पुलिस की बड़ी कार्रवाई | 18 जुआरियों से 8 गाड़ियाँ, 66 हजार रुपये और 15 मोबइल फोन जप्त

0
1345
जंगल में जुआ खेलते पकड़े गये दो जिलों के जुआरी पुलिस हिरासत में।

जंगल में फोर व्हीलर की लाइट व गैस लालटेन जलाकर खेल रहे थे जुआ

पुलिस की रेड पड़ने पर मुख्य जुआरी रुपये समेटकर भाग निकलने में हुए कामयाब

पन्ना। रडार न्यूज    मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में पुलिस ने जंगल में चल रहे जुआ के एक फड़ में छापा मारकर 18 जुआरियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस इनसे 8 गाड़ियाँ, 66 हजार रुपये, 15 मोबइल फोन और तांस के पत्तों समेत अन्य सामग्री जप्त की है। पकड़े गये जुआरियों में कई आरोपी पड़ोसी जिला छतरपुर के निवासी है जोकि जुआ के फड़ में दांव लगाने आये थे। सोमवार 3 सितंबर 2018 की रात अंतर जिला स्तरीय जुआ के फड़ में छापे की कार्रवाई को मुखबिर से मिली सटीक सूचना पर सुनवानी थाना क्षेत्र के ग्राम उड़ला में किशनगढ़ रोड के किनारे जंगल में अंजाम दिया गया। पुलिस की रेड पड़ते ही वहां भगदड़ मच गई, इस बीच झाड़ियों की ओट और अत्याधिक पथरीली जमीन पर चार पहिया वाहनों से पीछा करना संभव न होने का लाभ उठाते हुए करीब 10-15 जुआरी रुपये समेटकर भाग निकलने में सफल हो गये। बाबजूद इसके पन्ना पुलिस की इस महत्पूर्ण कार्रवाई को बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है।

पुलिस के आने की लग गई थी भनक

जुआरिओं से जप्त वाहन, मोबइल फोन, रुपये आदि दिखाते थाना प्रभारी अमानगंज राकेश तिवारी।

जुआ के फड़ पर छापामार कार्रवाई पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह के निर्देशन में एसडीओपी गुनौर धर्मेश दीक्षित के नेतृत्व में की गई। उल्लेखनीय है कि पकड़े गए आरोपी उड़ला के जंगल में मुख्य मार्ग से करीब आधा किलोमीटर वन विभाग की नर्सरी पास जमीन में तिरपाल (मोटी पॉलिथीन) बिछाकर फोर व्हीलर वाहनों की लाइट व गैस लालटेन की रोशनी में जुआ खेल रहे थे। पुलिस पूंछतांछ में जुआरियों ने बताया कि वे सभी किराये पर चार पहिया वाहन लेकर जुआ खेलने के लिए आये थे। किसी को संदेह न हो इसलिए वे अपने अधिकांश वाहन जुआ के फड़ से 2-3 किलोमीटर दूर खड़े करवा देते थे। जब तक जुआ का फड़ चलता तब तक सड़क के दोनों और 5-6 किलोमीटर तक इनके लोग वहां से गुजरने वाले वाहनों समेत आसपास की हर हलचल पर कड़ी नजर रखते थे। जरा सी भी गड़बड़ समझ में आने पर मोबइल से तुरंत खबर देकर जुआ के फड़ में जमे अपने साथियों को अलर्ट कर देते थे। लिहाजा सोमवार को पुलिस टीम ने जुआ पकड़ने जब जंगल में प्रवेश किया तो जुआरियों को तुरंत इसकी भनक लग गई। कथित रूप से छतरपुर जिले का निवासी मुख्य जुआरी संतोष दादा, सोनू कांडा और 10-12 अन्य आरोपी जुआ फड़ से बड़ी रकम समेटकर भाग निकले। क्षेत्र में ऐसी चर्चा है कि जुआरियों के पास करीब 16-20 लाख रुपये थे।

इन्हें किया गिरफ्तार

जुआरियों के जप्त वाहन जिन्हें वे किराये पर लेकर जुआ खेलने आये थे।

जंगल में जुआ खेलते पकड़े गये जुआरियों में अनिल दुबे पुत्र गनेश दुबे 42 गल्लामंडी, मुईन अहमद पुत्र अजमत अहमद 30 कछियाना मोहल्ला, जुबेर अहमद पुत्र शब्बीर अहमद नारायण बाग, ऋतिक रैकवार पुत्र राजेश रैकवार 19, फिरोज खान पुत्र परवेज खान 24, नीरज मिश्रा पुत्र अरविंद मिश्रा तेरा पहाड़ी सभी निवासी छतरपुर, जावेद मोहम्मद पुत्र सादिक मोहम्मद 24, जाहिद मोहम्मद पुत्र सादिक मोहम्मद, कृष्णा रैकवार पुत्र शिवकुमार रैकवार 22, नसीम बेग पुत्र मजीद बेग 30, शमशाद खां पुत्र शब्बीर खां 24 सभी निवासी आगरा मोहल्ला पन्ना, रंजीत शर्मा पुत्र आनंदी शर्मा 30 ग्राम गहरा थाना पन्ना, फिरोज पुत्र याकूब 27 रानीबाग टगरा पन्ना, मोहम्मद इजरार पुत्र साबिर मोहम्मद 31 सिली साकेतनगर गुनौर, जय कुमार पुत्र लाल जी पटेल 30 नौराही थाना गुनौर, अनिरुद्ध सिंह पुत्र चंद्रभान सिंह गढ़ोखर थाना अमानगंज, इमरान पुत्र मजीद खान 24 कृष्णगढ़ थाना पवई, संजय पुत्र केदार सिंह यादव 24 हिनौता थाना मड़ला शामिल हैं। अमानगंज थाना पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ जुआ एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी अमानगंज राकेश तिवारी, थाना प्रभारी सिमरिया याकूब खान और उनकी टीम की सराहनीय भूमिका रही।

इनका कहना है- जहां जुआ फड़ चल रहा था वहां करीब 5-6 किलोमीटर में कटीली झाड़ियां और अत्यधिक पत्थर होने के कारण जुआरियों का चार पहिया वाहन से पीछा कर पकड़ना संभव नहीं था, इसलिए कुछ मुख्य जुआरी भाग गये। सीमित पुलिस बल के साथ हमने फिर भी 18 जुआरियों और उनके 8 वाहनों को पकड़ा है।

– धर्मेश दीक्षित एसडीओपी गुनौर, जिला पन्ना