लोकसभा निर्वाचन-2019 : नक्सल प्रभावित बालाघाट जिले में बरती जा रही विशेष सतर्कता, अतिरिक्त सुरक्षा बल होगा तैनात

0
600
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही.एल. कांता राव ने बालाघाट जिले में लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों एवं सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की।

* बालाघाट जिले में 80 प्रतिशत से अधिक मतदान सुनिश्चित करने के प्रयास

* सीईओ श्री कान्ता राव ने मतदान के लिये सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की

भोपाल। रडार न्यूज  मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही.एल. कान्ता राव ने आज बालाघाट जिला मुख्यालय में लोकसभा चुनाव की तैयारियों एवं सुरक्षा व्यवस्था की विस्तृत समीक्षा की। श्री राव ने कहा कि नक्सली समस्या के कारण भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर बालाघाट जिले में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। वर्ष 2014 में हुए लोकसभा निर्वाचन की अपेक्षा इस वर्ष प्रदेश को अधिक सुरक्षा बल उपलब्ध करवाया जा रहा है। श्री राव ने बताया कि प्रदेश को जो अतिरिक्त सुरक्षा बल मिलेगा, उसे बालाघाट जिले में ही तैनात किया जायेगा। उन्होंने पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के अधिकारियों के साथ जिला प्रशासन द्वारा स्थापित समन्वय की सराहना की।

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में प्रात: 7 से अपरान्ह 4 बजे तक मतदान

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही.एल. कान्ता राव ने कहा कि बालाघाट जिले के नक्सल प्रभावित 3 विधानसभा क्षेत्र बैहर, लांजी एवं परसवाड़ा के मतदान केन्द्रों पर प्रात: 7 बजे से अपरान्ह 4 बजे तक मतदान कराया जायेगा। शेष विधानसभा क्षेत्रों के मतदान केन्द्रों पर प्रात: 7 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए मतदान के दिन सभी मतदान केन्द्रों पर छाया और पानी की व्यवस्था की जायेगी।
मतदान प्रतिशत में बालाघाट जिला प्रदेश में अग्रणी रहा है। लोकसभा निर्वाचन-2019 में बालाघाट जिले में 80 प्रतिशत से भी अधिक मतदान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे हैं। समीक्षा बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक जी.पी. सिंह, महानिरीक्षक कानून-व्यवस्था योगेश चौधरी, पुलिस महानिरीक्षक बालाघाट रेंज के.पी. व्यंकटेश्वर राव, संभागायुक्त जबलपुर राजेश बहुगुणा और जिला कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक उपस्थित थे।

मतदाता जागरूकता के लिये ‘रोड ऑफ डेमोक्रेसी”

युवाओं द्वारा बनाई गई रंगोली और पेंटिंग्स का अवलोकन करते सीईओ।
श्री कान्ता राव ने मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत बालाघाट में अम्बेडकर चौक से जय स्तम्भ चौक तक की सड़क को ‘रोड ऑफ डेमोक्रेसी” घोषित किये जाने की सराहना की। उन्होंने इस रोड पर युवाओं और छात्र-छात्राओं द्वारा बनाई गई निर्वाचन संबंधी रंगोली और पेंटिंग का अवलोकन भी किया।