खजुराहो लोकसभा क्षेत्र : कांग्रेस प्रत्याशी ने शुरू किया चुनाव प्रचार, बीजेपी के खेमे में खींचतान जारी, उम्मीदवार के ऐलान में देरी से कार्यकर्ता निराश

0
1479
पन्ना विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत अजयगढ़ के भ्रमण के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी कविता सिंह स्थानीय पार्टी नेताओं के साथ।

* भाजपा के मजबूत किले को भेदने की बनने लगी रणनीति

* ब्लॉक स्तर पर कांग्रेस पदाधिकारियों की बैठकों का दौर जारी

शादिक खान, खजुराहो / पन्ना। रडार न्यूज   मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का मजबूत गढ़ बने खजुराहो संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस इस बार जीत का परचम लहराने की तैयारी में जुट गई है वहीं दूसरी ओर बीजेपी के प्रत्याशी की घोषणा में देरी के कारण दावेदारों के बीच जारी खींचतान से पार्टी में कलह और गुटबाजी बढ़ रही है। टिकिट की दौड़ में शामिल भाजपा नेता खुद को आगे बनाए रखने के लिए प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से दूसरों पर कीचड़ उछालने में जुटे हैं। सोशल मीडिया पर यह काम इन दिनों तेजी से चल रहा है। अपने नेता खिलाफ दुष्प्रचार (डर्टी पॉलिटिक्स) होने से नाराज समर्थकों में सिर फुटौवल जारी है। स्थिति यह है कि खजुराहो सीट पर कांग्रेस पार्टी ने जहाँ कई दिन पूर्व राजनगर विधायक विक्रम सिंह नातीराजा की पत्नी एवं खजुराहो नगर परिषद की अध्यक्ष कविता सिंह को अपना प्रत्याशी घोषित कर चुनाव प्रचार अभियान शुरू कर दिया है, वहीं भाजपा अब तक अपने किले को अपराजेय बनाए रखने योग्य उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं कर पाई है। चुनावी कार्यक्रम की उल्टी गिनती शुरू होने के मद्देनजर उम्मीदवार घोषित होने में लगातार विलम्ब होने से भाजपा कार्यकर्ता निराश है। कांग्रेस प्रत्याशी कविता सिंह ने इस स्थिति को भांपते हुए समय का पूरा सदुपयोग कर खजुराहो सीट पर इस बार इतिहास रचने की रणनीति बनाने में जुटी हैं। पूर्व छतरपुर राजघराने की बहू और पन्ना जिले के गुनौर विधानसभा क्षेत्र की बेटी कविता सिंह आत्म विश्वास से लबरेज है, उन्हें भरोसा है कि क्षेत्र से सीधा जुड़ाव होने का लाभ चुनाव में उन्हें चुनाव में अवश्य ही मिलेगा।

