डायल 100 का दुरूपयोग करने पर एएसआई समेत 3 पुलिसकर्मी लाइन अटैच

0
1853
देवेन्द्रनगर पुलिस थाना का वह डायल 100 वाहन जिसका उपयोग राशन की कालाबाजारी में किया गया

* रात के अंधेरे में 100 डायल वाहन से की थी शासकीय अनाज की कालाबाजारी

रमेश अग्रवाल, देवेन्द्रनगर (पन्ना) । रडार न्यूज   डायल 100 का दुरूपयोग कर ग्राम सिमरी मड़ैयन की शासकीय उचित मूल्य की दुकान से गरीबों के राशन की कालाबाजारी करने वाले एएसआई समेत 3 पुलिसकर्मियों को पुलिस अधीक्षक पन्ना विवेक सिंह ने तत्काल प्रभाव से देवेन्द्रनगर थाना से हटाते हुए लाइन अटैच कर दिया है। पिछले दिनों चर्चा में आये इस मामले का खुलासा ग्राम सिमरी मड़ैयन के जागरूक ग्रामीणों ने किया था। रात के अंधेरे में 100 डायल वाहन से शासकीय अनाज की पुलिसकर्मियों द्वारा कालाबाजारी किये जाने की शिकायत प्रत्यक्षदर्शियों ने तहसीलदार देवेन्द्रनगर व पुलिस थाना देवेन्द्रनगर में की थी। ग्रामीणों की शिकायत पर तहसीलदार व टीआई हिमांशु चौबे ने गांव पहुँचकर उनके व आरोपित पुलिसकर्मियों के बयान दर्ज किए थे।
देवेन्द्रनगर थाना प्रभारी द्वारा जांच प्रतिवेदन भेजे जाने पर पुलिस कप्तान ने विभाग की बदनामी से जुड़े इस प्रकरण को गंभीरता से लिया है। देवेन्द्रनगर टीआई हिमांशु चौबे ने जांच प्रतिवेदन में बताया है कि जिस दिन ये घटनाक्रम हुआ उस दिन 100 डायल पुलिस वाहन का ग्राम सिमरी मड़ैयन के लिए कोई इवेंट सूचना नहीं था। अर्थात डायल 100 वाहन को बिना शासकीय कार्य के मनमाने तरीके से ले जाया गया था। बिना इवेंट के वाहन को ग्राम सिमरी मड़ैयन ले जाने और उसमें सरकारी अनाज की बोरियां लादकर वाहन दुरुपयोग किया गया। इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने दोषी सहायक उपनिरीक्षक मान सिंह, प्रधान आरक्षक कुंजबिहारी व आरक्षक कृष्ण प्रताप सिंह यादव को तत्काल प्रभाव से लाइन अटैच कर विभागीय अमले को साफ संदेश दिया है कि अनुशासनहीनता और गलत कार्यों को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।