Homeबुंदेलखण्डकांग्रेस की पूर्व प्रत्याशी के घर फायर कर बरसाये पत्थर

कांग्रेस की पूर्व प्रत्याशी के घर फायर कर बरसाये पत्थर

मीना यादव के घर अज्ञात आरोपियों ने दिया वारदात को अंजाम

परिवार सहित जान से मारने की दी धमकी

प्रारंभिक जांच में हमले की वजह का नहीं लग सका पता

पन्ना। रडार न्यूज महिला कांग्रेस की प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पन्ना विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की पूर्व प्रत्याशी रहीं मीना सिंह यादव के पन्ना में बीटीआई तिराहा पर स्थित घर में सोमवार-मंगलवार की दरम्यानी रात अज्ञात लोगों ने जबरन घुसने का प्रयास किया और असफल होने पर हवाई फायर करते हुए घर पर पत्थर बरसाये गये। इस घटना के बाद से यादव परिवार दहशत में है। पीड़ित नेत्री ने घटना की शिकायत कोतवाली थाना पुलिस से की है। प्रारंभिक पुलिस जांच में इस सनसनीखेज घटना की वजह साफ नहीं हो सकी। अज्ञात आरोपी राजनैतिक या सामाजिक विवाद के चलते महिला नेत्री मीना यादव व उनके बच्चों पर हमला करने आये थे या फिर उनका इरादा लूटपाट करने का था। घटना को लेकर लोग तरह-तरह के कयास लगा रहे है।

कांग्रेस नेत्री मीना यादव।

मीडियाकर्मियों को वारदात के संबंध मेें कांग्रेस नेत्री मीना यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि उनके पति रणधीर सिंह यादव का देहांत हो चुका है और वे अपने एक बेटे व बेटी के साथ रहती हैं। बीती रात घर में पानी नहीं होने के कारण पास ही रहने वाले अपने भाई विक्रम के घर उन्होंने बेटे सृजन यादव को पानी लेने भेजा था। उसी समय तीन अज्ञात युवक मेन गेट से घर में दाखिल हुए और कमरे के अंदर घुसने का प्रयास करने लगे। मीना यादव ने जब उन्हें रोकने का प्रयास किया, तो तीनों युवक उनके साथ अभद्रता करने लगे। गाली-गलौंच करते हुए जान से मारने की धमकी तक दी। इसी बीच मीना यादव के भाई विक्रम यादव और बेटा सृजन पानी लेकर वापस घर पहुंचे, जिन्हें देखकर तीनों युवक भागने लगे। इसी बीच बाहर खड़े उनके अन्य साथियों ने हवाई फायर किया। साथ ही घर में ईंट-पत्थर से हमला करते हुए भाग खड़े हुए। इस घटना से पूरा परिवार सहम गया। घटना की त्वरित सूचना मीना यादव ने 100 डायल व कोतवाली पुलिस को दी। कांग्रेस नेत्री का आरोप है कि पुलिस घटना के आधा घंटा बाद मौके पर पहुुंची। पुलिस ने उन्हें फिलहाल घर में ही रहने का सलाह दी और सुबह मामले की शिकायत कोतवाली थाना में करने को कहा। मंगलवार सुबह मीना यादव ने लिखित शिकायत करते हुए पुलिस से इस मामले पर गंभीरता से कार्यवाही की मांग की है। उन्होंने कहा कि इस घटना से पूरा परिवार डरा हुआ है और उनकी व उनके परिवार की जान को खतरा है। मीना यादव ने पुलिस को बताया कि सभी युवक 20 से 25 साल के थे। जिन्हें वे खुद व उनका भाई और बेटा देखने पर पहचान सकते हैं। इस घटना को लेकर राजनैतिक हल्कों में भी आज दिन भर चर्चाएं रहीं। मीना यादव ने कहा कि पन्ना सहित प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध चिंताजनक तेजी से बढ़ रहे है। स्थिति इतनी गंभीर हो चुकी है कि महिलायें जब घर के अंदर ही सुरक्षित नहीं है, तो फिर कहां सुरक्षित होंगी। उन्होंने पुलिस से अज्ञात हमलावराेें का सुराग लगाकर उन्हें तत्परता से गिरफतार करने की मांग की है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments