कार्यपालन यंत्री उमा गुप्ता को राज्य सरकार ने “एक्सीलेंट इंजीनियर अवार्ड” से किया सम्मानित

0
584
केन बेतवा लिंक परियोजना जल संसाधन संभाग पवई की कार्यपालन यंत्री श्रीमती उमा गुप्ता को उत्कृष्ट अभियंता पुरुष्कार प्रदान करते हुए जल संसाधन विभाग के मंत्री तुलसीराम सिलावट एवं विभाग के शीर्ष अधिकारीगण।

*     प्रेशर इरिगेशन से संबंधित कार्यों में 3 साल के प्रदर्शन के आधार पर उत्कृष्ट कार्य के लिए मिला पुरुष्कार

पन्ना।(www.radarnews.in) केन बेतवा लिंक परियोजना के नवगठित जल संसाधन संभाग पवई, जिला पन्ना की कर्मठ और तेज तर्रार कार्यपालन यंत्री श्रीमती उमा गुप्ता को राज्य सरकार ने उत्कृष्ठ अभियंता अवार्ड से सम्मानित किया है। जल संसाधनों के विकास एवं प्रेशर इरिगेशन में विगत 3 वर्षों में संपादित किये गए विशेष उल्लेखनीय कार्य के आधार पर कार्यपालन यंत्री उमा गुप्ता को उत्कृष्ठ अभियंता के पुरस्कार के रूप में पच्चीस हजार रुपए की नकद राशि तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। गत दिनों राजधानी भोपाल में आयोजित भव्य गरिमामयी समारोह उन्हें यह पुरुष्कार जल संसाधन विभाग के मंत्री तुलसीराम सिलावट तथा मंत्री किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग ऐंदल सिंह कंसाना के द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर जल संसाधन विभाग के शीर्ष अधिकारी उपस्थित थे। केबीएलपी कार्यपालन यंत्री पवई श्रीमती गुप्ता को मध्य प्रदेश शासन के द्वारा सम्मानित किए जाने पर पन्ना जिले के प्रशासनिक अधिकारियों, जल संसाधन संभाग पन्ना तथा जिले के अन्य निर्माण विभागों के तकनीकी अधिकारियों-कर्मचारियों ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें बधाई दी है।
बता दें कि, जल संसाधन विभाग द्वारा विगत वर्षों में जल संसाधनों के विकास एवं उच्च दक्ष दाब युक्त भूमिगत पाइप प्रणाली द्वारा सिंचाई क्षेत्र में उल्लेखनीय वृद्धि करते हुए जल उपयोग दक्षता उन्नयन के क्षेत्र में विश्व स्तर पर मध्यप्रदेश की पहचान बनाई है। इस विशिष्ट कार्यों के फलस्वरूप मध्यप्रदेश राज्य को गतवर्ष राष्ट्रीय पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया था। इस विकास यात्रा में महती भूमिका निभाने वाले कर्मठ अभियंताओं को मुख्यमंत्री एवं मंत्री जल संसाधन विभाग मध्यप्रदेश शासन, द्वारा विगत तीन वर्षों के कार्यों के आधार पर “जल संसाधन विभाग उत्कृष्ट कार्य पुरस्कार” से सम्मानित करने का निर्णय लिया गया। इसी क्रम में दिनांक 20 फरवरी 2024 को समन्वय भवन न्यू मार्केट भोपाल में मंत्री जल संसाधन विभाग तुलसीराम सिलावट, किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग मंत्री ऐंदल सिंह कंसाना, अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा तथा प्रमुख अभियंता, जल संसाधन विभाग शिशिर कुशवाह की गरिमामयी उपस्थिति में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। उक्त कार्यक्रम में सागर संभाग से चयनित श्रीमती उमा गुप्ता कार्यपालन यंत्री, केन बेतवा परियोजना जल संसाधन संभाग पवई को उनके द्वारा विगत तीन वर्षों में कार्यपालन यंत्री, जल संसाधन संभाग पवई तथा कार्यपालन यंत्री जल संसाधन संभाग बुरहानपुर के रूप में संपादित किए गए उल्लेखनीय कार्य हेतु उत्कृष्ठ अभियंता के पुरुष्कार स्वरूप नगद राशि रू. पच्चीस हजार तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

मध्यम सिंचाई परियोजनाओं को दिलाई पुनरीक्षित स्वीकृति

श्रीमती उमा गुप्ता द्वारा कार्यपालन यंत्री जल संसाधन संभाग पवई के कार्यकाल के दौरान रुन्ज तथा मझगांय मध्यम परियोजना की पुनरीक्षित प्रशासकीय स्वीकृति का प्रस्ताव तैयार कर शासन से स्वीकृति प्राप्त की गई तथा पवई मध्यम सिंचाई परियोजना की पुनरीक्षित प्रशासकीय स्वीकृति का प्रस्ताव तैयार कर शासन को प्रेषित किया गया। उक्त योजनाओं से 53330 हैक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा विकसित की जा रही है। इसके अतिरिक्त 6 नवीन सिंचाई योजना की डीपीआर तैयार कर प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त कर निविदा आमंत्रित की गई जिनसे 1467 हैक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध होगी। सात नवीन योजनाओं को चिन्हित कर उनकी साध्यता प्राप्त की गई जिनसे 2480 हैक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता विकसित करने हेतु डीपीआर तैयार की जा रही है। साथ ही पुरानी निर्मित योजनाएं, जिनसे रूपांकित सिंचाई क्षमता के अनुरूप सिंचाई नहीं हो पा रही थी, के भी सुधार एवं उन्नयन हेतु कार्य योजना तैयार कर सिंचाई क्षमता अनुरूप विकसित करने का कार्य किया गया।