851 युवाओं को ऋण स्वीकृति पत्र और 808 को मिले नौकरी के लेटर

0
964
ममता जाटव को ई-रिक्शा की चाबी प्रदाय करतीं मुख्य अथिति मंत्री सुश्री कुसुम सिंह महदेले व अन्य अथितिगण ।

जिला स्तरीय हितग्राही एवं स्वरोजगार सम्मेलन आयोजित

विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत 4 हजार से भी अधिक हितग्राही हुए लाभान्वित

समूह की महिलाओं को 6 करोड़ से अधिक की राशि चैक द्वारा वितरित

पन्ना। रडार न्यूज    जिला स्तरीय हितग्राही एवं स्वरोजगार सम्मेलन पॉलीटेक्निक कॉलेज ग्राउण्ड पन्ना में सुश्री कुसुम सिंह महदेले मंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। जिसमें जिलेभर के 851 युवाओं को स्वरोजगार दिलाते हुए बैंक के ऋण स्वीकृति पत्र एवं 808 युवाओं को विभिन्न कम्पनियों में रोजगार दिलाते हुए लेटर ऑफ इन्टेन्ट वितरित किए गए। जिला स्तरीय सम्मेलन के माध्यम से शासन की विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत 4 हजार से भी अधिक हितग्राही लाभान्वित हुए। तेजस्वनी महिला संघ एवं राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के समूह की महिलाओं को बैंक लिंकेज योजना के माध्यम से 6 करोड़ 87 लाख 60 हजार रूपये की राशि चैक के माध्यम से प्रदाय की गयी। कार्यक्रम में युवाओं को रोजगार-स्वरोजगार दिलाने में उत्कृष्ट भूमिका निभाने वाले विभागीय एवं बैंक के अधिकारियों को भी सम्मानित किया गया। इस दौरान सिहोर जिले के बुधनी में आयोजित प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम से मुख्यमंत्री के उद्बोधन का सीधा प्रसारण भी देखा गया। कार्यक्रम में विभिन्न विभागों द्वारा विभागीय प्रदर्शनी लगाई गयी एवं कल्याणकारी योजनाओं संबंधी प्रचार सामग्री का वितरण भी किया गया।

युवाओं को रोजगार-स्वरोजगार दिलाकर समृद्ध राज्य बनाना है- महदेले 
जिला स्तरीय हितग्राही एवं स्वरोजगार सम्मेलन को संबोधित करतीं मंत्री सुश्री महदेले।

इस अवसर पर मंत्री सुश्री कुसुम सिंह महदेले द्वारा लाभान्ति हितग्राहियों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार दिलाकर प्रदेश को समृद्ध राज्य बनाना ही शासन की मंशा है। शासन द्वारा समाज के सभी वर्गो को रोजगार एवं स्वरोजगार दिलाने के लिए योजनाएं चलाई जा रही हैं। गरीबों के जीवन से गरीबी का कलंक मिटाने के उद्देश्य से शासन द्वारा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से उनके जीवन में सुख सुविधाएं पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। जिलेवासी भी इन योजनाओं का पात्रता अनुसार लाभ उठाएं और सुखी एवं समृद्ध जीवन का आनन्द लें। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष रविराज सिंह यादव ने कहा कि युवा और उनके माता-पिता युवाओं के भविष्य को लेकर बहुत चिंतित रहते हैं। जिसकी वजह सही समय पर समुचित मार्गदर्शन न मिल पाना है। युवाओं को अब घबराने की आवश्यकता नही है क्योंकि यह मार्गदर्शन देने का कार्य प्रदेश शासन द्वारा किया जा रहा है।

युवाओं को सही मार्गदर्शन की आवश्यकता- बागरी

गुनौर विधायक महेन्द्र सिंह बागरी ने कहा कि युवाओं में हुनर की कमी नहीं है। केवल उन्हें अपने कार्य में दक्षता एवं मार्गदर्शन प्रदाय करने की आवश्यकता है। शासन द्वारा रोजगार- स्वरोजगार की अनेकां योजनाएं चलाने के साथ-साथ कौशल उन्नयन के लिए केन्द्र भी चलाए जा रहे हैं। इससे निश्चित ही युवा कार्यकुशल होकर अपनी योग्यता अनुरूप कॅरियर बना सकेंगे। कार्यक्रम में बुन्देलखण्ड विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष महेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि इन स्वरोजगार सम्मेलनों के माध्यम से बाहर की कम्पनियों को जिले में बुलाकर युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। इससे युवाआें को अन्य प्रदेशों में जाकर रोजगार के लिए भटकना नहीं पड़ता। जिला योजना समिति के सदस्य  सतानन्द गौतम ने कहा कि आज का यह कार्यक्रम बहुत ही सुखद है। एक साथ बडी संख्या में हितग्राहियों को लाभान्वित किया जा रहा है। जिनमें बडी संख्या में माताएं-बहनें भी शामिल हैं। इन सभी को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि आपके द्वारा की गयी पहल ओरों के लिए भी प्रेरणा स्त्रोत बनेगी। मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के लोगों का जीवन बदलने का संकल्प लिया गया है। जिसके परिणाम स्पष्ट दिखाई देने लगे हैं।

ये रहे उपस्थित

कार्यक्रम में जनपद पंचायत पन्ना उपाध्यक्ष अरविंद सिंह यादव ने असंगठित श्रमिकों से बच्चों को शिक्षा शुल्क नहीं लेने के संबंध में जानकारी प्रदाय की। जिला सहकारी प्रेस पन्ना के अध्यक्ष एवं पत्रकार बृजेन्द्र गर्ग द्वारा भी हितग्राहियों को सम्बोधित किया गया। कार्यक्रम में प्रभारी कलेक्टर एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा द्वारा कार्यक्रम के उद्देश्यों एवं रूपरेखा पर विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की गयी। कार्यक्रम में मंच संचालन परियोजना अधिकारी जिला पंचायत संजय सिंह परिहार द्वारा किया गया। इस दौरान जिला पंचायत उपाध्यक्ष माधवेन्द्र सिंह सहित विभिन्न जनप्रतिनिधिगण, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी अशोक चतुर्वेदी, मुख्य नगरपालिका अधिकारी अरूण पटैरिया, महाप्रबंधक जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र ए.आर. रजक, सहायक प्रबंधक जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र कुलदीप चौरहा, विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, पत्रकारबन्धु एवं बड़ी संख्या में लाभार्थी उपस्थित रहे।

ई-रिक्शा चलाने वाली जिले की प्रथम महिला बनी ममता

जिला स्तरीय हितग्राही एवं स्वरोजगार सम्मेलन के माध्यम से सुश्री कुसुम सिंह महदेले मंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी द्वारा नगरपालिका पन्ना अन्तर्गत स्वरोजगार योजना के तहत पन्ना शहर की निवासी ममता जाटव को ई-रिक्शा की चाबी प्रदाय की गयी। जिसके बाद ममता जाटव ई-रिक्शा से आजीविका चलाने वाली जिले की पहली महिला बन गयी हैं। ममता ई-रिक्शा चलाने को लेकर काफी उत्साहित है। मंत्री सुश्री महदेले सहित सभी जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों ने ममता को जिले की अन्य महिलाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत बनने पर शुभकामनाएं दी हैं।