दोपहर के समय पत्नी सुशीला गौंड़ (23) के साथ विवाद हुआ था। मामूली कहासुनी के बाद अर्जुन गौंड़ गाँव में घूमने निकल गया। इस बीच अपने कमरे में अकेली सुशीला ने फाँसी के फंदे पर लटक कर आत्महत्या कर ली। शाम करीब 4 बजे अर्जुन गौंड़ जब वापिस घर लौटा तो कमरे में पत्नी सुशीला को फाँसी के फंदे पर लटका हुआ देख वह दंग रह गया। पत्नी की मौत से व्यथित और अपराध बोध के चलते अर्जुन गौंड़ शाम करीब 7 बजे अपने घर से रहस्मय तरीके से अचानक गायब हो गया था। इसका पता चलने पर गाँव में हड़कंप मच गया। अनहोनी की आशंका के चलते आनन-फानन में परिजनों व ग्रामीणों ने अर्जुन गौंड़ की तलाश शुरू की। इस दौरान समीप स्थित बेधक कुंड के ऊपर उसके जूते और मोबाइल फोन रखा मिला। करीब 200 फिट गहरे सूखे कुंड में नीचे उतरकर कर जब देखा गया तो वही हुआ जिसका डर था ! कुंड में बड़े-बड़े पत्थरों के बीच अर्जुन गौंड़ का शव औंधे मुँह पड़ा था। कुण्ड में छलांग कर पत्थरों पर गिरने से अर्जुन के सिर और चेहरे में आईं गंभीर चोटों के कारण उसकी मौत होना बताया जा रहा है।

अनाथ हुई डेढ़ साल की मासूम

कुंड में पड़ा अर्जुन का शव।
युवा आदिवासी दंपत्ति के द्वारा आत्महत्या करने से उनकी डेढ़ वर्ष की मासूम बेटी अनाथ हो गई है। उधर, अर्जुन के परिजन और गांव के लोग इस दुखद घटना के बाद से गहरे शोक में डूबे हैं। होलिका दहन की शाम इस अप्रत्याशित घटना का पता चलने के बाद से ग्राम बरहोकुदकपुर समेत आसपास के गांवों में घुरेड़ी (होली) पर्व की रंगत बेहद फीकी रही। मालूम हो कि अर्जुन गौंड़ और सुशीला का विवाह करीब 5 वर्ष पूर्व हुआ था। बुधवार को पति से विवाद के बाद सुशीला ने जब अपने कमरे में फाँसी लगाई उस समय घर पर परिवार के अन्य सदस्य मौजूद थे लेकिन किसी को भी इसकी भनक तक नहीं लगी। बृजपुर थाना प्रभारी कमलेश साहू ने रडार न्यूज को जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार शाम इस घटना की सूचना मिलने पर हमराही पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर दोनों घटना स्थलों को सुरक्षित कराया था। सुशीला चूँकि नवविवाहिता थी इसलिए गुरुवार को पन्ना से नायब तहसीलदार सुश्री दिव्या जैन के मौके पर पहुँचने पर पंचनामा आदि कार्रवाई की गई। पति-पत्नी के बीच विवाद किस बात को लेकर हुआ था, प्रारंभिक पुलिस विवेचना में यह स्पष्ट नहीं हो सका। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए आज पन्ना भेजा गया। बृजपुर थाना प्रभारी श्री साहू ने बताया कि अर्जुन गौंड़ का शव जिस स्थान से बरामद हुआ है वह सतना जिले के बरौंधा थाना क्षेत्र अंतर्गत आता है। इसलिए बृजपुर थाना पुलिस द्वारा इस मामले में शून्य पर मर्ग कायम कर अग्रिम कार्रवाई के लिए केश डायरी बरौंधा थाना पुलिस को भेजी जाएगी।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments