वारदात : बहिन के विवाह में व्यस्त था युवक…देर रात प्रेमिका ने फोन कर मिलने बुलाया, फिर हुआ कुछ ऐसा जिससे गाँव में पसरा मातम ?

0
1863
घटनास्थल पर मौजूद ग्रामीण एवं थाना पुलिस बल।

* पत्नी के प्रेमी की गोली मारकर हत्या करने का मामला

* मृतक के परिजनों का आरोप योजनाबद्ध तरीके से की गई हत्या

* पन्ना जिले के बृजपुर थाना के पहाड़ीखेरा चौकी क्षेत्र की घटना

* कुछ दिन पूर्व एक अधेड़ ने चरित्र संदेह पर पत्नी की कर दी थी हत्या

हरिशंकर पाण्डेय/रुपेश जैन, पन्ना।(www.radarnews.in) मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में बृजपुर थाना के पहाड़ीखेरा चौकी क्षेत्र अंतर्गत रविवार-सोमवार की दरम्यानी रत एक नवयुवक की गोली मारकर नृशंस हत्या कर दी गई। सनसनीखेज वारदात के बाद से इलाके में तनाव और मातम का माहौल निर्मित है। मृतक की पहचान सुखेन्द्र गौंड़ पिता सुखदिन्ना गौंड़ 22 वर्ष निवासी ग्राम भसूड़ा गोंड़नटोला के रूप में हुई है। हत्या की जघन्य वारदात को कथित तौर प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमिका के पति द्वारा अंजाम देने का आरोप मृतक के परिजनों ने लगाया है। हालाँकि पुलिस ने अब तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। जिस समय सुखेन्द्र की हत्या की गई उस समय उसके घर पर बहिन की बारात आई थी और खुशी के माहौल में विवाह की रस्में चल रहीं थीं। इस बीच जब अचानक सुखेन्द्र की हत्या की दुखद खबर आई तो सब स्तब्ध रह गए। अँधे कत्ल की इस वारदात का खुलासा करने के लिए पुलिस संदिग्ध आरोपी की तालाश में जुटी है।

मातम में बदलीं विवाह की खुशियाँ

मृतक सुखेन्द्र आदिवासी का शव।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सुखेन्द्र पिता सुखदिन्ना गौंड़ 22 वर्ष निवासी ग्राम भसूड़ा गोंड़नटोला का प्रेम प्रसंग समीपी गाँव मोहनपुरा निवासी एक नवविवाहिता के साथ लम्बे समय से चल रहा था। दोनों के परिवार वालों को इसकी जानकारी थी। कुछ समय पूर्व ही नवविवाहिता अपने मायके मोहनपुरा आई थी। रविवार 9 जून को सुखेन्द्र पिता सुखदिन्ना गौंड़ 22 वर्ष निवासी ग्राम भसूड़ा गोंड़नटोला के घर पर बहिन के विवाह का कार्यक्रम चल रहा था। इस दौरान सुखेन्द्र गौंड़ अपने बारातियों के स्वागत-सत्कार में व्यस्त था। तभी देर रात कथिततौर पर प्रेमिका ने उसे कॉल करके मिलने के लिए बुलाया। रात में सुखेन्द्र जब मोहनपुरा के लिए रवाना हुआ तो रास्ते में स्कूल के समीप किसी ने उसे गोली मार दी। सिर में गोली लगने से सुखेन्द्र गौंड़ की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। उधर, जवान बेटे की मौत का दुखद समाचार जब परिजनों को मिला तो आदिवासी परिवार में कोहराम मच गया। बेटी के विवाह की रस्मों के बीच आई इस स्तब्ध करने वाली खबर से विवाह की खुशियाँ एक पल में ही मातम में तब्दील हो गईं।
बहिन के वैवाहिक कार्यक्रम में सुखेन्द्र को जिन लोगों ने व्यस्त देखा था उन्हें कुछ देर तो इस खबर पर भरोसा ही नहीं हुआ। लेकिन जब परिजन, रिश्तेदार और ग्रामीण मौके पर पहुँचे तो मोहनपुरा के शासकीय स्कूल के सामने सड़क किनारे सुखेन्द्र गौंड का खून से लथपथ शव देखकर सबके होश उड़ गए। आनन-फानन में इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मृतक के परिजनों का आरोप है कि सुखेन्द्र की प्रेमिका का पति घटना के समय गाँव में ही था। उसी ने योजनाबद्ध तरीके से सुखेन्द्र की गोली मारकर हत्या की है। हत्या की वारदात के बाद से संदिग्ध आरोपी फरार है। थाना पुलिस उसकी धरपकड़ के प्रयास में जुटी है।

पहले घर से भाग चुका है प्रेमी युगल

हत्या की वारदात के बाद शोकमग्न बैठीं गाँव की महिलायें।
अविवाहित नवयुवक सुखेन्द्र गौंड़ 22 वर्ष और उसकी स्वजातीय विववाहित प्रेमिका के सम्बंध में पता चला है कि दोनों कुछ माह पूर्व में अपने घर से भाग गए थे। इसके बाद दोनों परिवारों के बीच काफी विवाद हुआ था। लेकिन सामाजिक बदनामी के डर और बेटी के वैवाहिक जीवन के मद्देनजर मायके पक्ष ने इस घटना की रिपोर्ट नहीं की थी। चौतरफा दबाब बढ़ने पर युवती कुछ दिन बाद ही वापिस गाँव लौट आई थी। जबकि सुखेन्द्र बहिन के विवाह में शामिल होने के लिए महीने भर पूर्व ही गाँव आया था। प्रेम प्रसंग के चलते सुखेन्द्र हत्या की वारदात की खबर आने के बाद से इलाके में इसे लेकर तरह-तरह की चर्चाएँ व्याप्त है। उल्लेखनीय है कि गत दिनों पन्ना जिले में कुछ इसी तरह की एक अन्य हैरान करने वाली घटना सामने आई थी। यहाँ के शाहनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत सुडौर में केत बाई आदिवासी 38 वर्ष को गाँव के ही एक युवक से बात करते हुए देखने पर पति रम्मू आदिवासी ने चरित्र संदेह के चलते कुल्हाड़ी से प्रहार कर निर्ममतापूर्वक हत्या कर दी थी। मृतिका केत बाई पाँच बच्चों की माँ थी। पत्नी की हत्या करने के बाद रम्मू आदिवासी ने थाना शाहनगर पहुंचकर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया था।