लोकसभा चुनाव | 7 चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई के बीच होंगे लोकसभा चुनाव, 23 मई को आएँगे नतीजे

0
1232
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा चुनावों की तारीखों का ऐलान करते हुए।

* 90 करोड़ मतदाता 10 लाख पोलिंग बूथ पर करेंगे मतदान

* मध्य प्रदेश में चार चरणों में होंगे लोकसभा के चुनाव

* खजुराहो संसदीय सीट पर 06 मई को होगी वोटिंग

* चार राज्यों अरुणाचल, सिक्किम, आंध्र प्रदेश, ओडिशा के विधानसभा चुनाव भी होंगे साथ

नई दिल्ली। रडार न्यूज   भारत निर्वाचन आयोग ने लोकसभा के साथ ही चार राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। रविवार 10 मार्च की शाम मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि देश में लोकसभा चुनाव सात चरणों में कराया जाएगा। 11 अप्रैल,18 अप्रैल, 23 अप्रैल, 06 मई, 12 मई, 19 मई को वोटिंग होगी। उन्होंने बताया कि इस बार लोकसभ चुनाव में कुल 90 करोड़ मतदाता हैं। जिसमें 8 करोड़ से अधिक नए मतदाता शामिल हैं। डेढ़ करोड़ मतदाता 18-19 वर्ष के हैं। मतदाताओं की सुविधा की दृष्टि से 10 लाख मतदान केंद्र बनाए गए है। कुल मतदाताओं में से 99.3 प्रतिशत के पास मतदाता परिचय पत्र उपलब्ध है। लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही देश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। श्री अरोड़ा ने बताया कि इस बार पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा और नतीजे 23 मई को आएँगे। उल्लेखनीय है कि जम्मू कश्मीर में फ़िलहाल विधानसभा चुनाव नहीं होंगे, वहाँ सिर्फ लोकसभा के लिए वोटिंग होगी। जबकि जम्मू कश्मीर की अनंतनाग लोकसभा सीट पर सुरक्षा कारणों के चलते तीन चरण में मतदान होगा।

आचार संहिता उल्लंघन पर होगी कार्रवाई

सांकेतिक फोटो।
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि लोकसभा चुनाव के लिए हेल्पलाइन नंबर-1950 होगा। मोबाइल ऐप के माध्यम से भी आयोग को आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दे जा सकती है। इन शिकायतों पर 100 मिनिट के भीतर तत्परता से हमारे अधिकारी को कार्रवाई करनी होगी। शिकायतकर्ता की निजता का ध्यान रखा जायेगा। उन्होंने बताया कि यदि प्रत्याशी फार्म 26 की जानकारियाँ नहीं भरता तो उसका नामांकन रद्द हो जाएगा। इसके अलावा बिना पैन कार्ड वाले उम्मीदवारों का नामांकन भी रद्द होगा।

कब कितनी सीटों पर होगी वोटिंग

मुख्य चुनाव आयुक्त द्वारा लोकसभा चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार – 11 अप्रैल को 91, 18 अप्रैल को 97, 23 अप्रैल को 115, 06 मई को 51, 12 मई को 59 और 19 मई को 59 सीटों पर वोटिंग होगी। चुनावी नतीजे 23 मई 2019 को आएँगे। जून माह के पहले सप्ताह तक लोकसभा का गठन हो जाएगा। देश में लोकसभा की 543 सीटें हैं बहुमत के लिए किसी भी दल या गठबंधन को 272 सीटों की जरुरत होगी। मालूम हो कि सिक्किम, आंध्रप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश में लोकसभा के ही साथ विधानसभा चुनाव के लिए एक चरण में 11 को वोटिंग होगी। जबकि ओडिशा में चार चरणों 11, 18, 23, और 29 को मतदान होगा।

यूपी-बिहार और बंगाल में सात चरण में चुनाव

सांकेतिक फोटो।
प्राप्त जानकारी अनुसार इस बार के लोकसभा चुनाव में देश के तीन प्रमुख राज्यों उत्तर प्रदेश, बिहार और बंगाल में सर्वाधिक सात चरण में चुनाव होंगे। जबकि पंजाब, तमिलनाडु, उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश, अरुणाचल, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल, केरल, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम, तेलंगाना, अंडमान-निकोबार, दादर नगर हवेली, दमन दीव, लक्ष्यद्वीप, दिल्ली, चंडीगढ़, पुडुचेरी में एक चरण में चुनाव होगा। कर्नाटक, मणिपुर, त्रिपुरा, राजस्थान में दो चरण में, छत्तीसगढ़ और असम में तीन चरण में वोटिंग होगी। मध्यप्रदेश, ओडिशा, महाराष्ट्र, झारखंड में चार चरण में और जम्मू-कश्मीर में पांच चरणों में मतदान होगा। मुख्य चुनाव आयुक्त ने पत्रकारों को बताया कि लोकसभा चुनाव के साथ चार राज्यों अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, आंध्र प्रदेश, ओडिशा में विधानसभा चुनाव होंगे। जम्मू कश्मीर में फ़िलहाल विधानसभा चुनाव नहीं होंगे, वहां 3 पर्यवेक्षक नियुक्त किये गए हैं जिनकी रिपोर्ट आने के बाद चुनाव की घोषणा की जाएगी।

एमपी में 29 अप्रैल से चार चरण में होगा मतदान

सांकेतिक फोटो।
मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्हीएल कांताराव ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश की कुल 29 लोकसभा सीटों में कुल चार चरणों में मतदान होगा जिसमें पहले चरण का मतदान 29 अप्रैल को होगा। मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड अंचल की खजुराहो सीट पर 06 मई को मतदान होगा। चरणवार एवं सीटवार मतदान की तिथियाँ इस प्रकार हैं-
29 अप्रैल लोकसभा सीट- 6 : शहडोल, जबलपुर, मंडला, बालाघाट, छिंदवाड़ा, सीधी।
06 मई लोकसभा सीट- 7 : खजुराहो, सतना, रीवा, होशंगाबाद और बैतूल, टीकमगढ़, दमोह।
12 मई लोकसभा सीट- 8 : मुरैना, भिंड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल, राजगढ़।
19 मई लोकसभा सीट- 8 : उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, खंडवा, खरगोन, इंदौर, देवास।