Homeताजा ख़बरेंचुनौतियों का सामना करने के लिये बदलनी होगी सोच : मुख्यमंत्री कमलनाथ

चुनौतियों का सामना करने के लिये बदलनी होगी सोच : मुख्यमंत्री कमलनाथ

* समाज के प्रति निस्वार्थ सेवा भाव को दर्शाते हैं रोटरी क्लब के कार्य

भोपाल। (www.radarnews.in) मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इंदौर में रोटरी इंटरनेशनल द्वारा ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि चुनौतियों का सामना करने के लिये हम सभी को अपनी सोच बदलनी होगी, अपने तरीके बदलने होंगे। उन्होंने कहा कि वे रोटरी की संस्कृति और उद्देश्यों से बहुत अच्छी तरह परिचित हैं। वे स्वयं रोटरी क्लब के कोलकाता मिड टर्म सेशन के वक्त चार्टर मेम्बर रह चुके हैं। मुख्यमंत्री ने रोटरी इंटरनेशनल द्वारा विगत दिनों मण्डला जिले में आयोजित स्वास्थ्य शिविर की सराहना करते हुए कहा कि रोटरी के सेल्फलेस कमिटमेंट समाज के प्रति उसके निस्वार्थ सेवा भाव को दर्शाते हैं।
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने वैश्विक परिदृश्य और उससे जुड़ी चुनौतियों की चर्चा करते हुए कहा कि जो सपने भारत आजादी के वक्त देखता था, वे आज के सपनों से एकदम अलग और चुनौतीपूर्ण थे। उन्होंने कहा कि आज का युवा ऊर्जा और आशाओं से पूर्ण एक नए भारत की तस्वीर दिखाता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत ही नहीं, सम्पूर्ण विश्व के सामने तकनीकी और पर्यावरण की नई चुनौतियाँ उभरकर सामने आ रही हैं। ऐसे में प्रत्येक व्यक्ति का यह कर्त्तव्य है कि वह आपसी भाईचारे तथा बदलते परिदृश्य में स्वयं के भीतर बदलाव लाकर इन चुनौतियों का सामना करे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि रोटेरियन्स की पहुँच छोटे से गाँव से लेकर बड़े शहरों तक है। उन्होंने विश्वास जताया कि रोटेरियन्स देश की एकजुटता के साथ चुनौतियों का सामना बेहतर ढंग से करने का संदेश लोगों तक पहुँचाने में सफल होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं नौजवान पीढ़ी से अपेक्षा करता हूँ कि हमारे आज के प्रयास ऐसे हों, जिससे हम कल के युवाओं को बेहतर अवसर तथा बेहतर जिंदगी दे सकें।
कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, इंदौर जिले के प्रभारी गृह एवं जेल मंत्री बाला बच्चन, लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी तथा विधायक संजय शुक्ला, सदाशिव राव, विनय बाकलीवाल, प्रमोद टंडन, नरेन्द्र सलूजा और देश-विदेश से आये रोटेरियन्स उपस्थित थे।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments