स्टूडेंट्स के साथ शिक्षकों और अधिकारियों ने झाड़ू लगाकर की सड़क की सफाई

0
1033
डीएव्ही स्कूल के सामने झाड़ू लगाकर सड़क की सफाई करते स्टूडेंट्स, शिक्षक और हीरा खनन परियोजना के अधिकारी-कर्मचारी।

हीरा खनन परियोजना मझगवां में ‘स्वच्छता सप्ताह’ का शुभारंभ

राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत शपथ लेकर “स्वच्छता के लिए किया श्रमदान”

मझगवां (पन्ना)।      इस्पात मंत्रालय के तत्वावधान में और ‘राष्ट्रव्यापी स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत एनएमडीसी लिमिटेड, हीरा खनन परियोजना में दिनांक 24 से 31 अगस्त 2018 तक ‘स्वच्छता सप्ताह’ आयोजित किया जा रहा है । परियोजना परिसर में स्थित डीएव्ही. पब्लिक स्कूल मझगवां के सामने सप्ताह-व्यापी स्वच्छता अभियान का शुभारंभ किया गया । इस अवसर पर परियोजना प्रबंधन समिति के सदस्य उप महाप्रबंधक के. चंद्रशेखर, उप महाप्रबंधक कार्मिक बी.के. माधव, उप महाप्रबंधक खनन डी. मैति, परियोजना के सभी विभागाध्यक्ष, अधिकारी, कर्मचारी, श्रमिक संघों के महामंत्री समर बहादुर सिंह और शहजाद खान, डीएव्ही स्कूल के प्राचार्य पी.सी. सिंह, शिक्षक एवं विद्यार्थी उपस्थित थे । कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए उप महाप्रबंधक कार्मिक बी.के. माधव ने सभी को ‘स्वच्छता शपथ’ दिलाई गई।

‘राष्ट्रव्यापी स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत सभी को ‘स्वच्छता शपथ’ दिलाते उप महाप्रबंधक कार्मिक बी.के. माधव।

इसके पश्चात स्वैच्छिक श्रमदान करते हुए एकत्रित जनसमूह ने विद्यालय के आस-पास के क्षेत्रों में सफाई अभियान चलाया गया । स्कूल के छात्र-छात्राओं के साथ शिक्षकों और हीरा खनन परियोजना के अधिकारियों-कर्मचारियों ने हाँथ में झाड़ू थामकर संयुक्त रूप से सड़क की साफ़-सफाई करते हुए स्वच्छता का संदेश दिया। स्वच्छता सप्ताह के अंतर्गत परियोजना परिसर एवं आसपास के क्षेत्रों में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा । विद्यार्थियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए डी.ए.व्ही. स्कूल सहित समीपवर्ती शासकीय हाईस्कूल, मिडिल स्कूल और प्राथमिक पाठशालाओं में विविध प्रतियोगिताओं सहित जागरूकता अभियान का आयोजन किया जा रहा है । उल्लेखनीय है कि हीरा खनन परियोजना की टाउनशिप समूचे पन्ना जिले में बेहतर साफ़-सफाई, स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति, जल निकासी की समुचित व्यवस्था और अपनी हरियाली के लिए जानी जाती है। इस विशेष ‘स्वच्छता सप्ताह’ के चलते परियोजना परिसर में स्वच्छता पर कहीं अधिक ध्यान देने के साथ-साथ लोगों को स्वस्थ जीवन के लिए इसे अपनाने के प्रति जागरूक किया जा रहा है।