बेटों को हुई सजा का बदला लेने पिता ने की फायरिंग

0
1255

गोली लगने से दो व्यक्ति घायल

शाहनगर थाना के जुगरवारा गांव की घटना

पन्ना/शाहनगर। रडार न्यूज़ पुरानी रंजिश के चलते शाहनगर थाना के जुगरवारा गांव में शनिवार की रात करीब 9 बजे बिहारी पिता मूरत सिंह ठाकुर ने किराना व्यापारी लाड़ले यादव को जान से मारने की नियत से अपनी भरतल बंदूक से फायर कर दिया। गोली लगने से किराना व्यापारी लहुलुहान हालत में मौके पर ही बेसुध होकर गिर पड़ा। वहीं गोलीवारी की इस घटना के समय किराना दुकान में गुड़ खरीदने आया ग्रामसेवक यादव पिता रामविशाल यादव 40 वर्ष की हथेली में गोली लगने से उसकी दो उंगलिया उड़ गई। फायरिंग की घटना को अंजाम देने के बाद से बिहारी सिंह ठाकुर 60 वर्ष फरार है। उधर गोलीबारी में घायल लाड़ले यादव को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहनगर में प्राथमिक उपचार के बाद कटनी के लिए रेफरल किया गया है। पड़ोसी जिला कटनी के एमजीएम अस्पताल में भर्ती लाड़ले यादव की हालत गंभीर बताई जा रही है। शनिवार को इस घटना की सूचना मिलने पर ग्राम जुगरवारा पहुंचे शाहनगर थाना में पदस्थ उप निरीक्षक निरंकार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 2015 में लाड़ले यादव के पिता रामभगत यादव की बिहारी सिंह ठाकुर के पुत्रों ने हत्या कर दी थी। इस मामले में बिहारी सिंह के पुत्र वीर सिंह ठाकुर, बलवीर सिंह ठाकुर, नाति सुमेर उर्फ भूरा सिंह, जगत सिंह, बृजेन्द्र सिंह सहित पांच व्यक्ति अजीवन कारावास की सजा भुगत रहे है। इसी बुराई के चलते बिहारी सिंह ठाकुर ने रामभगत यादव की तरह उसके पुत्र लाड़ले यादव की हत्या कर अपने बेटों की सजा का बदला लेने की मंशा से गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया है।

गांव में दहशत का माहौल-

उल्लेखनीय है कि मौके पर पहुंचे एसआई निरंकार सिंह द्वारा रात्रि में घायल लाड़ले यादव व ग्रामसेवक यादव को 108 एम्बूलेंस वाहन से उपचार हेतु शाहनगर पहुंचाया गया। इस घटना पर थाना पुलिस ने आरोपी बिहारी सिंह ठाकुर के विरूद्ध अपराध क्रमांक 186/18 धारा 294, 307 आईपीसी के तहत् प्रकरण पंजीबद्ध कर मामले को विवेचना में लिया है। शाहनगर थाना प्रभारी शंकर सिंह ठाकुर ने स्थानीय संवादाता संजय त्रिपाठी से अनौपचारिक चर्चा में गोलीकाण्ड के आरोपी को शीघ्र गिरफतार करने की बात कही है। उधर इस खूनी रंजिश के चलते ग्राम जुगरवारा में तनाव और दहशत का माहौल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here