BJP नेता ने पुलिस थाना में खाया जहर, हालत बिगड़ने पर तड़पने लगा तो थाना प्रभारी बोलीं- ड्रामा कर रहा है, मौत होने से उपजा तनाव

0
1336
भाजपा नेता के द्वारा अमानगंज थाना में जहर खाकर जान देने की घटना के बाद थाना में निर्मित हड़कंप की स्थित को बयां कारता चित्र।

* छेड़छाड़ की झूठी रिपोर्ट पर को लेकर पुलिस पर प्रताड़ित करने का आरोप

* पन्ना जिले के अमानगंज थाना में हुई अप्रत्याशित घटना

* जन आक्रोश को देखते हुए एसपी ने थाना प्रभारी को किया निलंबित

पन्ना/अमानगंज। (www.radarnews.in) मध्यप्रदेश के पन्ना जिले के पुलिस थाना अमानगंज में गुरुवार को एक भाजपा नेता ने जहर खा लिया। छेड़छाड़ की कथित झूठी रिपोर्ट को लेकर पुलिस की प्रतड़ना से तंग आकर भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय उर्फ़ कित्ते पाण्डेय द्वारा आत्मघाती कदम उठाने की सनसनीखेज खबर आते ही अमानगंज सहित इलाके में तनाव फ़ैल गया। जहर के असर से कृष्ण कुमार की तेजी से बिगड़ती हुई हालत को देखते उसकी पत्नी और भाई तत्परता से इलाज हेतु चिकित्सालय ले जाने की गुहार पुलिस से लगाते रहे लेकिन कथित तौर संवेदनहीन थाना प्रभारी ने इसे ड्रामेबाजी बताते हुए समय रहते इलाज नहीं कराया। परिणामस्वरूप कृष्ण कुमार की हालत काफी नाजुक होने पर देर शाम उसकी मौत हो गई। स्तब्ध कर देने वाली इस अप्रत्याशित दुखद घटना को लेकर अमानगंज क़स्बा सहित आसपास के इलाके में जबरदस्त तनावपूर्ण स्थिति निर्मित है।
भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय उर्फ़ कित्ते पाण्डेय।
घटना में अमानगंज थाना पुलिस की भूमिका को लेकर पीड़ित परिजनों में तीव्र आक्रोश और असंतोष व्याप्त है। उनके द्वारा दोषी पुलिसकर्मियों एवं झूठी शिकायत करने वालों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध करने की मांग की जा रही है। अमानगंज थाना प्रभारी सुनीता जाटव की घोर लापरवाही और उसे लेकर लोगों के गुस्से को देखते हुए पन्ना पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने गुरुवार 7 नवम्बर की रात्रि में ही थाना प्रभारी को निलंबित कर लाइन अटैच कर दिया। बाबजूद इसके हालत अभी भी बेहद तनावपूर्ण होने के मद्देनजर किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए एहतियात के तौर पर अमानगंज क़स्बा सहित कमताना ग्राम में भारी पुलिस बल को तैनात किया गया है।

छेड़छाड़ की रिपोर्ट होने से था आहत

मृत भाजपा नेता की पत्नी जयश्री पाण्डेय।
भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा पन्ना के जिला उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार पाण्डेय उर्फ कित्ते पाण्डेय 45 वर्ष निवासी ग्राम कमताना की पत्नी जयश्री पाण्डेय ने जानकारी देते हुए बताया कि एक महिला और उसके परिजन मेरे पति को लम्बे समय से परेशान कर रहे थे। महिला द्वारा कई बार उनके पति की झूठी शिकायत की गई। गुरुवार 7 नवम्बर को उस महिला की छोटी बहिन अमानगंज थाना में मेरे पति के खिलाफ छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज कराने आई थी जिसका पता चलने पर कृष्ण कुमार पाण्डेय भी थाना पहुँच गया। अपने खिलाफ लिखाई जा रही रिपोर्ट को कृष्ण कुमार पाण्डेय ने झूठा बताते हुए थाना प्रभारी सुनीता जाटव को यह समझाने काफी कोशिश की गई कि उसे फंसाया जा रहा है। लेकिन इसका उन पर कोई असर नहीं हुआ। कथित तौर पर थाना प्रभारी ने कहा कि अब तो प्रकरण दर्ज हो गया है अब तुम्हें जेल जाना पड़ेगा। इससे आहत कृष्ण कुमार पाण्डेय उर्फ कित्ते पाण्डेय ने शाम करीब 4 बजे थाना में ही जहर खा लिया। कुछ ही देर में उसकी हालत तेजी से बिगड़ने लगी।

