पुलिस आरक्षक ने पत्नी से कहा कि 10 लाख लाओ तब घर पर रखूंगा

0
955
पुलिस अधीक्षक कार्यालय पन्ना में अपने पिता के साथ खड़ी पीड़ित नवविवाहिता।

नवविवाहिता ने दहेज के लिए ससुराल पक्ष पर प्रताड़ित करने का लगाया आरोप

दहेज लोभियाेें के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने एसपी से की शिकायत

पन्ना। रडार न्यूज छतरपुर जिला के बिजावर थाना में पदस्थ पुलिस आरक्षक मयंक शुक्ला पर उसकी नवविवाहिता पत्नी ने दहेज के लिए शारीरिक और मानसिकतौर पर प्रताड़ित करते हुए घर से भगाने का आरोप लगाया है। मंगलवार को अपने पिता के साथ पन्ना पहुंची पीड़िता वर्षा शुक्ला ने पुलिस अधीक्षक को आवेदन पत्र देते हुए बताया कि विवाह के बाद से ही पति मयंक शुक्ला व सास-ससुर द्वारा दहेज के रूप में 10 लाख रूपये लाने की मांग की जा रही है। उनका कहना है कि 10 लाख रूपये लाने पर ही तुम्हें घर में रखेेेेगें। पिछले दो साल से अपने मायके ग्राम चौकी थाना सलेहा में रह रही वर्षा और उसके परिजनों ने मयंक और उनके माता-पिता को सामाजिक स्तर पर काफी समझाया लेकिन दहेज लोभी अपनी मांग पर अड़े है। वर्षा के पिता ने बताया कि 24 अप्रैल 2016 को उन्होंने अपनी बेटी का विवाह गुनौर स्थित मैरिज गार्डन से मयंक शुक्ला के साथ किया था। बेटी के विवाह में अपनी हैसियत के अनुसार 5 लाख रूपये नकद, बुलट मोटरसाईकिल और पूरा दान-दहेज दिया था। पहली विदा में वर्षा जब ससुराल पहुंची तो उसे कम दहेज लाने का ताना देते हुए प्रताड़ित किया गया। सास-ससुर का कहना है कि उनका बेटा पुलिस की नौकरी में है, अगर कहीं और विवाह करते तो मुंह मांगा दहेज मिलता। वर्षा का आरोप है कि पति और ससुराल पक्ष के लोगों द्वारा 10 लाख रूपये लाने की मांग करते हुए उसे घर से भगा दिया था। लाख कोशिशें करने के बाद भी पति और ससुराल पक्ष के लोग उसे रखने के लिए तैयार नहीं है।

जबरन समाप्त करा दी शिकायत-

ससुराल पक्ष की दहेज की मांग पूरी करने में असमर्थ होने के कारण माह मई 2016 से अपने पिता के घर पर रहने को मजबूर वर्षा ने सीएम हेल्पलाईन में शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने अपने आवेदन पत्र में उल्लेख किया है कि पवई थाना टीआई द्वारा शिकायत वापस लेने का दबाव डाला गया और जबरन उसका मोबाईल छीन कर शिकायत को बगैर निराकरण के ही बंद करा दिया। इससे बौखलाये आरक्षक पति द्वारा उसे और परिजनों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है। पीड़िता ने पुलिस कप्तान से न्याय की गुहार लगाते हुए उसका जीवन बर्बाद करने वाले दहेज लोभियों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध करने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here