मोदी ने 15 सबसे भ्रष्ट अमीरों को 5 लाख करोड़ दिये, मैं- “देश के 25 करोड़ गरीबों को हर साल 72 हजार रुपए देना चाहता हूँ” : राहुल गाँधी

0
1198
पन्ना जिले के अमानगंज क़स्बा में आयोजित हुई आमसभा में मंचासीन कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी।

* कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बुन्देलखण्ड अंचल में की तीन चुनावी सभाएँ

* पन्ना जिले के अमानगंज में बोले मैं आपसे लम्बा रिश्ता बनाने आया हूँ

* राहुल का ऐलान, कर्ज अदा न कर पाने वाले किसानों को अब नहीं होगी जेल

* महत्वकांक्षी न्याय योजना से देश की अर्थव्यवस्था में गति आने का किया दावा

* बुन्देलखण्ड विशेष पैकेज के कार्यों में हुए भ्रष्टाचार की जाँच कराने की बात कही

शादिक खान, पन्ना। रडार न्यूज  मध्य प्रदेश के बुन्देलखण्ड अंचल में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को टीकमगढ़, दमोह और खजुराहो संसदीय क्षेत्र में तीन बड़ी चुनावी सभाओं को सम्बोधित किया। इस दौरान वे प्रधानामंत्री नरेन्द्र मोदी पर काफी हमलावर रहे। खजुराहो संसदीय क्षेत्रान्तर्गत आने वाले पन्ना जिले के अमानगंज कस्बा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर झूठे वादे करने का आरोप लगाते हुये कहा कि चुनाव के समय उन्होंने देश के लोगों को 15-15 लाख रूपये देने का वादा किया था। धोखा देने के लिये बैंको में खाते भी खुलवाये गये लेकिन किसी के खाते मे एक पैसा भी नहीं आया। मोदी ने 15 पूंजीपतियों को 5 लाख 55 हजार करोड रूपये दे दिया। लेकिन मैं देश के गरीबों को रूपये देना चाहता हूँ।
आर्थिक विशेषज्ञों के साथ विचार-विर्मश के बाद यह निष्कर्ष निकाला है कि, देश के ऐसे प्रत्येक गरीब परिवार जिनकी आय 12 हजार रूपये से कम है, उनके बैंक खातों में 72 हजार रूपये प्रतिवर्ष और 5 साल मे लगभग 3.60 लाख रूपये की राशि डाली जा सकती है। इस योजना को हमने न्याय योजना का नाम दिया है। इसके तहत देश के 5 करोड़ परिवारों और 25 करोड़ लोगों के खातों में राशि डालकर उन्हें सीधा लाभ पहुँचाया जायेगा। राहुल गाँधी ने न्याय योजना की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि यह योजना से देश की अर्थव्यवस्था की मजबूती मे अहम योगदान देगी। क्योंकि जब गरीब के पास पैसा आयेगा तो उसकी क्रय शक्ति बढ़ेगी। हमारे छोटे और मझोले दुकानदारों का धंधा चलेगा। माल की खपत बढ़ने पर नई फैक्ट्रियां खुलेंगी और युवाओ को राजेगार मिलेगा। श्री गांधी ने आमसभा मे उपस्थित पुरूषों से मुखातिब होते हुये कहा कि आप बुरा न मानें मैं न्याय योजना की राशि महिलाओं के खाते में डालूँगा। आमसभा में बडी संख्या में मौजूद महिलाएँ इससे गदगद हो उठीं और तालियों की गड़गड़ाहट से इस घोषणा का स्वागत किया।

