भीषण सड़क हादसों से दहल उठा पन्ना, 2 की मौत, 23 घायल

0
2324

शाहनगर-बोरी मार्ग पर उमेही नाला में गिरी बस

रेत लेने जा रहे डम्फर ने बाईक सवाराेें को कुचला

शाहनगर/अजयगढ़। रडार न्‍यूज 24 घंटे के अंदर हुए दो भीषण सड़क हादसों से पन्ना जिला दहल उठा है। यहां शाहनगर-बोरी मार्ग पर एक बस अचानक अनियंत्रित होकर सूखे पड़े उमेही नाला में गिर गई। इस हादसे में बस में सवार रहे 22 यात्री घायल हुए है। जिनमें आधा यात्रियों की गंभीर हालत को देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए पड़ोसी जिला कटनी रेफरल किया गया है।

बेलगाम ट्रक की ठोकर लगने से मृत युवक।

सड़क हादसा रविवार की सुबह 9ः30 बजे मेहगवां सरकार ग्राम के समीप हुआ। घायलाेें में महिलायें, बच्चे और वृद्ध शामिल है। वहीं मध्‍य रात्रि में जिले के अजयगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत अजयगढ़-बीरा मार्ग पर एक तेज रफतार ट्रक के चालक ने अत्यंत ही लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाते हुए सामने से आ रहे तीन बाईक सवारों को कुचल दिया। इस दर्दनाक हादसे में एक ही परिवार के दो युवाओं का दुखांत हो गया। जबकि बाईक में पीछे बैठे तीसरे युवक रामचन्द्र यादव 21 वर्ष की बेहद गंभीर हालत को देखते हुए उसे मेडिकल काॅलेज के लिए रेफरल किया गया है। प्रत्यक्षदर्शी प्रमोद कुमार यादव ने बताया कि ट्रक की ठोकर इतनी भीषण थी कि बाईक सवार रामकिशन यादव की मौके पर ही मौत हो गई।
इलाज में लापरवाही पर परिजनों ने किया हंगामा-

गंभीर रूप से घायल दोनों युवकों को देर रात उपचार हेतु जब सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अजयगढ़ लाया गया तो वहां ड्यूटी पर तैनात डाॅक्टर व पैरामेडिकल कर्मचारियों की घोर लापरवाही के चलते समय पर समुचित इलाज न मिलने के कारण घायल जगतराज यादव की मौत हो गई। स्वास्थ्य केन्द्र में व्याप्त अव्यवस्थाओं और इलाज के आभाव में घायल युवक की मौत होने से बेहद तनावपूर्ण स्थिति निर्मित हो गई। दो-दो जवान बेटों को खोने से आक्रोशित परिजन भड़क उठे और स्वास्थ्य केन्द्र में जमकर हंगामा करते हुए घायल की मौत के लिए चिकित्सक को दोषी ठहराने लगे। पीड़ित परिजनों का आरोप है कि घायल जगतराज और रामचंद्र यादव का सही तरीके से उपचार नहीं किया गया। जिन्दगी और मौत से जूझ रहे रामचन्द्र को मेडिकल काॅलेज रीवा ले जाने के लिए तत्परता से वाहन उपलब्ध नहीं कराया गया। प्राईवेट वाहन से घायल रामचन्द्र को ले जाने के लिए उसकी जीवन सुरक्षा और मानवता को दरकिनार करते हुए आक्सीजन सिलेण्डर देने से अस्पताल प्रबंधन ने मना कर दिया। मौके पर मौजूद पुलिस बल ने सूझबूझ काम लेते हुए किसी तरह स्थिति को संभाला। बेलगाम ट्रक की सीधी ठोकर लगने से असमय कालकवलित हुअा रामकिशन यादव पिता राममिलन यादव 35 वर्ष दो मासूम बच्चियों का पिता था। जबकि मृतक जगतराज यादव और घायल रामचन्द्र यादव अविवाहित बताये जा रहे है। हादसा उस समय हुआ जब बेहद तेज गति से दौड़ रहा ट्रक रेत लेेने के लिए बीरा खदान की ओर जा रहा था। ठीक उसी समय एक वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होकर रामकिशन यादव और जयराम यादव या एक अन्य युवक मोटरसाईकिल से वापिस अपने गांव मझगांय लौट रहे थे। रास्ते में तेज रफतार ट्रक ने इन बाईक सवारों को कुचल दिया।
खिड़कियां तोड़कर बाहर निकले यात्री-

रविवार की सुबह करीब 9ः30 बजे मुन्ना राजा कम्पनी की बस क्रमांक-एमपी-19पी – 0271 रैपुरा से वाया बोरी कटनी जा रही थी। रास्ते में ग्राम मेहगवां सरकार के समीप उमेही नाला के रपटे पर बस अचानक अनियंत्रित होकर सूखे नाले में गिर गई। हादसे के समय बस मेें सवार रहे यात्रियों के घायल होने की चीख-पुकार गूंजने लगी। दुर्घटनग्रस्त बस से बाहर निकलने के लिए भगदड़ सी मच गई। बस के क्लीनर की ओर पलटने के कारण दोनों गेट नीचे दब गये। इस स्थिति में यात्री खिड़कियों को तोड़कर किसी तरह बाहर निकल सके। शाहनगर के समीप हुए इस हादसे की सूचना मिलते ही डायल 100 पुलिस और संजीवनी 108 एम्बूलेंस थोड़ी ही देर में मौके पर पहुंच गई। राहगीरों और पुलिस की मदद से सभी घायलाेें को शाहनगर लाकर स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मेें प्राथमिक उपचार कराया गया। इस हादसे में आधा दर्जन ग्रामीणों की नाजुक हालत देखते हुए उन्हें जिला चिकित्सालय कटनी के लिए रेफरल किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here