समय पर नहीं पहुंचाया अस्पताल

अमानगंज थाना में पीड़ित परिजनों एवं स्थानीय लोगों से बातचीत करते अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पन्ना बीकेएस परिहार।
अमानगंज थाना में मौजूद रहीं कृष्ण कुमार की पत्नी जयश्री आरोप है कि उनके पति चिल्लाते हुए बताते रहे कि मैंने जहर खा लिया है। पति को इलाज हेतु तुरंत चिकित्सालय भेजने के लिए जब उसने थाना प्रभारी से कहा तो वह बोलीं कि कृष्ण कुमार को कुछ नहीं हुआ वह ड्रामा कर रहा है। जयश्री और उसके देवरों ने रोते हुए बताया कि कृष्ण कुमार ड्रामा नहीं कर रहा है, उसने वाकई कुछ खा लिया है। लेकिन थाना में उनकी बात किसी ने नहीं सुनीं। कुछ देर बाद कृष्ण कुमार को उसके जीजा की मदद से उपचार हेतु पन्ना जिला चिकित्सालय लाया गया। यहाँ प्राथमिक उपचार होने एवं मृत्यु पूर्व कथन दर्ज किए जाने के बाद उसे मेडीकल कॉलिज रीवा के लिए रेफर कर दिया गया। रीवा ले जाते समय रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए रात्रि में सतना में रखा गया। परिजनों ने इस पर आपत्ति जताते हुए अमानगंज में ही पोस्टमार्टम कराने की बात कही। इससे कुछ देर के लिए सतना में पुलिस के समक्ष विचित्र स्थिति निर्मित हो गई। हालाँकि पुलिस अधिकारियों की समझाइश के बाद बमुश्किल परिजन शुक्रवार को सतना में पोस्टमार्टम कराने के लिए राजी हो गए।

हत्या नहीं करवा पाए तो प्रताड़ित करने लगे

पन्ना जिला चिकित्सालय में इलाज के दौरान कृष्ण कुमार पाण्डेय उर्फ़ कित्ते पाण्डेय।
भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय का पन्ना में इलाज के दौरान का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह कोतवाली थाना टीआई अरविंद कुजूर और पत्रकारों को बता रहे हैं कि, पन्ना के बेनीसागर मोहल्ला निवासी एक महिला और उसके परिजन जब मेरी हत्या नहीं करवा पाए तो मुझे प्रताड़ित करने लगे। यह सब पिछले एक साल से चल रहा था। वीडियो में कृष्ण कुमार ने बताया कि मैंने इस संबंध में कई बार थाना में शिकायत की और पुलिस अधीक्षक को भी आवेदन दिया। उनका आरोप है कि उक्त महिला ने विजय ओमरे निवासी बेनीसागर मोहल्ला पन्ना और शानू मिर्जा निवासी टिकुरिया मोहल्ला पन्ना से पहले मेरी हत्या कराने का प्रयास किया गया। जब मैं बच गया तो मेरी झूठी रिपोर्ट दर्ज करा दी। मैं बहुत ज्यादा प्रताड़ित हो गया। आज फिर मेरी झूठी रिपोर्ट हो रही थी। मैं थाना गया और मैडम (थाना प्रभारी) को रो-रोकर बताया। बाद में वहीं जहर खा लिया। मैंने मैडम से कहा परेशान मत करो मुझे, वह बोलीं तुझे जेल भेजना है।

पुलिस ने इलाज के लिए भेजा पन्ना

भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय द्वारा मृत्यु के पूर्व मीडियाकर्मियों को दिए गए बयान और उनकी पत्नी के आरोपों के संबंध में जब उप निरीक्षक सुनीता जाटव से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जैसे ही उन्हें यह पता चला कि कृष्ण कुमार पाण्डेय ने कुछ खा लिया है तो तुरंत ही मैंने उसे उपचार के लिए पुलिस वाहन से जिला चिकित्सालय पन्ना के लिए रवाना किया। इस बात की तस्दीक थाना के सीसीटीव्ही कैमरों के फुटेज से की जा सकती है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को दोपहर में एक युवती अपने परिजनों के साथ थाना में आई थी उसने कृष्ण कुमार के खिलाफ लिखित आवेदन दिया। कुछ देर बाद कृष्ण कुमार अपने परिजनों के साथ थाना आए और बोले की यह शिकायत झूठी है। वह मुझसे बोले कि आप उक्त युवती के भाई के खिलाफ मेरी पत्नी की ओर से भी छेड़खानी की रिपोर्ट दर्ज करें। मैंने उनकी मानसिक स्थिति को देखते हुए समझाया कि अभी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है, आवेदन पत्र जांच में है।
भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय उर्फ़ कित्ते पाण्डेय की मौत के संबंध में उनके जीजा द्वारा थाना पुलिस को दी गई शिकायत।
उप निरीक्षक सुनीता जाटव ने बताया कि इस युवती की बड़ी बहिन की रिपोर्ट पर भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय के विरुद्ध दिनाँक 01 जून 2019 को थाना में धारा 354,506 आईपीसी के तहत आपराधिक प्रकरण पूर्व में दर्ज हुआ था। इसके कुछ माह पहले भाजपा की ही महिला नेत्री अमिता बागरी ने भी कृष्ण कुमार पाण्डेय के खिलाफ पुलिस से शिकायत की थी। लेकिन इस पर क्या कार्रवाई हुई थी मुझे जानकारी नहीं है। आपने कृष्ण कुमार को धमकाने और अपशब्द कहते हुए अपमानित करने के आरोपों को पूर्णतः असत्य और निराधार बताया है।

इनका कहना है –

“यह घटना अत्यंत ही दुखद है, इसकी हर पहलू से बारीकी से जांच कराई जा रही है जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल अमानगंज थाना प्रभारी सुनीता जाटव को निलंबित कर लाइन अटैच किया गया है।”

बीकेएस परिहार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पन्ना।