भाजपा सांसदों की नाकामी को बनाया मुद्दा


कांग्रेस प्रत्याशी का स्वागत करते भरत मिलन पाण्डेय।
पिछले दिनों गुनौर विधानसभा क्षेत्र के भ्रमण के दौरान पार्टी नेताओं और क्षेत्रीय लोगों को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस प्रत्याशी ने भावनात्मक अंदाज में बेटी के रिश्ते को उभारते हुए जोर देकर कहा कि- “बेटी कभी धोखा नहीं देती है, मैं भी जिले के लोगों को कभी धोखा नहीं दूँगी। आपकी हर उम्मीद पर खरी उतरूँगी।” कविता सिंह की यह बात लोगों के दिलों को छू गई। दरअसल, भाजपा के पूर्व एवं निवर्तमान सांसद द्वारा चुनाव के समय किये गए वादों को पूरा न करने से खुद को छला हुआ महसूस कर रहे जनमानस में व्याप्त निराशा और गुस्से को देखते हुए उन्होंने यह बात कही थी। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के पक्ष में जनमत निर्माण के लिए प्रत्याशी के साथ-साथ उनके विधायक पति विक्रम सिंह पसीना बहा रहे है।
गुनौर विस क्षेत्र के भ्रमण के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी कविता सिंह।
कविता सिंह जहाँ लोकसभा क्षेत्र में ब्लॉक स्तर पर पहुँचकर पार्टी पदाधिकारियों-कार्यकर्ताओं तथा आमजन से सीधे रूबरू हो रहीं है वहीं उनके पति पार्टी नेताओं सहित प्रमुख लोगों के घर पहुँचकर समर्थन प्राप्त करने के साथ-साथ चुनाव प्रचार में जुटने के लिए उन्हें सक्रिय कर रहे हैं। इस कवायद का उद्देश्य सबके सुझाव लेकर एक बेहतर चुनावी रणनीति तैयार करना है ताकि कई दशक बाद भाजपा को उसके मजबूत गढ़ में शिकस्त दी जा सके। फ़िलहाल जहाँ कांग्रेस की चुनावी तैयारियां तेजी से चल रहीं है और उसके खेमे में उत्साह का माहौल बना है वहीं भाजपा प्रत्याशी की घोषणा में देरी होने तथा हर दिन नए नाम चर्चाओं में आने से पार्टी कार्यकर्ता निराश है। भाजपा के अंदर अब यह आशंका भी गहराने लगी है कि इस पशोपेश की स्थिति में चुनौती का सही आँकलन करके अंतिम समय में यदि सशक्त उम्मीदवार का चयन नहीं किया गया तो पार्टी को नुकसान उठाना पड़ सकता है।

इनका कहना है –

“खजुराहो सीट पर उम्मीदवार के नाम के ऐलान में थोड़ी देर अवश्य हो रही है, पर भरोसा रखिये निर्णय दुरुस्त ही होगा। हमारे यहाँ व्यक्ति नहीं बल्कि पार्टी महत्वपूर्ण होती है। इसलिए पार्टी जिसे भी अपना प्रत्याशी घोषित करती है सब मिलकर उसे विजयी बनाने में जुट जाते है। प्रत्याशी चाहे जो भी हो खजुराहो सीट पर इस बार भी बीजेपी ही जीतेगी क्योंकि क्षेत्र का जनमानस हमारे साथ है। हालिया विधानसभा चुनाव के नतीजे इसका प्रमाण है। लोग केन्द्र में मोदी जी के नेतृत्व में एक मजबूत सरकार चाहते जो देश को सुरक्षा प्रदान करने के साथ-साथ विकास के पथ पर आगे ले जाने में सक्षम है। खजुराहो क्षेत्र को रेल लाइन की सौगात, चौड़ीं सड़कें मोदी जी के ही कार्यकाल में मिली है।

आशीष तिवारी, जिला मीडिया प्रभारी भाजपा पन्ना।

” अति पिछड़े इस क्षेत्र के लोगों ने विकास की उम्मीद में लगातार कई बार भारतीय जनता पार्टी के सांसदों को प्रचंड बहुमत से विजयी बनाकर दिल्ली भेजा है, लेकिन वे संसद में क्षेत्र की जनता की आवाज को बुलंद नहीं कर सके। चुनाव के समय जो वादे किये उन्हें भी पूरा नहीं किया। जनसमस्याओं के निराकरण और विकास से जुड़े मुद्दों पर भाजपा सांसदों ने घोर उदासीनता बरती है। इनके नाकारेपन का खामियाजा आज समूचे खजुराहो संसदीय क्षेत्र के लोग भुगत रहे हैं। भाजपा के झूठे वादों के कारण ही लोगों ने प्रदेश की शिवराज सरकार को उखाड़ फेंका है, अब बारी केन्द्र की मोदी सरकार की है। रहा सवाल खजुराहो सीट का तो कांग्रेस पार्टी ने यहाँ से योग्य एवं क्षेत्रीय प्रत्याशी के रूप में कविता सिंह को उतारा है, इस बार खजुराहो सीट पर कांग्रेस पार्टी जीत की इबारत लिखेगी।”

मनोज गुप्ता, कांग्रेस नेता विधानसभा क्षेत्र पन्ना।