मध्यप्रदेश : रेत खनन के कारोबार नई कंपनियों की एंट्री, पुराने दिग्गज हुए बाहर

0
3685
सांकेतिक फोटो।

* पन्ना समेत अन्य जिलों की नीलामी के परिणाम अटके

* होशंगाबाद जिले की रेत खदानें सर्वाधिक 217 करोड़ में हुईं नीलाम

भोपाल। (www.radarnews.in) प्रदेश सरकार द्वारा लागू की गई नई रेत खनन नीति के तहत हुई रेत खदानों की ई-नीलामी से इस कारोबार में नई कंपनियों की एन्ट्री हुई है। तेलंगाना और उत्तर प्रदेश की कंपनियों ने सर्वोच्च बोली लगाकर अधिकाँश जिलों की रेत खदानें हांसिल की है। इस बार की नीलामी से रेत के पुराने बड़े कारोबारी बाहर हो गए है। पिछली भाजपा सरकार में रेत के रसूखदार बड़े कारोबारी रहे शिवा कार्पोरेशन को इस बार एक भी रेत खदान नहीं मिली है। दक्षिण भारत के राज्य तेलंगाना की कंपनी पावरमैक प्रोजेक्ट लिमिटेड को प्रदेश के सीहोर, भिंड एवं होशंगाबाद जिले की सभी महत्वपूर्ण रेत खदानें मिलीं है। इसी तरह उत्तर प्रदेश की कंपनी मेसर्स केपी सिंह भदौरिया को दतिया, मंडला डिंडोरी और वीरेंद्र सिंह जादौन ने टीकमगढ़, धार व अलीराजपुर जिले की रेत खदानें हांसिल की हैं।
सांकेतिक फोटो।
छतरपुर जिले की खदानें आनंदेश्वर एग्रो फ्रूड्स कंपनी को मिलीं है। फिलहाल पन्ना समेत कुछ जिलों की रेत खदानों की नीलामी कतिपय कारणों अटकी हुई हैं। बहुमूल्य खनिज सम्पदा की नीलमी से प्रदेश के खाली खजाने को भरने के उद्देश्य से लागू की गई नई रेत नीति के तहत रेत खदानों की नीलमी से कंपनियों और कारोबारियों ने बढ़चढ़ कर बोली लगाई है उससे सरकार को उम्मीद से अधिक राजस्व मिलना तय है।

कंपनियों को मिली रेत खदानों की जिलावार सूची

 जिला      कंपनी का नाम      टेंडर की राशि
ग्वालियर- एमपी सेल्स कॉर्पोरेशन- 30.05 करोड़
दतिया- मेसर्स केपी सिंह भदौरिया- 38.86 करोड़
शिवपुरी- विनस माइनिंग एंड मिनरल्स- 21.21 करोड़
अशोकनगर- कुल 9 एच-1 हैं।- 11.25 करोड़
जबलपुर- आराध्या लॉजिस्टिक सॉल्यूशन- 31.54 करोड़
कटनी- विस्टा सेल्स प्राइवेट लिमिटेड- 56.175 करोड़
नरसिंहपुर- धनलक्ष्मी मरचंडाईस प्रालि.- 63.05 करोड़
छिंदवाड़ा- शिशिर खंडार- 27.27 करोड़
सिवनी- जय महाकाल एसोसिएट- 18.99 करोड़
मंडला- मेसर्स केपी सिंह भदौरिया- 36.59 करोड़
डिंडोरी- मेसर्स केपी सिंह भदौरिया- 12.94 करोड़
बालाघाट- राजेश पाठक- 34.99 करोड़
रीवा- कुल 3 एच-1 हैं।- 1.01 करोड़
भोपाल- राव कंस्ट्रक्शन- 45 लाख
सीहोर- पावरमेक प्रोजेक्ट्स लिमिटेड- 109 करोड़
रायसेन- राजेंद्र रघुबंशी- 71.71 करोड़
विदिशा- विवेक पटेल- 3.36 करोड़
बैतूल- होटल उमा रेसीडेंसी- 32.50 करोड़
होशंगाबाद- पावर मेक प्रोजेक्ट्स लिमिटेड- 217 करोड़
हरदा- उज्जवल चौहान- 27.27 करोड़
देवास- परम एजेंसीस- 41.65 करोड़
रतलाम- डीएस एंड कंपनी- 1.10 करोड़
मंदसौर- मां भगवती कंस्ट्रक्शन- 39.37 करोड़
धार- वीरेंद्र सिंह जादौन- 3.21 करोड़
अलीराजपुर- वीरेंद्र सिंह जादौन- 27.33 करोड़
खरगौन- आरके गुप्ता कांट्रेक्टर्स एंड इंजीनियर्स- 17.28 करोड़
बड़वानी- अंबे सप्लायर्स- 1.50 करोड़
बुरहानपुर- बुरहानपुर- 11.67 करोड़
भिंड- पावरमेक प्रोजेक्टस लिमिटेड- 20.50 करोड़
सिंगरौली- आरके ट्रांसपोर्ट एंड कंस्ट्रक्शन लि.- 36.33 करोड़
सीधी- सैनिक इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड- 35.35 करोड़
दमोह- मूसा कंस्ट्रक्शन- 1.13 करोड़
छतरपुर- आनंदेश्वर एग्रो फूड्स- 75.99 करोड़
टीकमगढ़- वीरेंद्र सिंह जादौन- 10.32 करोड़
उमरिया- आरएसआई स्टोन वर्ल्ड- 37.00 करोड़
अनूपपुर- केजी डेवलपर्स- 13.63 करोड़