गुड न्यूज | राष्ट्रीय कृषि कल्याण अभियान में छतरपुर, राजगढ़ जिले को मिला प्रथम स्थान

0
1152
सांकेतिक फोटो।

देश के 112 जिलों में चलाया जा रहा अभियान

अभियान में मध्यप्रदेश के 8 जिलों को मिली श्रेष्ठ रैंकिंग

भोपाल। रडार न्यूज केन्द्रीय कृषि मंत्रालय के राष्ट्रीय कृषि कल्याण अभियान में चलाये जा रहे कार्यक्रमों में प्रदेश के छतरपुर और राजगढ़ जिले को संयुक्त रूप से पहला स्थान मिला है। इन जिलों में अभियान के तहत बेहतर काम किया गया है। अभियान में प्रदेश के 8 जिलों छतरपुर, राजगढ़, गुना, विदिशा, सिंगरौली, बड़वानी, खण्डवा और दमोह को श्रेष्ठ रैंकिंग मिली है।

छतरपुर जिले में इस वर्ष एक जून से 14 अगस्त के दौरान लक्ष्य का शत-प्रतिशत 5362 स्वाइल हेल्थ-कार्ड बाँटे गये हैं। जिले में 4104 मिनी किट्स, सामाजिक वानिकी क्षेत्र में बाँस-रोपण में निर्धारित लक्ष्य से अधिक 25 हजार पौधों का रोपण किया गया है। नाडेप में शत-प्रतिशत और कृत्रिम गर्भाधान में निर्धारित लक्ष्य 2500 के विरुद्ध 2525 की उपलब्धि हासिल की गई है। कृषि आदान में निर्धारित किये गये 250 लक्ष्य के विरुद्ध 615 और किसानों के ट्रेनिंग प्रोग्राम में लक्ष्य 75 के विरुद्ध 357 उपलब्धि हासिल की गई है।

अभियान में राजगढ़ को भी पहला स्थान मिला है। यहाँ पर 16 हजार 919 स्वाइल हेल्थ-कार्ड, लक्ष्य से अधिक 4050 मिनी किट्स वितरित किये गये हैं। सामाजिक वानिकी में शत-प्रतिशत, नाडेप में लक्ष्य से अधिक 572, कृषि आदान में लक्ष्य 250 के विरुद्ध 340 और किसानों के ट्रेनिंग प्रोग्राम में 75 के लक्ष्य के विरुद्ध 101 की उपलब्धि हासिल की गई है। अभियान में गुना दूसरे स्थान पर, विदिशा को छठवाँ, सिंगरौली को सातवाँ, बड़वानी को नौवाँ, खण्डवा को 12वाँ और दमोह जिले को 16वें स्थान की रैंकिंग मिली है।

केन्द्रीय कृषि मंत्रालय का कृषि कल्याण अभियान महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। अभियान में किसानों को कृषि आमदनी बढ़ाने के लिये विभिन्न प्रकार की मदद उपलब्ध करवाई जा रही है। कृषि कल्याण अभियान में देश के 112 जिलों में स्वाइल हेल्थ-कार्ड, मिनी किट्स, कृषि वानिकी, नाडेप, कृत्रिम गर्भाधान, कृषि आदान और ट्रेनिंग प्रोग्राम क्रियान्वित किये जा रहे हैं।