नोटबंदी-जीएसटी ने किया बर्बाद

आमसभा को सम्बोधित करते राहुल गाँधी।
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने जोर देते हुये कहा कि हमने न्याय योजना की परिकल्पना करते हुए समाज के सभी वर्गों के हितों को ध्यान रखा है। इसके लागू होने से नोटबंदी और जीएसटी से टूट चुके छोटे और मझोले व्यापारियों का व्यवसाय चल पड़ेगा। न्याय योजना देश की अर्थव्यवस्था रूपी गाड़ी के इंजन को दौड़ने के लिये डीजल देने का काम करेगी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने नोटबंदी के मनमाने फैसले को लागू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गम्भीर आरोप लगाए हैं। इस पर सवाल उठाते हुये उन्होंने कहा कि मोदी जी यह मत समझिये की देश के लोग कुछ नहीं समझते। आपने देश से कहा था कि हमने कालेधन के खिलाफ नोटबंदी का फैसला लिया है। लेकिन सच्चाई यह है कि नोटबंदी कालेधन को सफेद करने के लिये की गई थी। नोटबंदी के समय बैंकों की लाईन में हिन्दुस्तान के चोर कहीं खड़े नजर नहीं आये। बैंको की लाईन में अगर कोई खड़ा था तो वह देश के युवा, किसान, गरीब, महिलाएँ और मध्यम वर्ग के लोग थे। आमसभा में राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के नेताओं के खिलाफ आक्रामक अंदाज में जमकर शाब्दिक हमला बोला। इस दौरान उन्होंने देश के बैंकों से हजारों करोड़ का कर्जा लेने वाले उद्योगपतियों को विदेश भागने में भाजपा के बड़े नेताओं द्वारा मदद करने के एवज में आर्थिक पहुँचाने के आरोप लगाए हैं।

किसानों को नहीं होगी जेल

आमसभा में उपस्थित क्षेत्र के लोग।
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने कहा कि देश के और बुन्देलखण्ड के किसा महज कुछ हजार रूपये कर्ज लेते हैं। उस कर्ज की राशि को चुका न पाने पर उन्हें जेल मे डाल दिया जाता है। लेकिन देश के बैंकों का हजारों करोड़ रूपये लेकर भागने वाले वाले विजय माल्य, नीरव मोदी, ललित मोदी, मेहुल चौकसी के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जाती है। इसलिये हमने यह तय किया है कि 2019 में कांग्रेस की सरकार केन्द्र मे बनने पर कर्ज अदा न कर पाने वाले किसानों को जेल में नहीं डाला जाएगा। राहुल के इतना कहते आमसभा स्थल तालियों से गूँज उठा। इस दौरान लोग स्वप्रेरणा से चौकीदार चोर है का नारा लगाने लगे। आपने लोगों से पूँछा कि, कभी किसी किसान या मजदूर के घर के बाहर चौकीदार को खडा देखा है ? जबाव आया नहीं। आपने अंबानी के घर के बाहर चौकीदार देखे हैं……. हाँ। अंबानी के घर के बाहर खड़े रहने वाले चौकीदारों में से एक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी हैं। जो कि दिनभर देश के 15 सबसे भ्रष्टअमीर लोगों की चौकीदार करते है। जिसके एवज में वे मोदी की मार्केटिंग करते है और फिर मोदी उन्हें आर्थिक लाभ पहुंचाते है। राहुल ने कहा- वो 15 चोरों का है, मैं आपका हूँ। उन्होंने ने कहा कि आप आज कहीं बोलो चौकीदार तो जबाब मिलेगा चोर है।

एक साल में 22 लाख सरकारी नौकरियाँ देंगे

कांग्रेस के स्टार प्रचारक एंव राष्टी्रय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने अमानगंज की आमसभा में भावनात्मक अंदाज में कहा कि मैं आप लोगों से लम्बा रिश्ता बनाने बनाना चाहता हूँ। इसलिये मैं आपसे झूठ नहीं बोलूंगा। मैं जनता हूँ कि झूठ की बुनियाद पर मजबूत रिश्ते नहीं बनते। इतना कहते ही आमसभा स्थल राहुल गाँधी जिंदाबाद, कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद और चौकीदार चोर है के नारों से गूँजने लगा। लोगों को खुद से जोड़ते हुए उन्होंने कहा कि मोदी जी अपने मन की बात बताते हैं लेकिन मैं आपके मन की बात जानने आया हूँ। क्योंकि, मालिक आप हैं। युवाओं के रोजगार के मुद्दे पर मोदी को घेरते हुए बताया कि चुनाव के समय युवाओं को हर साल दो करोड़ नौकरियाँ देने का वादा किया गया था। लेकिन 5 सालों में हमारे युवाओं को नौकरियाँ नहीं मिलीं। मैं आपको बताना चाहता हूँ कि केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर हम खाली पड़े 22 लाख सरकारी पदों पर भर्ती करेंगे। इसके अलावा 10 लाख युवाओं को पंचायतों में रोजगार देंगे।
राहुल गाँधी ने अपने अंदाज में कहा कि इस चुनाव में मुकाबला सच्चाई और झूठ के बीच नफरत और प्यार के बीच है। वो झूठ और नफरत फैलाते है, आपको तय करना है कि नरेन्द्र मोदी के मन की बात वाली सरकार बनानी है या फिर हिन्दुस्तान के मन की बात सुनने वाली सरकार बनानी है। इस अवसर पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में हुए व्यापमं घोटाले की जाँच का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ से बुन्देलखण्ड विशेष पैकेज के कार्यों में हुये व्यापक भ्रष्टाचार की भी चुनाव बाद जाँच करवाने की बात कही। राहुल गाँधी ने इस अवसर पर मध्यप्रदेश के सभी कांग्रेस प्रत्याशियों को विजयी बनाने की अपील की। साथ ही प्रचंड धूप और गर्मी में उन्हें सुनने के लिए दूर-दूर से आए लोगों के प्रति आभार प्रकट किया।

