एमपी में पुलिस के संरक्षण में चल रहा पशु तस्करी का धंधा!

0
1434
गौवंशीय पशुओं से भरे इसी ट्रक से वसूली को लेकर कटनी और पन्ना जिले की पुलिस के बीच हांथापाई हुई।

पशु तस्करों से वसूली को लेकर भिड़ी दो जिलों की पुलिस

पन्ना के शाहनगर थाना प्रभारी के साथ कटनी के आरक्षक ने की मारपीट

गौवंश का परिवहन कर रहे वाहन से वसूली को लेकर हुआ था विवाद

बदनामी के डर से जांच के नाम पर मामले को दबाने में जुटे पुलिस अधिकारी

पन्ना। रडार न्यूज मध्यप्रदेश अजब है-गजब है, यहाँ जो कुछ भी हो रहा है शायद वह कम ही है। गौवंशीय पशुओं के संरक्षण की दुहाई देने वाली शिवराज सरकार के राज में उनकी ही पुलिस के संरक्षण में पशु तस्करी का गोरखधंधा चल रहा है। गुरूवार की रात पन्ना और पड़ोसी जिले कटनी पुलिस के बीच पशु तस्करों से वसूली को लेकर हुआ विवाद इस बात का प्रमाण है। गौवंशीय पशुओं का परिवहन कर रहे ट्रक से इन्ट्री वसूली को लेकर दोनाेें जिलों के सीमावर्ती थानांे की पुलिस आपस में उलझ गई और देखते ही देखते उनके बीच मारपीट की नौबत आ गई। पुलिस महकमे को शर्मसार करने वाली इस घटना में पन्ना के शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर दयाल आठ्या के साथ कटनी जिले के कुठला थाना के आरक्षक अजय दुबे के ऊपर मारपीट करने के आरोप लग रहे है। वहीं कटनी पुलिस का कहना है कि शाहनगर थाना प्रभारी उनके क्षेत्र मेें आकर अपने पद का रौब दिखाते हुए गौवंश से भरे ट्रक को छोड़ने का अनुचित तरीके से दबाव डाल रहे थे, मना करने पर वह गालीं-गालौंज पर उतर आये।

वाहन छोड़ने से मना करने पर हुई हाथापाई

कटनी जिले के कुठला थाना में बैठे शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर दयाल आठ्या।

कटनी पुलिस के अनुसार पन्ना जिले के शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर दयाल आठ्या गुरूवार रात को मवेशियों से भरे एक ट्रक को छोड़ने के लिए अपने थाना क्षेत्र से लगी कटनी जिले की सीमा तक पहुंच गये। कटनी जिला सीमा प्रवेश पर कुठला थाना क्षेत्र है। जहां कुठला थाने का पुलिस बल रात्रि में चैकिंग प्वाइंट लगाकर वाहनों की चैकिंग कर रहा था। शाहनगर की ओर से आये मवेशियों से भरे ट्रक कमांक एचआर 73-0985 को कुठला पुलिस ने रोक लिया। वाहन चालक ने बातचीत करने के बाद किसी को फोन लगाया और चंद मिनट बाद ही डायल 100 वाहन से शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर दयाल आठ्या मौके पर पहुंच गये। कथिततौर पर चैक पोस्ट पर वाहन को रोकने से नाराज श्री आठ्या स्थानीय पुलिसकर्मीयों पर बरस पड़े। आगबबूला टीआई को समझाने के लिए कुठला थाने के आरक्षक अजय दुबे ने बातचीत करने का प्रयास किया लेकिन थाना प्रभारी किसी की सुनने को तैयार नहीं थे, जिसको लेकर हुये विवाद में मामला झूमाझटकी और हांथापाई तक पहुंच गया।

इंट्री शुल्क लेकर निकाल रहे थे वाहन-

उधर, पन्ना पुलिस का कहना है कि बीते कुछ दिनों से मवेशियों से भरे वाहनों को जिले की सीमा से निकालने की शिकायतें मिल रही थीं। शिकायत थी कि पुलिस रूपये लेकर वाहनों को छोड़ रही है।

हंगामा बढ़ने पर कुठला थाना पहुंचे सीएसपी ने दोनों पक्षों को सुनकर विवाद की जानकारी ली।

कल रात शाहनगर थाना प्रभारी मुखबिर से मिली सूचना पर जब सीमावर्ती क्षेत्र में पहुंचे तो गौवंशीय पशुओं से भरे ट्रक से वसूली कर रहे कुछ लोग मौके से भाग खड़े हुए। पीछा करते हुए शाहनगर थाना प्रभारी पड़ोसी जिला कटनी के कुठला थाना के सीमा में पहुंच गये। जहां पर आरक्षक अजय दुबे ट्रक चालक से कथिततौर पर रूपये लेकर सीमा पार कराने का सौदा कर रहा था। श्री आठ्या को देखते ही वह सकते में आ गया। शाहनगर थाना प्रभारी ने जब उसे फटकार लगाते हुए वरिष्ठ अधिकारियों से शिकायत करने की बात कही तो दोनों के बीच विवाद हो गया। मामले के तूल पकड़ने पर आरक्षक ने अपने कुछ साथियों को मौके पर बुलाकर शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर दयाल आठ्या के साथ मारपीट कर दी। दो जिलों की पुलिस की आपसी लड़ाई की खबर जब देर रात वरिष्ठ अधिकारियों को लगी तो इस घिनौने कृत्य से विभाग की बदमानी के डर से मामले की जांच का हवाला देते हुए इसे दबाने की कवायद शुरू हो गई। दोनों ही जिलों के अधिकारी इस मामले पर खुलकर कुछ बोलने के बजाय गोलमोल जबाब दे रहे है।

इनका कहना है-

‘‘शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर दयाल आठ्या के साथ कटनी के कुठला के आरक्षक द्वारा अभ्रदता की गई है। जहां तक मुझे मामले की जानकारी है, रात्रि में शाहनगर थाना प्रभारी को सूचना मिली थी कि कुछ लोग गौवंशीय पशुओं से भरे वाहन से वसूली कर रहे है। थाना प्रभारी जब मौके पर पहुंचे तो संदिग्ध व्यक्ति भाग खड़े हुए, जिनका पीछा करते हुए थाना प्रभारी कुठला थाने की सीमा पर पहुंच गये जहां यह विवाद हुआ। इस मामले की जांच कुठला थाना पुलिस द्वारा की जा रही है। पशुओं का परिवहन करने वाले वाहनों से इंट्री वसूली की जानकारी संबंधित थाना प्रभारी ही दे सकते है।‘‘
                                                                       बी.के.एस परिहार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पन्ना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here