हृदय विदारक हादसा : बाइक सवार दम्पत्ति को ठोकर मारकर भागा कंटेनर, पति की मौके पर दर्दनाक मौत, पत्नी की हालत गम्भीर

0
2506
पन्ना जिले की विश्रामगंज घाटी में हुए भीषण सड़क हादसे का शिकार बाइक चालक का शव और समीप ही अचेत अवस्था में पड़ी उसकी घायल पत्नी।

* पन्ना जिले के अजयगढ़ थाना अंतर्गत विश्रामगंज घाटी में हुआ हादसा

* इलाज कराकर पन्ना से वापस अपने गांव हरसैनी लौट रहे थे पाल दम्पत्ति

पन्ना। (www.radarnews.in) मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में एक बेलगाम कंटेनर बाइक सवार युवा दम्पत्ति को ठोकर मारकर मौके से भाग निकला। इस हृदय विदारक हादसे में पति की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई जबकि अत्यंत ही गम्भीर रूप से घायल पत्नी जिंदगी और मौत से जूझ रही है। यह भीषण हादसा सोमवार 9 सितम्बर की शाम पन्ना से करीब 20 किलोमीटर दूर अजयगढ़ मार्ग पर विश्रामगंज घाटी में हुआ। हादसे की जो तस्वीरें आईं है वह अत्यंत ही भयावह और विचलित करने वालीं है। सड़क पर खून से लथपथ पड़े दम्पत्ति के संबंध राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी। तब जाकर घायल महिला दीपा पाल 25 वर्ष को अचेत अवस्था में इलाज के लिए पन्ना जिला चिकित्सालय लाया गया।
सड़क हादसे में असमय काल-कवलित हुए बाइक चालक की पहचान महेन्द्र पाल 30 वर्ष निवासी ग्राम हरसैनी थाना अजयगढ़ के रूप में हुई है। जानकारी अनुसार पाल दम्पत्ति पन्ना से इलाज कराकर शाम करीब 5 बजे वापस अपने गांव लौट रहा थे, तभी रास्ते में बेहद खतरनाक विश्रामगंज घाटी के मोड़ पर यह दुखद हादसा हुआ। बाइक सवार दम्पत्ति को सीधी ठोकर मारने के बाद अज्ञात तेज रफ़्तार कंटेनर मौके से भाग निकला। समाचार लिखे जाने तक उसे पकड़ा नहीं जा सका था। कंटेनर की ठोकर लगने से बाइक चालक महेन्द्र पाल 30 वर्ष वर्ष का चेहरा और सिर बुरी तरह फट चुका था। परिणामस्वरूप महेन्द्र ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। जबकि उसकी घायल पत्नी दीपा पाल 25 वर्ष अभी भी जिंदगी और मौत से जूझ रही है। सोशल मीडिया पर आईं इस हादसे की तस्वीरों में जब लोगों ने राजेश के शव की भयावह स्थिति को देख तो कलेजा काँप उठा। इस दर्दनाक हादसे की खबर फैलने के बाद से समूचे अजयगढ़ क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है।
उल्लेखनीय है कि सीढ़ीनुमा संचरना के घुमावदार मोड़ वाली विश्रामगंज घाटी मरम्मत के आभाव में काफी जर्जर हो चुकी है। इस प्राचीन घाटी मार्ग से प्रतिदिन रेत के ओवरलोड वाहनों की निकासी के चलते घाटी के मोड़ों पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए है जिससे यहां आए सड़क हादसे हो रहे हैं।