लोकसभा चुनाव-2019 : अंतर्राज्यीय सीमावर्ती नाकों और मतदान केन्द्रों का कलेक्टर-एसपी ने किया सघन निरीक्षण

0
794

* मतदान केन्द्रों में उपलब्ध सुविधाओं की ली गई जानकारी

* गड़बड़ी को रोकने प्रत्येक नाके पर सतत निगरानी बनाए रखने के दिए निर्देश

पन्ना। रडार न्यूज   खजुराहो संसदीय क्षेत्र अंतर्गत आने वाले पन्ना जिले में निष्पक्ष एवं स्वतंत्र निर्वाचन संपन्न कराने के लिए प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे है। उत्तर प्रदेश के बाँदा जिले की सीमा से सटे पन्ना जिले में निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद बनाए रखने के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी पन्ना मनोज खत्री एवं पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी द्वारा संयुक्त रूप से भ्रमण कर अजयगढ़ जनपद क्षेत्र की अन्तर्राज्यीय सीमा में स्थापित नाकों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने नाकों पर नियुक्त एफएसटी एवं एसएसटी टीमों से चर्चा कर जानकारी हांसिल की। कलेक्टर ने दल के सदस्यों को निर्देश दिए कि नाकों पर सतत निगरानी बनाए रखें। जिससे किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो। पुलिस अधीक्षक श्री अवस्थी ने दल के सदस्यों को निर्देश देते हुए कहा कि नाकों से गुजरने वाले वाहनों का पूर्ण विवरण पंजीबद्ध किया जाना चाहिए।
मतदाताओं को मिलें सुविधायें
कलेक्टर मनोज खत्री ने सीमा से लगे विभिन्न मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हरदी में स्थापित मतदान केन्द्र क्रमाँक 121 एवं 122 का निरीक्षण कर बीएलओ से चर्चा करते हुए पूर्व के मतदान प्रतिशत की जानकारी एवं मतदान केन्द्र के मतदाताओं के संबंध में चर्चा की। इसी प्रकार माध्यमिक शाला एवं प्राथमिक शाला नरदहा, देबलपुर आदि के मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने निर्देश दिए कि भारत निर्वाचन आयोग की मंशानुसार मतदान केन्द्र पर मतदाताओं के लिए सुविधाएं होनी चाहिए। मतदान केन्द्र पर मतदाताओं के लिए छायावान, पेयजल की व्यवस्था के साथ-साथ महिला एवं पुरूष के लिए पृथक-पृथक शौचालय स्थापित होना चाहिए। उन्होंने मतदान का प्रतिशत बढाने के लिए चुनावी पाठशाला का संचालन कर मतदाता जागरूकता के कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए।

सीसीटीव्ही कैमरों का बैकअप सुरक्षित रखें

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने रामनगर, हरनामपुर, रामनई, बरौली, तरौनी, मोकछ, छनेहा, अजयगढ़ की सीमा पर स्थित अन्तर्राज्यीय वन नाका पन्ना आदि का निरीक्षण किया। मौके पर स्थापित सीसीटीव्ही कैमरों के संचालन की व्यवस्था, कैमरों का बैकअप रखने की व्यवस्था, नाकों से गुजरने वाले वाहनों की पंजी का संधारण आदि अवलोकन किया। उन्होंने निर्देश दिए कि सीसी टीवी कैमरे निरंतर चालू रखे जाएं। विद्युत अपरोध की स्थिति से निपटने के लिए सीसीटीव्ही कैमरों को बैट्ररी से जोड़कर चालू रखा जाए। प्रत्येक नाके पर सुरक्षा प्वाइंट बनाकर जवान को तैनात रखा जाए। नेटवर्क के संबंध में चर्चा करते हुए पुलिस अधीक्षक श्री अवस्थी ने कहा कि जहां नेटवर्क की परेशानी है वहां मोबाईल फोन के माध्यम से बैकअप लेकर सुरक्षित रखा जाए। राज्य की सीमा से आने वाली शराब अथवा अन्य सामग्री जो मतदान को प्रभावित करती हो उस पर पूरी तरह रोक लगाई जाए।

लापरवाही की तो होगी कठोर कार्यवाही

कलेक्टर मनोज खत्री ने निर्वाचन के लिए गठित दलों को निर्देश दिए कि हमें निष्पक्ष एवं स्वतंत्र निर्वाचन को सम्पन्न कराने के लिए हरसंभव प्रयास करने हैं। इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही बरतने वालों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। हमारे द्वारा जो भी निर्वाचन संबंधी कार्य किए जा रहे हैं उसमें पूरी पारदर्शिता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वाहनों का निरीक्षण पूरी मुस्तैदी के साथ करें। ऐसे व्यक्तियों पर भी कड़ी नजर रखी जाए जो मतदान को प्रभावित कर सकते हैं। क्षेत्र में ऐसे वातावरण का निर्माण किया जाए जिसमें आम मतदाता बगैर किसी भय के स्वतंत्र रूप से अपने मताधिकार का उपयोग कर सके। इस निरीक्षण के दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अजयगढ़ सुश्री आयुषी जैन, जनपद पंचायत अजयगढ़ के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस.के. मिश्रा के साथ राजस्व एवं पुलिस के क्षेत्रीय अधिकारी, कर्मचारी साथ रहे।