जनता चिल्ला रही… मोदी जी आख़िरी दिन आ गए !

आमसभा में बोलते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि 120 दिन पहले हमें ऐसा मध्य प्रदेश सौंपा गया जो किसानों की आत्महत्या, बलात्कार, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार के मामले में नम्बर एक पर था। बेहद चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में हमने सत्ता संभाली है। महज 75 दिन के अंदर आए बदलाव की तस्वीर आपके सामने है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि मैं आपको निराश नहीं करूँगा। हमनें अब तक 50 लाख किसानों में से 21 लाख किसानों का कर्जा माफ़ कर दिया। शेष किसानों का भी 2 लाख तक का कर्जा जल्दी माफ़ किया जायेगा। डिफाल्टर किसानों सहित चालू खाता धारकों का भी कर्ज माफ होगा। हमें 75 दिन काम करने का मौका मिला इसके बाद आचार संहिता लग गई। सरकार ने अपनी नीति और नियत स्पष्ट कर दी है, हमने वृद्धा पेंशन बढ़ाई हमने कन्या विवाह राशि को बढ़ाकर 51 हज़ार रूपए किया, हमने बिजली के बिल घटाये और पिछड़ी जातियों को 27 प्रतिशत आरक्षण देने की वर्षों पुरानी माँग को पूरा किया है। आज भारत का नौजवान अपने हाथों में रोजगार चाहता है। पन्ना, दमोह और कटनी में हम रोजगार लाएंगे, किसान कर्ज में न डूबे, युवाओं को काम मिले हम इस नीति पर काम कर रहे हैं। मोदी जी अच्छे दिन की बात करते थे अब जनता कह रही है मोदी सरकार के आखिरी दिन आ गए हैं।

बीजेपी के राज में देश सुरक्षित नहीं

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मोदी जी गंगा साफ करने की बात करते हैं, शिवराज कहते थे नर्मदा साफ करेंगे और 600 करोड़ का वृक्षारोपण कर दिया। एक करोड़ रूपए का भी वृक्षारोपण नहीं हुआ। 6 सौ करोड़ का घोटाला कर जेब में पैसे डाल लिये। मोदी जी ने गंगा सफाई के नाम पर देश के बैंक साफ कर दिए। अब मोदी जी दो करोड़ रोज़गार की बात नहीं करते, 15 लाख देने की बात नहीं करते। कहते हैं मेरे हाथों में देश सुरक्षित है। क्या 5 साल पहले देश सुरक्षित था ? मोदी जी याद रखिएगा जब आपने पैंट और पैजामा पहनना नहीं सीखा था तब पंडित जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गाँधी ने देश में फौज बनाई थी। देश की एयरफ़ोर्स बनाई थी, नेवी बनाई थी। देश में सैनिक स्कूल खोले थे, मिलिट्री अकादमी खोली थी,डिफेंस अकादमी खोली थी। उन्होंने आतंकी हमलों पर भाजपा और मोदी को घेरते हुए पूँछा- “जब संसद में हमला हुआ किसकी सरकार थी, कारगिल हुआ तब किसकी सरकार थी, अभी हाल में पुलवामा हुआ तब किसकी सरकार थी, यह सब भयानक आतंकी हमले भारतीय जनता पार्टी की सरकार में हुए।” आप जनता को गुमराह कर रहे हैं कलाकारी कर रहे हैं जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अमानगंज की आमसभा उपस्थित जनसमुदाय से कहा कि आगामी 6 तारीख को आप अपने भविष्य का बटन दबाएंगे। अभी 75 दिन का हमारा काम देखा है 175 और 275 दिनों के हमारे काम को देखकर मोदी जी शिवराज जी मुंह दिखाने के लायक नहीं रहेंगे।