विश्वकप फाइनल-2019 : मैच भी टाई और सुपर ओवर भी टाई लेकिन पहली बार इंग्लैंड बना विजेता

0
1092
Hindustan Times

* मैच में ज्यादा बाउंड्री लगाने के आधार पर इंग्लैंड चैम्पियन घोषित

* क्रिकेट के इतिहास में विश्वकप फाइनल का बेहद रोमांचक मुकाबला

लंदन एजेन्सी। क्रिकेट विश्पकप-2019 का फाइनल मुकाबला रोमांच की सारी की सारी हदें पार करते हुए धड़कनों को रोक देने वाला रहा। लॉर्ड्स मैदान पर सुपर ओवर तक खिंचे मुक़ाबले में इंग्लैंड ने न्यूज़ीलैंड को हराकर पहली बार विश्व कप जीता। कभी न भूलने वाले विश्वकप फाइनल के इस मुकाबले में मैच के साथ-साथ सुपर ओवर भी टाई रहा लेकिन मैच में सर्वाधिक बाउण्ड्री लगाने के चलते इंग्लैंड की टीम को विजेता घोषित किया गया। इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को वर्ल्ड कप के फाइनल में हरा दिया। वह पहली बार खिताब जीतने में सफल रहा। इस जीत के साथ ही इंग्लैंड वर्ल्ड कप जीतने वाला छठा देश बन गया है। इसके पूर्व वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान,भारत और श्रीलंका ने विश्व विजेता का खिताब जीता था। न्यूजीलैंड की टीम लगातार दूसरे फाइनल में हारी है। उसे पिछली बार उसे ऑस्ट्रेलिया ने हराया था।
Gareth Copley/Getty
मैच में बेन स्टोक्स और जोस बटलर की शतकीय साझेदारी की बदौलत इंग्लैंड की टीम 241 रन बना सकी। न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 8 विकेट के नुक्सान पर 241 रन बनाए थे। इंग्लैंड की टीम के भी 50 ओवर में 241 रन ही बनाने से मैच टाई हो गया। इसलिए मैच का फैसला कराने के सुपर ओवर में डाला गया। इंग्लैंड की ओर से बटलर और स्टोक्स ने सुपर ओवर में पहले बल्लेबाजी करते हुए 15 रन बनाए। न्यूजीलैंड के लिए ट्रेंट बोल्ट ने गेंदबाजी की।
The Hindu
सुपर ओवर में न्यूजीलैंड के लिए मार्टिन गुप्टिल और जेम्स नीशम ने बल्लेबाजी की। इन दोनों ने भी 15 रन बनाए। इस तरह सुपर ओवर भी टाई हो गया। इंग्लैंड के लिए जोफ्रा आर्चर ने गेंदबाजी की। मैच में ज्यादा बाउंड्री लगाने के आधार पर इंग्लैंड चैम्पियन घोषित किया गया। इस तरह क्रिकेट का जनक कहलाने वाला इंग्लैंड कई दशक बाद विश्पकप-2019 का विजेता बन गया।