सोशल-डिजिटल मीडिया सहित सभी प्रचार माध्यमों का जनसंपर्क प्रभावी उपयोग करे : मंत्री श्री शर्मा

0
1061
जनसम्पर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने मंत्रालय में प्रेजेंटेशन के माध्यम से विभागीय कार्य-प्रणाली की जानकारी प्राप्त की।

* जनसंपर्क मंत्री पी. सी. शर्मा ने विभाग का प्रेजेन्टेशन देखा

* अधिमान्यता एवं पत्रकार कल्याण समितियां तत्काल प्रभाव से भंग

भोपाल। रडार न्यूज  जनसंपर्क, विधि-विधायी कार्य मंत्री पी.सी. शर्मा ने मंत्रालय में जनसंपर्क विभाग की प्रथम बैठक में विभागीय संरचना, कार्य-प्रणाली एवं गतिविधियों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि विभाग संचार के आधुनिक माध्यमों को अपनायें और प्रदेश सरकार द्वारा जारी वचन-पत्र पर प्रभावी रूप से अमल हों। जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने आज जनसंपर्क विभाग का कार्यभार ग्रहण कर मंत्रालय में विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। जनसंपर्क मंत्री ने कहा कि शासन की मंशानुरूप विभाग कार्य करें और सरकार की गतिविधियों का सोशल-डिजिटल मीडिया सहित जनसंचार के सभी माध्यमों पर प्रभावी प्रचार-प्रसार किया जाये। श्री शर्मा ने जी.टी.बी. काम्प्लेक्स (न्यू मार्केट) स्थित सूचना केन्द्र (लायब्रेरी) की समय अवधि बढ़ाने के लिए कहा।

जनसम्पर्क मंत्री पी.सी.शर्मा ने जनसम्पर्क विभाग के आयुक्त पी. नरहरि से विभागीय गतिविधियों की जानकारी ली।
बैठक में आयुक्त एवं सचिव जनसंपर्क पी. नरहरि ने प्रेजेन्टेशन के माध्यम से विभागीय गतिविधियों एवं संरचना को विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि वचन-पत्र में जनसंपर्क विभाग से संबंधित सभी बिन्दुओं पर कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है, जिसके प्रस्ताव तुरंत प्रस्तुत किये जाएंगे। इसके पहले आज सुबह जनसंपर्क मंत्री श्री शर्मा के मंत्रालय स्थित अपने कक्ष पहुँचने पर सचिव एवं आयुक्त जनसंपर्क पी. नरहरि और विभागीय अधिकारियों ने जनसंपर्क मंत्री का पुष्प-गुच्छ भेंट कर स्वागत किया एवं शुभकामनाएँ दी। मंत्री श्री शर्मा ने अधिकरियों से परिचय भी प्राप्त किया।

अधिमान्यता समितियों का होगा पुनर्गठन

राज्य शासन द्वारा राज्य, जिला और तहसील-स्तरीय अधिमान्यता के लिये गठित राज्य एवं संभाग-स्तरीय समिति, पत्रकार संचार कल्याण समिति, पत्रकारिता के लिये विभिन्न सम्मानों के चयन संबंधी समितियों और पत्रकारों की कठिनाइयों के अध्ययन के लिये गठित समितियों का पुनर्गठन करने का निर्णय लिया गया है। इसके लिये वर्तमान में गठित सभी समितियाँ तत्काल प्रभाव से भंग कर दी गई हैं।