चुनावों से पहले नेताओं पर प्रशासन की मेहरबानी ! फर्शी पत्थर और क्रेशर गिट्टी की डेढ़ दर्जन खदानें स्वीकृत, 2 रेत खदानों को भी मिली खनन की अनुमति 

0
1208
सांकेतिक फोटो।
शादिक खान, पन्ना। रडार न्यूज   जिला प्रशासन ने नेताओं व खनन कारोबारियों की सुध लेते हुए करीब 5-6 माह की अवधि में फर्शी पत्थर और क्रेशर गिट्टी की डेढ़ दर्जन खदानें स्वीकृत की हैं। इसके अलावा अजयगढ़ तहसील के चर्चित ग्राम मोहाना में 2 रेत खदानों को खनन की अनुमति प्रदान की गई है। नवीन स्वीकृत खदानों में कुछ विधानसभा चुनाव-2018 के पूर्व और कुछ खदानें लोकसभा निर्वाचन की आचार संहिता लगने के पूर्व स्वीकृत हुई है। मजेदार बात यह है कि इनमें कुछ खदानें भाजपा नेताओं की तो कुछ कांग्रेस नेताओं की हैं और कुछ उनके परिजनों तथा विश्वासपात्र लोगों की बताई जा रहीं है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नवीन स्वीकृत खदानों में 12 फर्शी पत्थर की और 4 क्रेशर गिट्टी की खदानें हैं। पन्ना से अपने स्थानांतरण से पूर्व जिला खनिज अधिकारी संतोष सिंह ने वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में जिले में रोजगार के अवसरों के सृजन और खनिज सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से खदानों की स्वीकृति में जिस तरह की तत्परता से दिखाई है उसकी चर्चा हर तरफ है। मालूम हो कि इसके पूर्व कलेक्टर शिवनारायण सिंह चौहान के कार्यकाल में खदान स्वीकृति के प्रकरणों का रिकार्ड तेजी के साथ निपटारा हुआ था। इनके बाद आईं तेज-तर्राट और ईमानदार छवि वाली कलेक्टर जे. पी. आइरीन सिंथिया ने काफी छानबीन के बाद गिनती की  खदानें ही स्वीकृत हैं। इसके उलट पूर्व में बंटन की भूमियों पर स्वीकृत की गईं कई खदानों को उन्होंने निरस्त कर दिया था। इस फैसले से प्रभावित होने वाले लोगों को लाखों रूपए की आर्थिक क्षति उठानी पड़ी थी।

रेत खनन की दी अनुमति 

नवीन कलेक्ट्रेट भवन पन्ना।
हाल ही में अजयगढ़ तहसील के ग्राम मोहना में केन नदी पर दो रेत खदानों को खनन की अनुमति जिला प्रशासन के द्वारा दी गई है। जिसमें पंचायत को आवंटित मोहना रेत खदान क्रमाँक -1 एवं शक्ति ट्रेडर्स ग्रुप के प्रोप्राइटर राजेन्द्र अग्रवाल निवासी कटनी की रेत खदान क्रमाँक- 2 शामिल है। करीब 6 हेक्टेयर क्षेत्रफल वाली यह खदान नीलामी की है। उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत को आवंटित मोहना रेत खदान क्रमाँक -1 में करीब 6 माह पूर्व खुलेआम मशीन से रेत का उत्खनन होने की जानकारी मिलने पर पन्ना पत्रकारों का एक दल वहाँ कवरेज करने गया था।  इस दौरान वहाँ नदी में पोकलेन मशीन उतारकर रेत निकली जा रही थी। पत्रकार जब उस मशीन को अपने कैमरों में कैद करने लगे तो वहाँ तैनात एक खदान संचालक के गुर्गों ने मोबाइल फोन छीन लिया था। लूट की इस घटना की रिपोर्ट अजयगढ़ थाना में दर्ज कराई गई थी। पंचायत को आवंटित इस खदान को मौके पर आपराधिक तत्वों दवारा पर्यावरण एवं खनन संबंधी निमय-कानूनों को ताक पर रखकर संचालित करने की ख़बरें प्रकाशित होने तथा स्थानीय ग्रामीणों द्वारा की गई शिकायत पर कार्यवाही करते हुए कलेक्टर मनोज खत्री ने इस खदान से रेत खनन पर रोक लगा दी थी।

