नजूल तहसीलदार के सरकारी आवास में चोरी, नकदी रुपए और गहने ले उड़े चोर

0
1464
चोरी की घटना का जायजा लेती पन्ना पुलिस की एफएसएल टीम के सदस्य।

* ट्रेनिंग के सिलसिले में भोपाल में हैं तहसीलदार डॉ. अवंतिका तिवारी

* पन्ना के सिविल लाइन इलाके में स्थित सूने आवास को चोरों ने बनाया निशाना

शादिक खान, पन्ना। (www.radarnews.in) शहर के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले इलाके सिविल लाइन में स्थित नजूल तहसीलदार पन्ना डॉ. अवंतिका तिवारी के सरकारी आवास को दरम्यानी रात अज्ञात चोरों ने निशाना बनाया है। सूने पड़े सरकारी आवास का ताला और अलमारी का लॉकर तोड़कर अज्ञात शातिर चोर नकदी रूपए तथा गहने समेट ले गए। महिला तहसीलदार ट्रेनिंग के सिलसिले में कुछ दिनों से भोपाल में हैं। शुक्रवार 17 जनवरी की सुबह जब पड़ोसियों ने मोबाइल फोन पर उन्हें चोरी की घटना की सूचना दी तो वे हैरान रह गईं। आनन्-फानन में नजूल तहसीलदार डॉ. अवंतिका तिवारी के द्वारा पन्ना पुलिस को कॉल कर घटना की जानकारी दी गई। साथ ही पन्ना तहसीलदार दीपा चतुर्वेदी को मौके पर भेजा गया। कुछ देर में पन्ना एसडीओपी आर.एस. रावत ने कोतवाली थाना पुलिस बल के साथ सिविल लाइन पहुँचकर चोरी की घटना का जायजा लिया। नजूल तहसीलदार के कमरे के अंदर सामान बिखरा पड़ा था और अलमारी भी खुली मिली।
अज्ञात शातिर चोरों का सुराग लगाने के लिए पुलिस की एफएसएल टीम के द्वारा सरकारी आवास की वीडियोग्राफी एवं फोटोग्राफी कराई गई। फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट ने अज्ञात चोरों के हाथ-पैरों के निशान की बारीकी से जाँच की । साथ ही डॉग स्क्वॉयड को घटनास्थल का मुआयना कराया गया। नजूल तहसीलदार के सरकारी आवास से क्या-क्या चोरी हुआ है यह फिलहाल साफ़ नहीं हो सका। उनके वापिस पन्ना लौटने पर, चोरी हुए सामान की सही जानकारी सामने आने की बात कही जा रही है। पन्ना एसडीओपी ने बताया कि डॉ. अवंतिका तिवारी से हुई चर्चा अनुसार लॉकर में रखे 8-10 नकदी रुपए और कुछ गहने चोरी हुए हैं। हालाँकि उनका लैपटॉप, टीव्ही सहित अन्य सामान सुरक्षित है।
उल्लेखनीय है कि, सिविल लाइन इलाके में ही पन्ना पुलिस अधीक्षक एवं न्यायाधीशों के सरकारी आवास स्थित है, जिनमें 24 घण्टे सुरक्षाकर्मी तैनात रहते हैं। इसलिए सिविल लाइन के इलाके को काफी सुरक्षित माना जाता है। अज्ञात शातिर चोरों के द्वारा इस इलाके में चोरी की वारदात को अंजाम देने को लोग चोरों के दुस्साहस के रूप में देख रहे हैं। पूरे शहर में सीसीटीव्ही कैमरे लगे होने के बाद भी चोरों में पुलिस का तनिक भी खौफ नही हैं। वहीं सर्दी के मौसम में शहर में चोरी की घटनाएं बढ़ने के बाद भी इनकी रोकथाम को लेकर पुलिस पूरी तरह तमाशबीन की भूमिका में नजर आ रही है।