8 वीं पास युवती ने पुलिस को बनाया बेवकूफ, 10 साल बाद हुआ पर्दाफाश

0
476

भोपाल। रडार न्यूज 10 सालों तक मध्यप्रदेश पुलिस पर रौब झाडने वाली इंदौर की 8वी पास लडकी की हैरान करने वाली कहानी सामने आई है। 10 तक एडीजी की बहन बनकर सीएसपी से लेकर टीआई पर रौब जमाती रही, लेकिन किसी को भनक तक नहीं लगी। वह कई पुलिस अधिकारियों के संपर्क में रही और उनसे काम निकालती रही। इंदौर ही नहीं बल्कि भोपाल और उज्जैन की मैस में भी पुलिस अफसर उसे वीआईपी ट्रीटमेंट देते थे। इस मामले के खुलासे के बाद पुलिस ने आरोपी महिला और उसके बॉयफ्रैंड कृष्णा राठौर को गिरफ्तार कर लिया। एडीजीपी अजय शर्मा ने बताया कि युवती का नाम सोनाली शर्मा है वह मरीमाता चैराहा स्थित पुलिस ऑफिसर मेस में लंबे समय से अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) इंदौर रेंज कि छोटी बहन होने कि भ्रामक जानकारी देकर रह रही थी। डीजीपी के अनुसार सोनाली पहली बार 2008 में रिटायर्ड डीजी लोकायुक्त कापदेव के रिफरेंस पर उनकी बेटियों के साथ ऑफिसर मैस में ठहरी थी। बाद में इसने पुलिस अधिकारियों से पहचान बनाई और उनकी रिश्तेदार बताकर फायदा उठाना शुरू कर दिया।

एडीजी की बहन बनकर उसने कई बड़े अधिकारियों से संबंध बनाए। सूबे में कई ट्रांसफर और पोस्टिंग तक करवाया। यही नहीं पुलिस अधिकारियों ने उसे गाड़ी और गनमैन जैसी सुविधाएं भी दे रखी थी। इस दौरान महिला द्वारा अत्यधिक रोब झाडने पर मेस संचालन में तैनात अधिकारियों को उस पर शक हुआ। एडीजी से पूछताछ पर मामले का खुलासा हुआ। एडीजी ने बताया कि उनकी तो कोई बहन ही नहीं है जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आरोपी महिला मंगलवार देर रात हिरासत में ली गई। सीएसपी कामठ के अनुसार महिला की पहचान सोनिया शर्मा (27) पिता सी एल शर्मा निवासी होशंगाबाद के रूप में हुई है। पूछताछ में उसने कई नेताओं और अफसरों से संपर्क का दावा किया है। बताया जा रहा है कि सोनिया ने हाल ही में प्लास्टिक सर्जरी भी कराई थी। इस घटना ने पुलिस के  लिये कई सबक छोड दिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here