जारी नहीं की गईं खबरें

सांकेतिक फोटो।
इस मामले में कुछ माह तक चली जाँच-पड़ताल की औपचारिकता के बीच मामला शांत पड़ने पर कुछ समय पूर्व इस खदान पर लगी रोक को हटा दिया गया है। इसके अलावा पंचायत की खदान के ही समीप स्थित मोहना रेत खदान क्रमाँक- 2 में शक्ति ट्रेडर्स को खनन की अनुमति दी गई है। खनिज से जुड़े प्रकरणों के निराकरण में जिला प्रशासन की तत्परता और संवेदनशीलता को देखते हुए यह कहना अतिश्योक्तिपूर्ण न होगा कि आमजन के आवेदनों का समाधान भी अगर इसी तर्ज पर होने लगे तो लोगों में व्यवस्था के प्रति भरोसा कायम किया जा सकता है। गौर करने वाली बात यह है कि, जिला प्रशासन की छोटी से छोटी गतिविधियों एवं कार्यवाही की खबरें जिला जनसम्पर्क कार्यालय के माध्यम से जारी कराकर मीडियाकर्मियों तक पहुँचाई जाती हैं, ताकि आमजन को उनकी जानकारी मिल सके। लेकिन, फर्शी पत्थर, क्रेशर गिट्टी की नई खदानें स्वीकृत करने तथा रेत खदानों को खनन की अनुमति प्रदान करने की महत्वपूर्ण खबर को जारी नहीं कराया गया। ऐसा क्यों किया गया यह बताना मुश्किल पर समझना आसान है।

पन्ना जिले में स्वीकृत फर्शी पत्थर एवं क्रेशर गिट्टी खदानें

क्र.

     नाम खदान ठेकेदार

  स्वीकृत            दिनांक

         स्थान

     रकबा

1. पंचम पिता अमृत लाल यादव    निवासी मोहड़िया, पवई  26. 02. 19 घोना, शाहनगर फर्शी पत्थर 1.07  हेक्टेयर
2. राम सिंह यादव पिता अमृत लाल यादव निवासी मोहड़िया,                पवई 18. 09. 18   मोहड़िया, फर्शी पत्थर 1.10  हेक्टेयर
3. नीलेष पाण्डेय पिता रामऔतार       पाण्डेय निवासी पवई  26. 02. 19    कढ़ना, फर्शी पत्थर 1.25  हेक्टेयर
4.   कन्हैया स्टोन प्रोप्राइटर अनुराज सिंह यादव निवासी                पन्ना  26. 02. 19 टिकरिया, फर्शी पत्थर 2.23  हेक्टेयर
5. देवी सिंह पिता हुकुम सिंह            निवासी पिपरहा 29. 01. 19 कुटरहिया , फर्शी पत्थर 1.562 हेक्टेयर
6. भूपेन्द्र सिंह पिता जयपाल             निवासी शाहनगर 17. 12. 18  घोना, फर्शी पत्थर 1.15   हेक्टेयर
7. बहोरी लाल पिता मुन्नीलाल   विश्वकर्मा निवासी सलेहा 17. 12. 18 बछौन, फर्शी पत्थर 1.134 हेक्टेयर
8. देवेन्द्र सिंह पिता पंचम सिंह यादव निवासी किशोरगंज                   पन्ना 26. 02. 19 तालगॉव, फर्शी पत्थर 1.00   हेक्टेयर
9. जीतेन्द्र सिंह पिता देवेन्द्र सिंह       निवासी शिकारपुरा 26. 02. 19 कोंड़ा, फर्शी पत्थर 1.21   हेक्टेयर
10. बालेन्द्र सिंह पिता नारायण          सिंह, निवासी पवई 27. 12. 18 घुटेही, फर्शी पत्थर 1.07   हेक्टेयर
11. लोकेन्द्र सिंह पिता प्रहलाद सिंह निवासी बड़खेरा, पवई 13. 09. 18  कैमुरिया, फर्शी पत्थर  1.06 हेक्टेयर
12. प्रहलाद पिता हरिराम तिवारी         निवासी कैंथी, पवई 26. 09. 18 झरकुआ, क्रेशर गिटटी 2.00  हेक्टेयर
13.

डायमण्ड स्टोन क्रेशर प्रोप्राइटर      श्रीकांत दीक्षित, पन्ना

21. 02. 19 बिलघाड़ी, क्रेशर गिटटी 1.60 हेक्टेयर
14. पुष्पराज सिंह पिता अवधराज सिंह निवासी तहसील नागौद 26. 02. 19  बिल्हा, क्रेशर गिटटी 1.30 हेक्टेयर
15. पुष्पराज सिंह पिता अवधराज सिंह निवासी तहसील नागौद 12. 03. 18 बिल्हा, क्रेशर गिटटी 1.08 हेक्टेयर
16. संतोष कुमारी पत्नि परषराम पटेल निवासी कोठी पवई 03. 03. 19 कोठी, फर्शी पत्थर 1.04 हेक्टेयर
17. साबरा बानो पत्नि चॉद मोहम्मद निवासी सलेहा सैद्धांतिक स्वीकृति लिलवार, फर्शी पत्थर  1.00 हेक्टेयर
18. शम्भवी एसोसिएटस, प्रोप्राइटर       संजय नगायच 26.. 09. 18 झरकुआ , क्रेशर गिटटी 3.4 हेक्टेयर