कटनी-कानपुर हाईवे पर दो ट्रकों के बीच सीधी भिड़ंत | बुरी तरह फंसे ड्राइवरों को रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर सुरक्षित निकाला  

0
994
तेज रफ्तार में आमने-सामने हुई ट्रकों की भीषण भिड़ंत का भयावह दृश्य।

पवई के समीप मुराछ ग्राम में हुआ हादसा, दो घंटे तक लगा रहा जाम 

अजित बढ़ौलिया, पवई। रडार न्यूज     पन्ना जिले में कटनी-कानपुर हाईवे पर पवई से करीब 6 किलोमीटर दूर मुराछ ग्राम के समीप मंगलवार 9 अक्टूबर की सुबह दो ट्रकों के बीच सीधी भीषण भिड़ंत हो गई। इस दुर्घटना में सामने से दोनों ट्रकों के परख्च्चे उड़ गए। बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुए ट्रकों में फंसे उनके घायल चालकों को रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर  करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद लहूलुहान हालत में सुरक्षित निकाला गया। दोनों की गंभीर हालत को देखते हुए पवई सामुदायिक स्वास्थय केंद्र में प्राथमिक इलाज के बाद उन्हें कटनी के लिए रेफरल कर दिया गया। ईश्वर का यह चमत्कार ही है कि ट्रकों के चकनाचूर होने के बाद भी उनमें फंसे जिंदगी और मौत से जूझते दोनों चालकों की जान बाल-बाल बच गई। ट्रक ड्राइवरों के रेस्क्यू ऑपरेशन के चलते पवई-कटनी मार्ग पर करीब दो घंटे तक जाम लगा रहा। जिससे मार्ग के दोनों और वाहनों की लंबी कतार लग गई। वाहनों के पहिए थमने से प्रभावित लोगों थोड़ा परेशान होना पड़ा।  प्राप्त जानकारी अनुसार प्रातः लगभग 8ः30 बजे ट्रक क्रमांक एचआर 67 बी- 5082 जो पन्ना से कटनी की और जा रहा था एवं ट्रक क्रमांक डब्लूबी 37 सी- 2483 जो कटनी से पन्ना की और बेहद तेज रफ्तार से जा रहा था रास्ते में ग्राम मुराछ के समीप दोनों की आमने-सामने भिण्डत हो गई।

ग्रामीणों ने तत्परता से शुरू किया बचाव कार्य 

ट्रक से घायल ड्राइवर को बाहर निकालते मुराछ के ग्रामीणजन।

सुबह-सुबह हुए इस भीषण दुर्घटना की भनक लगते ही मुराछ के लोग मौके पर पहुंचे और  बिना किसी देरी के उनमें फंसे चींखते-चिल्लाते मदद की गुहार लगाते दोनों ड्राइवरों को बचाने में जुट गए। उधर इस हादसे की खबर मिलने पर पवई एसडीओपी बीएस परिहार, थाना प्रभारी पवई दलबल के साथ कुछ देर बाद पहुंच गए और व्यवस्थित तरीके से राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया। ग्रामीणों और पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर जेसीबी मशीन की मदद से ट्रकों के क्षतिग्रस्त हिस्से में फंसे चालक आजाद खान 45 वर्ष निवासी मेरठ उत्तर प्रदेश व कोदो पाल 50 वर्ष निवासी सतना को करीब दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सुरक्षित बाहर निकाला गया। इन दोनों को तुरंत  इलाज हेतु पवई ले जाया गया। तब कहीं जाकर पवई-पन्ना मार्ग पर वाहनों का आवागमन बहाल हो सका। क्षतिग्रस्त ट्रकों में फंसे जिंदगी और मौत से जूझते चालकों की जान बचाने में पुलिस के साथ-साथ मुराछ के ग्रामीणों की सराहनीय भूमिका रही। सामने से टकराये दोनों ट्रकों की हालत देखकर लोग चालकों के जिंदा बचने को चमत्कार बता रहे हैं।