Homeभारतमध्यप्रदेश : दिग्विजय सिंह ने जगतगुरु शंकराचार्य का आशीर्वाद लेकर भरा नामंकन,...

मध्यप्रदेश : दिग्विजय सिंह ने जगतगुरु शंकराचार्य का आशीर्वाद लेकर भरा नामंकन, प्रचंड गर्मी में हजारों की संख्या में पहुँचे समर्थक

* भोपाल सीट से कांग्रेस प्रत्याशी हैं दिग्विजय सिंह

* लोकसभा चुनाव के लिए चार सेट में दाखिल किया नामांकन

भोपाल। रडार न्यूज   मध्यप्रदेश के भोपाल संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने शनिवार को कलेक्ट्रेट पहुँचकर अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन भरने के पूर्व उन्होंने पत्नी अमृता सिंह के साथ झरनेश्वर मंदिर पहुंचकर जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती जी महाराज के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया। नामांकन दाखिल करने विशाल रैली के रूप में कलेक्ट्रट कार्यालय पहुँचे दिग्विजय सिंह के साथ उनके परिजन एवं सुरेश पचौरी, मंत्री पीसी शर्मा, गोविंद सिंह, आरिफ मसूद, विभा पटेल सहित कई नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे। कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के साथ उनके हजारों समर्थक भी तेज धूप में कलेक्ट्रेट पहुंचे।
नामांकन से पूर्व दिग्विजय सिंह ने सपत्नीक जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया।
इस दौरान भारी भीड़ के चलते एक तरफ की सड़क पर जाम की स्थिति रही। दिग्विजय सिंह के नामांकन को देखते हुए कलेक्ट्रेट में सुरक्षा के भारी इंतजाम रहे। बताया जा रहा है कि भारी भीड़ के चलते किसी तरह की अव्यवस्था न फैले इसलिए दिग्विजय सिंह खुद समर्थकों बाहर किया। दिग्विजय सिंह ने रिटर्निंग ऑफिसर के समक्ष चार सेट में नामांकन दाखिल किए है। चारों सेट में उनके अलग-अलग प्रस्तावक हैं। इनमें पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, प्रदेश सरकार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा, चाचौड़ा विधायक और दिग्विजय के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह और बैरसिया की जयश्री हरिकरण शामिल बताए जा रहे हैं। नामांकन भरने के बाद दिग्विजय सिंह ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि- “भोपाल एक ग्लोबल सिटी हो, जहाँ हम दुनियाभर से रोजगार अपने यहां ला सकें।” इस अवसर पर उनके पुत्र एवं कमलनाथ सरकार में मंत्री जयवर्धन सिंह ने कहा कि दिग्विजय विकास के मुद्दे पर प्रचंड बहुमत से चुनाव जीतेंगे।

चुनावी मुकाबले पर देशभर की नजरें

भोपाल सीट से नामांकन दाखिल करते कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह।
मालूम हो कि भोपाल सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के खिलाफ बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को चुनावी महासमर में उतारा है। मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर फिलहाल जमानत पर हैं। उन पर आतंकी घटनाओं की साजिश में शामिल होने के बेहद गम्भीर आरोप हैं। पिछले दिनों भोपाल सीट पर लम्बे इंतजार के बाद बीजेपी प्रत्याशी के रूप में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के नाम का ऐलान होने के बाद से पार्टी के कई नेता नाराज बताए जा रहे हैं। टिकिट के दावेदार रहे भाजपा के स्थानीय नेता इस फैसले को अपनी उपेक्षा के तौर पर देख रहे हैं। भोपाल सीट भाजपा का मजबूत गढ़ मानी जाती है। पिछले कई चुनाव से यहाँ भाजपा प्रत्याशी जीत रहे हैं। लेकिन, इस बार कांग्रेस ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को भोपाल से चुनाव मैदान में उतारकर भाजपा के लिए मुकाबले को बेहद चुनौतीपूर्ण बना दिया है।

दिग्विजय सिंह।

इसके मद्देनजर बीजेपी ने भोपाल सीट से अपने मौजूदा सांसद आलोक संजर का टिकिट काटकर दिग्विजय सिंह को टक्कर देने के लिए साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर दांव लगाया है। भाजपा के रणनीतिकारों का मानना साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के आने से मतदाताओं का ध्रुवीकरण करना उसके लिए आसान होगा। जबकि विकास के एजेंडे को आगे रखकर चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के चुनावी प्रबंधन, सघन जनसम्पर्क, मिल रहे जन समर्थन और भोपाल की फिजा में बदलाव की बयार को देखते हुए भाजपा के सामने अपने गढ़ को बचाने की चुनौती है। इस लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश की भोपाल सीट के चुनावी मुकाबले पर देश भर की नजरें टिकीं है। चुनाव परिणाम चाहे जो भी रहे पर यहाँ मुकाबला काफी संघर्षपूर्ण होने की उम्मीद है।
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments